अभ्यास वर्ग में सीखा शिक्षा व ग्राम विकास का कार्य Reviewed by Momizat on . पटना (विसंकें). वनवासी कल्याण आश्रम द्वारा आयोजित प्रखंड प्रमुखों के अभ्यास वर्ग में शिक्षा व ग्राम विकास के विभिन्न आयामों की जानकारी दी गई. कार्यकर्ताओं को स् पटना (विसंकें). वनवासी कल्याण आश्रम द्वारा आयोजित प्रखंड प्रमुखों के अभ्यास वर्ग में शिक्षा व ग्राम विकास के विभिन्न आयामों की जानकारी दी गई. कार्यकर्ताओं को स् Rating: 0
You Are Here: Home » अभ्यास वर्ग में सीखा शिक्षा व ग्राम विकास का कार्य

अभ्यास वर्ग में सीखा शिक्षा व ग्राम विकास का कार्य

पटना (विसंकें). वनवासी कल्याण आश्रम द्वारा आयोजित प्रखंड प्रमुखों के अभ्यास वर्ग में शिक्षा व ग्राम विकास के विभिन्न आयामों की जानकारी दी गई. कार्यकर्ताओं को स्वास्थ्य, श्रद्धा जागरण, कौशल विकास इत्यादि के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई. केंद्र व राज्य सरकार द्वारा वनवासियों के विकास हेतु चलाए जा रहे, विभिन्न प्रकल्पों की जानकारी भी अभ्यास वर्ग में दी गई.

अभ्यास वर्ग की जानकारी देते हुए बिहार प्रदेश के संगठन मंत्री विनोद उपाध्याय ने बताया कि अभ्यास वर्ग का उद्देश्य वनवासी समाज को विकास के मुख्य धारा में लाकर उनका सर्वांगीण विकास करने के लिए जानकारी देना है. कल्याण आश्रम द्वारा समय-समय पर वनवासियों के बीच कई कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं. कई प्रकल्प भी उनके विकास के लिए चलाए जा रहे हैं. 19 व 20 मार्च को पश्चिम चंपारण के 12 स्थानों पर स्वास्थ्य शिविर लगाया गया था, जिसमें 20 चिकित्सकों ने 2500 मरीजों की स्वास्थ्य की जांच कर उन्हें आवश्यक सुझाव दिए.

प्रखंड प्रमुखों के अभ्यास वर्ग का उद्घाटन 27 मार्च को निदेशक डॉ. गिरिश कुमार सिंह ने किया था. इस अवसर पर एक दृष्टि-पत्र भी प्रस्तुत किया गया, जिसमें पूरे देश के जनजातियों के बारे में विस्तार से चर्चा की गई. 29 मार्च को अभ्यास वर्ग का समापन होगा. प्रखंड प्रमुखों के अभ्यास वर्ग को संस्था के अखिल भारतीय सह शिक्षा प्रमुख बृजमोहन मंडल, अखिल भारतीय संपर्क प्रमुख मणिराम पाल, राष्ट्रीय आयुर्विज्ञान संस्था के डॉ. बृजेंद्र, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य सुरेश पाठक, विश्व हिंदू परिषद् के केंद्रीय मंत्री ओम प्रकाश गर्ग ने संबोधित किया.

About The Author

Number of Entries : 3679

Leave a Comment

Scroll to top