केरल: संघ के स्वयंसेवक की हत्या, हड़ताल से जनजीवन प्रभावित Reviewed by Momizat on . तिरुवनंतपुरम. कन्नूर जिले में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के जिला शारीरिक शिक्षण प्रमुख की हत्या के बाद संगठन द्वारा केरल में बुलाई गई एक दिवसीय हड़ताल से सामान्य जी तिरुवनंतपुरम. कन्नूर जिले में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के जिला शारीरिक शिक्षण प्रमुख की हत्या के बाद संगठन द्वारा केरल में बुलाई गई एक दिवसीय हड़ताल से सामान्य जी Rating: 0
You Are Here: Home » केरल: संघ के स्वयंसेवक की हत्या, हड़ताल से जनजीवन प्रभावित

केरल: संघ के स्वयंसेवक की हत्या, हड़ताल से जनजीवन प्रभावित

Kunnur Newsतिरुवनंतपुरम. कन्नूर जिले में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के जिला शारीरिक शिक्षण प्रमुख की हत्या के बाद संगठन द्वारा केरल में बुलाई गई एक दिवसीय हड़ताल से सामान्य जीवन प्रभावित हुआ है. शुरुआती खबरों में कहा गया है कि राज्यभर में बस, टैक्सी और ऑटोरिक्शा सड़कों से नदारद हैं और दुकानें बंद हैं.

राज्य सरकार ने शैक्षणिक संस्थानों के लिये एक दिन की छुट्टी की घोषणा की है और कॉलजों एवं विश्वविद्यालयों ने आज होने वाली परीक्षायें स्थगित कर दी हैं. पुलिस ने कहा कि बसों पर पथराव की छिटपुट घटनाओं के अलावा कहीं से किसी बड़ी हिंसा की खबर नहीं आई है.

शारीरिक प्रमुख मनोज (42) पर उत्तरी केरल के कन्नूर जिले में राजनीतिक रूप से संवेदनशील कथिरूर में सोमवार, 1 सितंबर को हमला किया गया था. इस हमले में दो अन्य लोग भी घायल हो गये थे, जिनमें से एक की हालत गंभीर है.

मनोज और उनके साथी जिस कार में थे, उस पर देशी बम फेंके गये थे. संघ और भाजपा के स्थानीय कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया कि हत्या के पीछे माकपा का हाथ है और उन्होंने आज राज्य में सुबह से शाम तक के लिये हड़ताल का आह्वान किया. पुलिस ने कहा कि चार लोगों को इस घटना के संबंध में पूछताछ के लिये हिरासत में लिया गया है. ये चारों माकपा के कार्यकर्ता बताये जाते हैं.

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह सोमवार को राज्य में ही थे. उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं के एक सम्मेलन में इस हत्या की निंदा की. पार्टी ने इस हड़ताल को समर्थन देने का संकल्प लिया है. जिस क्षेत्र में संघ और माकपा कार्यकर्ताओं के बीच बीते समय में हिंसा हुई, वहां पिछले कुछ सालों में आम तौर पर शांत ही रही है. लेकिन हाल के समय में माकपा द्वारा संघ कार्यकर्ताओं को कथित तौर पर निशाना बनाये जाने से तनाव दोबारा उभर आया.

 

About The Author

Number of Entries : 3679

Leave a Comment

Scroll to top