जम्मू बंद सहित देश के सभी जिला मुख्यालयों पर विहिप का प्रदर्शन आज Reviewed by Momizat on . नई दिल्ली. जम्मू कश्मीर में हुए एक और जिहादी हमले में सुरक्षा बलों के 42 जवान शहीद हो चुके हैं. यह कार्य धर्म के नाम पर जुनूनी बनाए गए एक स्थानीय युवक ने किया. नई दिल्ली. जम्मू कश्मीर में हुए एक और जिहादी हमले में सुरक्षा बलों के 42 जवान शहीद हो चुके हैं. यह कार्य धर्म के नाम पर जुनूनी बनाए गए एक स्थानीय युवक ने किया. Rating: 0
You Are Here: Home » जम्मू बंद सहित देश के सभी जिला मुख्यालयों पर विहिप का प्रदर्शन आज

जम्मू बंद सहित देश के सभी जिला मुख्यालयों पर विहिप का प्रदर्शन आज

नई दिल्ली. जम्मू कश्मीर में हुए एक और जिहादी हमले में सुरक्षा बलों के 42 जवान शहीद हो चुके हैं. यह कार्य धर्म के नाम पर जुनूनी बनाए गए एक स्थानीय युवक ने किया. यह आत्मघाती हमला था, जिसमें वह भी मारा गया. इस युवक ने पहले से रिकार्ड किए गए एक वीडियो संदेश में कहा है कि जब यह वीडियो अपलोड किया जाएगा, वह जन्नत में होगा. जैश ए मुहम्मद ने इस घटना की जिम्मेदारी भी ली है. स्पष्ट है की नौजवान लोगों को धर्म के नाम पर गुमराह कर भर्ती किया जा रहा है और उनके द्वारा हत्याएं, सम्पत्ति का विनाश तथा आपराधिक कार्य जिहाद व जन्नत के सुखों के लिए करवाए जा रहे हैं.

यह एक वैश्विक चुनौती है और विश्व समुदाय को इन घटनाओं तथा उनको जन्म देने वाली विचारधारा का सामना करने के लिए खड़ा होना होगा. विशेष तौर पर उन लोगों को अब आगे आना जरूरी है जो मानते हैं कि इस्लाम विश्व बंधुत्व व शान्ति का धर्म है.

जैश ए मुहम्मद पाकिस्तान स्थित व पाक-समर्थित आतंकी संगठन है. उसके प्रमुख अजहर मसूद को आतंकी घोषित करने में चीन का वीटो अवरोध बना है. इस अपवित्र गठजोड़ को रोकना होगा.

हम विश्वास करते हैं कि भारत सरकार इस सम्बन्ध में संकल्प पूर्वक सभी आवश्यक कदम उठाएगी जिनमें पाक तथा पाक-अधिकृत कश्मीर में चल रहे सभी आतंकी अड्डों को नष्ट करना सामिल है. यह छद्मयुद्ध नहीं बल्कि प्रत्यक्ष युद्ध है और हमें आशा है कि भारत सरकार उसका उसी तरह जबाव देगी.

घटना के विरोध में विहिप कार्यकर्ताओं द्वारा आज जम्मू बंद के साथ देश के सभी जिला मुख्यालयों पर विरोध प्रदर्शन कर आतंकी पाकिस्तान का पुतला दहन किया जाएगा. दिल्ली में यह प्रदर्शन आज दोपहर 12 बजे जंतर मंतर पर रहेगा.

आलोक कुमार, एडवोकेट, कार्याध्यक्ष, विश्व हिन्दू परिषद् , नई दिल्ली

About The Author

Number of Entries : 5054

Leave a Comment

Scroll to top