दरिद्र नारायण की सेवा प्रत्येक सामर्थ्यवान व्यक्ति का सामाजिक दायित्व – अजीत महापात्रा जी Reviewed by Momizat on . गोरक्ष. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय गौ सेवा प्रमुख अजीत महापात्रा जी ने कहा कि समाज के उपेक्षित बन्धुओं की सेवा करना, उनको मुख्य धारा से जोड़ने का प्र गोरक्ष. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय गौ सेवा प्रमुख अजीत महापात्रा जी ने कहा कि समाज के उपेक्षित बन्धुओं की सेवा करना, उनको मुख्य धारा से जोड़ने का प्र Rating: 0
You Are Here: Home » दरिद्र नारायण की सेवा प्रत्येक सामर्थ्यवान व्यक्ति का सामाजिक दायित्व – अजीत महापात्रा जी

दरिद्र नारायण की सेवा प्रत्येक सामर्थ्यवान व्यक्ति का सामाजिक दायित्व – अजीत महापात्रा जी

गोरक्ष. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय गौ सेवा प्रमुख अजीत महापात्रा जी ने कहा कि समाज के उपेक्षित बन्धुओं की सेवा करना, उनको मुख्य धारा से जोड़ने का प्रयत्न करना यह समाज के प्रत्येक सामर्थ्यवान व्यक्ति की जिम्मेदारी है. यदि हम वंचित समाज के इन बंधुओं के लिए आगे नहीं आएंगे तो हमारी उपेक्षा के शिकार हमारे अपने ही बंधुओं को भड़का कर देश विरोधी ताकतें उन्हें हमारे ही देश और समाज के खिलाफ खड़ा करने का षड्यंत्र करेंगी. पूर्व में ऐसे प्रयास किये भी गए. उन्होंने कहा कि सेवा कार्य करते हुए मन में यह पवित्र भाव होना चाहिए कि हम एक व्यक्ति की सेवा नहीं, अपितु साक्षात प्रभु की ही सेवा कर रहे हैं. हृदय में इस भाव के साथ सेवा करने से ही हमारी सेवा सार्थक होती है. अजीत महापात्रा जी गोरखपुर के आर्यनगर स्थित सरस्वती विद्या मन्दिर में राष्ट्रीय सेवा भारती गोरक्ष प्रान्त के वार्षिकोत्सव में मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित कर रहे थे. इससे पहले कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि अजीत महापात्रा जी व अन्य अतिथियों ने भारत माता के चित्र के समक्ष दीप प्रज्ज्वलित कर किया. कार्यक्रम में गोरखपुर महानगर में संचालित सेवा भारती के संस्कार केन्द्रों के बच्चों द्बारा नृत्य व गायन की प्रस्तुति दी गई. कार्यक्रम में प्रमुख रूप से क्षेत्र सेवा प्रमुख पूर्वी उत्तर प्रदेश नवल किशोर जी, प्रान्त सेवा प्रमुख गोरक्ष प्रान्त यशोदानन्द जी, सह विभाग प्रचारक बैरिस्टर जी, डॉ. महेन्द्र अग्रवाल जी, सहित अन्य उपस्थित थे.

About The Author

Number of Entries : 3577

Leave a Comment

Scroll to top