प्रतिभागियों ने सीखा स्वयं का चैनल बनाना Reviewed by Momizat on . राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रचार विभाग की सोशल मीडिया कार्यशाला जोधपुर (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ जोधपुर महानगर के प्रचार विभाग के तत्वाधान में एक दिवसीय राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रचार विभाग की सोशल मीडिया कार्यशाला जोधपुर (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ जोधपुर महानगर के प्रचार विभाग के तत्वाधान में एक दिवसीय Rating: 0
You Are Here: Home » प्रतिभागियों ने सीखा स्वयं का चैनल बनाना

प्रतिभागियों ने सीखा स्वयं का चैनल बनाना

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रचार विभाग की सोशल मीडिया कार्यशाला

जोधपुर (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ जोधपुर महानगर के प्रचार विभाग के तत्वाधान में एक दिवसीय सोशल मीडिया कार्यशाला का आयोजन कमला नेहरु नगर स्थित आदर्श विद्या मन्दिर के भव्य सभागार में किया गया. कार्यशाला में कुल 205 प्रतिभागियों ने भाग लिया. जोधपुर के सक्रिय सोशल मीडिया यूजर्स ने रविवार को वीडियो बनाकर स्वयं का चैनल चलाना सीखा.

महानगर प्रचार प्रमुख डॉ. अभिनव पुरोहित जी ने कहा कि प्रचार माध्यमों का सकारात्मक उपयोग हो, इसी ध्येय के साथ यह कार्यशाला आयोजित की गई. प्रान्त सोशल मीडिया प्रमुख डॉ. अनिल गुप्ता जी ने फेसबुक के सुरक्षा मानकों और अन्य विशिष्ट सुविधाओं पर विस्तार से प्रकाश डाला. यूजर्स को फेसबुक से कार्य समाप्त होने के बाद लॉग आउट होना बहुत जरुरी है.

कार्यशाला का द्वितीय सत्र यू ट्यूब वेब साइट पर था. डॉ. चन्द्रेश शर्मा जी ने प्रतिभागियों को यू ट्यूब वेब साइट पर अकाउंट खोलने, वीडियो अपलोड करने, स्वयं का चैनल बनाने की प्रक्रिया समझाई.

कार्यशाला का तृतीय सत्र ट्विटर पर था. अभिषेक पुरोहित जी ने हैशटैग करना, ट्रेण्ड करना एवं रिट्विट करने की प्रक्रिया को बताया. ट्विटर पर कोई प्राइवेसी पॉलिसी नहीं होती, अतः पूर्णतः सोच विचार कर उचित शब्दों के माध्यम से अपनी बात कहनी चाहिये.

कार्यशाला के समापन पर प्रान्त कार्यवाह श्याम मनोहर जी ने कार्यशाला की सार्थकता बताते हुए प्रतिभागियों से तकनीकों का अभ्यास व निरन्तर प्रयोग करने का आग्रह किया. उन्होंने राष्ट्र निर्माण के लक्ष्य को ध्यान में रखकर कलम का उपयोग करने का आह्वान किया. सोशल मीडिया के माध्यम से हमें समाज को जोड़ने का कार्य करना है. कार्यशाला का संचालन महानगर सोशल मीडिया प्रमुख डॉ. शैलेन्द्र शर्मा जी ने किया.

About The Author

Number of Entries : 3679

Leave a Comment

Scroll to top