बेटी से छेड़खानी का विरोध किया तो जहांगीर और आलम ने चाकू घोंप दिया Reviewed by Momizat on . नई दिल्ली. मोती नगर के बसई दारापुर में एक व्यक्ति ने बेटी से छेड़छाड़ का विरोध किया तो चाकू घोंप कर उसकी हत्या कर दी गई. मृतक की पहचान 51 वर्षीय धुव राज त्यागी नई दिल्ली. मोती नगर के बसई दारापुर में एक व्यक्ति ने बेटी से छेड़छाड़ का विरोध किया तो चाकू घोंप कर उसकी हत्या कर दी गई. मृतक की पहचान 51 वर्षीय धुव राज त्यागी Rating: 0
You Are Here: Home » बेटी से छेड़खानी का विरोध किया तो जहांगीर और आलम ने चाकू घोंप दिया

बेटी से छेड़खानी का विरोध किया तो जहांगीर और आलम ने चाकू घोंप दिया

नई दिल्ली. मोती नगर के बसई दारापुर में एक व्यक्ति ने बेटी से छेड़छाड़ का विरोध किया तो चाकू घोंप कर उसकी हत्या कर दी गई. मृतक की पहचान 51 वर्षीय धुव राज त्यागी के रूप में हुई है. इस दौरान पीड़िता का भाई भी घायल हो गया. पुलिस ने घटना में लिप्त 2 नाबालिगों सहित 4 लोगों को गिरफ़्तार किया है. गिरफ्तार आरोपियों में मोहम्मद आलम और जहांगीर खान शामिल हैं.

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार ध्रुव राज त्यागी अपने परिवार सहित बसई दारापुर में रहते हैं. रविवार रात वह बेटी और बेटे के साथ अस्पताल से लौट रहे थे. घर पहुँचने से कुछ दूर पहले ही पांच-छह लोगों ने उनका रास्ता रोक लिया और उनकी बेटी से छेड़छाड़ शुरू कर दी. पिता व भाई ने विरोध किया तो जहांगीर और आलम सहित अन्य साथियों ने रास्ता देने से मना कर दिया. त्यागी ने किसी तरह पहले अपनी बेटी को घर पहुँचाया और फिर लौट कर छेड़खानी कर रहे लड़कों के पिता से शिकायत करने पहुंचे. इसी दौरान उन पर धारदार हथियारों से हमला कर दिया. हमले में गंभीर रूप से घायल ध्रुव त्यागी को अस्पताल ले जाया गया, जहां सोमवार को उनकी मृत्यु हो गई. अपने पिता को बचाने आया पीड़िता का भाई भी बुरी तरह घायल हुआ है. अस्पताल में उपचार चल रहा है.

घटना में मुस्लिमों के आरोपित होने के कारण क्षेत्र में तनाव का माहौल है. क्षेत्र में पुलिस बल तैनात किया गया है. वारदात के समय लोग बीच-बचाव करने की जगह वीडियो बना रहे थे. घटना के बाद परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है.

पुलिस ने आईपीसी 302 (हत्या), 506 (आपराधिक धमकी) और 509 (महिला का अपमान) के तहत केस दर्ज कर पड़ोसी मोहम्मद आलम (20 साल) और जहांगीर खान (45 साल) को गिरफ्तार कर लिया है. दो नाबालिगों को भी पुलिस ने पकड़ा है. घटना के बाद आरोपी भाग गए थे. सोमवार को उन्हें विभिन्न स्थानों से दबिश देकर गिरफ्तार किया गया. दोनों नाबालिगों को ‘Observation Home’ में भेजा गया है.

एक बड़ा सवाल यह कि सेकुलर मीडिया को यह घटनाक्रम दिखाई देगा.

About The Author

Number of Entries : 5054

Leave a Comment

Scroll to top