भारतीय सेना ने पीओके में की एयर स्ट्राइक, संघ ने किया अभिनंदन Reviewed by Momizat on . 26 फरवरी सुबह 3.30 पर वायुसेना ने पाकिस्तान और पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर पर जैश ए मोहम्मद के 6 ठिकानों पर हमला कर ठिकानों को नेस्तनाबूत कर दिया. बालाकोट में स्थित 26 फरवरी सुबह 3.30 पर वायुसेना ने पाकिस्तान और पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर पर जैश ए मोहम्मद के 6 ठिकानों पर हमला कर ठिकानों को नेस्तनाबूत कर दिया. बालाकोट में स्थित Rating: 0
You Are Here: Home » भारतीय सेना ने पीओके में की एयर स्ट्राइक, संघ ने किया अभिनंदन

भारतीय सेना ने पीओके में की एयर स्ट्राइक, संघ ने किया अभिनंदन

26 फरवरी सुबह 3.30 पर वायुसेना ने पाकिस्तान और पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर पर जैश ए मोहम्मद के 6 ठिकानों पर हमला कर ठिकानों को नेस्तनाबूत कर दिया. बालाकोट में स्थित जैश ए मोहम्मद के इन ठिकानों से करीब 200 से 300 आतंकियों के मारे जाने की संभावना है. हमले में मौलाना मसूद अजहर (जैश ए मोहम्मद सरगना) का साला युसूफ अजहर उर्फ़ उस्ताद गौहरी भी मारा गया है. गौहरी कंधार अपहरण कांड में आरोपी था और इंटरपोल को उसकी तलाश थी.

विदेश सचिव विजय गोखले ने प्रेस वार्ता में बताया कि भारत ने असैन्य कार्रवाई करते हुए आतंकी कैंप को अपना निशाना बनाया. ‘इस अभियान में आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के कई आतंकियों, ट्रेनरों और फिदायीन हमलावरों को मार गिराया गया है. जेईएम देश के कई हिस्सों में कई और आत्मघाती हमले करने की फिराक में है. इसके लिए फिदायीन जिहादियों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है. ऐसे में भारत की ओर से दुश्मनों को थामने के लिए इस तरह का हमला करना बेहद आवश्यक हो गया था. भारत ने जेईएम के सबसे बड़े कैंप पर निशाना साधा है. भारत आतंकवाद से लड़ने के लिए सभी उपाय करने के लिए दृढ़ और संकल्पबद्ध है.’

उन्होंने यह भी कहा, कि ‘हम इस अभियान में किसी भी नागरिक को हताहत नहीं होने देना चाहते थे, इसी को ध्यान में रखते हुए लक्ष्य का चुनाव किया गया. यह स्थान घने जंगल में पहाड़ी पर स्थित है. भारत की पाकिस्तान से अपेक्षा है कि वह जैश ए मोहम्मद सहित सभी आतंकी शिविरों को नष्ट करेगा.’

पुलवामा में “जैश ए मोहम्मद” के द्वारा किए गए आतंकी हमले से सारा देश क्रुद्ध और क्षुब्ध हुआ था। आज भारतीय वायुसेना द्वारा “जैश ए मोहम्मद” के पाकिस्तान स्थित ठिकानों को अचूक लक्ष्य बनाकर उन्हें ध्वस्त किया गया.

यह करोड़ों भारतीयों की भावनाओं को कृति में लाने का एक कार्य है। हम भारतीय वायुसेना और भारत सरकार का अभिनंदन करते हैं.

पाकिस्तानी सेना और नागरिकों को क्षति पहुंचाए बिना किया गया यह कार्य भारतीय संस्कृति के अनुरूप ही है.

सुरेश जोशी

सरकार्यवाह, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ

 

About The Author

Number of Entries : 4906

Leave a Comment

Scroll to top