मंदिरों में हनुमान चालीसा का सामूहिक पाठ Reviewed by Momizat on . झारसुगुड़ा (विसंकें). श्री जगन्नाथ संस्कृति सुरक्षा समिति भुवनेश्वर के आह्वान पर मंगलवार की संध्या छह बजे समग्र राज्य के विभिन्न मंदिरों में हनुमान चालीसा का पाठ झारसुगुड़ा (विसंकें). श्री जगन्नाथ संस्कृति सुरक्षा समिति भुवनेश्वर के आह्वान पर मंगलवार की संध्या छह बजे समग्र राज्य के विभिन्न मंदिरों में हनुमान चालीसा का पाठ Rating: 0
You Are Here: Home » मंदिरों में हनुमान चालीसा का सामूहिक पाठ

मंदिरों में हनुमान चालीसा का सामूहिक पाठ

हनुमान चालीसा का पाठ1झारसुगुड़ा (विसंकें). श्री जगन्नाथ संस्कृति सुरक्षा समिति भुवनेश्वर के आह्वान पर मंगलवार की संध्या छह बजे समग्र राज्य के विभिन्न मंदिरों में हनुमान चालीसा का पाठ किया गया. इस क्रम में समिति की झारसुगुड़ा शाखा द्वारा भी शहर के झंडा चौक स्थित हनुमान मंदिर, तेलीभाटा स्थिति हनुमान मंदिर, पहाड़ी मंदिर स्थित हनुमान मंदिर में संध्या के समय सामूहिक हनुमान चालीसा का पाठ किया. झंडा चौक स्थित प्राचीन हनुमान मंदिर में संध्या छह बजे समिति के सदस्यों ने हनुमान जी की पूजा- अर्चना के बाद एक साथ बैठकर हनुमान चालीसा का पाठ किया. पाठ के उपरांत हनुमान जी की आरती कर प्रसाद का वितरण किया गया. काफी संख्या में गणमान्यजन उपस्थित थे.

श्रीजगन्नाथ के नव कलेवर के अवसर पर ब्रह्म परिवर्तन में गड़बड़ी को लेकर श्रीजगन्नाथ संस्कृति सुरक्षा मंच द्वारा आहूत हनुमान चालीसा पाठ कार्यक्रम राजधानी समेत प्रदेश भर के अनेक मंदिरों में आयोजित हुआ. राजधानी के खारबेल नगर स्थित श्रीराम मंदिर में सुबह नौ बजे कार्यक्रम शुरू हुआ. इस कार्यक्रम में बाबाजी श्रीराम प्रसाद महाराज के मार्गदर्शन में सामूहिक हनुमान चालीसा का पाठ किया गया. इस कार्यक्रम में मंच के संयोजक प्रफुल्ल रथ, डॉ. लक्ष्मीकात दास, प्रमोद दास, वीरकिशोर, समीर महांती भी शामिल हुए. मंच ने कहा कि श्रीमंदिर की रीति- नीति को सुचारु रुप से करने के लिए सरकारी प्रबंधन से मुक्त किया जाए. शंकराचार्य व गजपति महाराज के मार्ग दर्शन में मुक्तिमंडप पंडित सभा व विभिन्न नियोगों के प्रतिनिधियों को लेकर श्रीमंदिर का प्रबंधन किया जाए. ब्रह्म विभ्राट के मामले की सीबीआई जांच करवाई जाए. सामूहिक पाठ लेने वालों के हस्ताक्षर भी करवाए गए, व मुद्दे को लेकर हस्ताक्षर अभियान चलाया गया. हस्ताक्षर संग्रह को राज्यपाल महोदय को सौंपा जाएगा.

हनुमान चालीसा का पाठ2 हनुमान चालीसा का पाठ

About The Author

Number of Entries : 3628

Leave a Comment

Scroll to top