शिक्षा का व्यापारीकरण समाजहित में नहीं – विद्यार्थी परिषद Reviewed by Momizat on . उत्तराखंड (विसंके). अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का दो दिवसीय प्रदेश अधिवेशन श्रीनगर में संपन्न हो गया. समापन सत्र से पूर्व प्रदेशभर से आए विद्यार्थी परिषद कार् उत्तराखंड (विसंके). अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का दो दिवसीय प्रदेश अधिवेशन श्रीनगर में संपन्न हो गया. समापन सत्र से पूर्व प्रदेशभर से आए विद्यार्थी परिषद कार् Rating: 0
You Are Here: Home » शिक्षा का व्यापारीकरण समाजहित में नहीं – विद्यार्थी परिषद

शिक्षा का व्यापारीकरण समाजहित में नहीं – विद्यार्थी परिषद

उत्तराखंड (विसंके). अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का दो दिवसीय प्रदेश अधिवेशन श्रीनगर में संपन्न हो गया. समापन सत्र से पूर्व प्रदेशभर से आए विद्यार्थी परिषद कार्यकर्ताओं ने अधिवेशन स्थल से नशा मुक्त और स्वच्छ पर्यावरण युक्त उत्तराखंड को लेकर शहर में एक जन जागरुकता रैली निकाली. गोला पार्क में खुले अधिवेशन को संबोधित करते हुए वक्ताओं ने कहा कि शिक्षा का व्यापारीकरण समाज हित में नहीं है. पर्यावरण संरक्षण और संवर्द्धन को प्राथमिकता में शामिल करना होगा. प्रदेश अध्यक्ष रमाकांत श्रीवास्तव ने विद्यार्थी परिषद की नई प्रदेश कार्यकारिणी की भी घोषणा की. इसमें श्रीनगर के सुधीर जोशी को प्रदेश सहमंत्री, गढ़वाल विवि छात्र महासंघ के पूर्व अध्यक्ष शैलेश मलासी को गढ़वाल संयोजक, पॉलीटेक्निक प्रवक्ता सर्वेश चौधरी को विभाग प्रमुख का दायित्व दिया गया. महेंद्र दत्त बंगवाल को प्रदेश उपाध्यक्ष, रमेश गडिया को जिला संयोजक और नीरज ध्यानी को प्रदेश कार्यकारिणी का सदस्य बनाया गया. विद्यार्थी परिषद के प्रदेश अध्यक्ष रमाकांत श्रीवास्तव, प्रदेश मंत्री लोकेश कालाकोटी के नेतृत्व में प्रदेश के विभिन्न जिलों से आए विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने रविवार को श्रीनगर में नशा मुक्त और स्वच्छ पर्यावरण युक्त उत्तराखंड के मुद्दों को लेकर शहर में जन जागरुकता रैली निकाली. अधिवेशन स्थल गुरुद्वारे से शुरू हुई रैली शहर के सभी प्रमुख मार्गो से होते हुए गोला पार्क पहुंची. यहां अभाविप का खुला अधिवेशन आयोजित किया गया. परिषद के प्रदेश मंत्री लोकेश कालाकोटी ने कहा कि उत्तराखंड की विषम भौगोलिक परिस्थितियों के कारण शिक्षा व्यवस्थाओं को उसके अनुसार बनाना जरूरी है. सुधीर जोशी और अन्य ने भी विचार व्यक्त किए.

 

About The Author

Number of Entries : 3868

Comments (1)

  • Dalipkumar

    I agree and appreiate ABVP views against commercialisation of education.

    All satates/central/local govts should come forward and increase budget allcations for education

    as they are doing for corporates/industry.

    dalip kumar

    Reply

Leave a Comment

Scroll to top