संघ ने स्वदेशी वस्तुओं के उपयोग पर दिया बल Reviewed by Momizat on . रायपुर. छत्तीसगढ़ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह प्रांत संघचालक डॉ. पूर्णेन्दु सक्सेना जी ने जनभावनाओं का समर्थन करते हुए कहा कि देश में बिक रहे चीनी सामान पर रो रायपुर. छत्तीसगढ़ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह प्रांत संघचालक डॉ. पूर्णेन्दु सक्सेना जी ने जनभावनाओं का समर्थन करते हुए कहा कि देश में बिक रहे चीनी सामान पर रो Rating: 0
You Are Here: Home » संघ ने स्वदेशी वस्तुओं के उपयोग पर दिया बल

संघ ने स्वदेशी वस्तुओं के उपयोग पर दिया बल

रायपुर. छत्तीसगढ़ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह प्रांत संघचालक डॉ. पूर्णेन्दु सक्सेना जी ने जनभावनाओं का समर्थन करते हुए कहा कि देश में बिक रहे चीनी सामान पर रोक लगनी चाहिए. बशर्ते अगर चाईना भारत से दोस्ती का हाथ बढ़ाकर व्यापार करने को तैयार है तो इसका स्वागत किया जाएगा. उन्होंने रायपुर में संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि देश में कुटीर उद्योग को बढ़ावा देने की आवश्यकता है. स्वदेश में बनाए गए उत्पादों का उपयोग सभी को करना चाहिए.

उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय कार्यकारी मंडल की तीन दिवसीय बैठक हैदराबाद में संपन्न हुई. जिसमें देश और विश्व की वर्तमान परिस्थितियों पर चर्चा की गई. बैठक में दो महत्वपूर्ण प्रस्ताव पारित किए गए, जिसमें पहला प्रस्ताव केरल में विरोधियों के प्रति कम्युनिस्ट पार्टी के हिंसात्मक व्यवहार को लेकर है. कम्युनिस्ट पार्टी ने केरल में हिंसा और हत्या को एक राजनैतिक हथियार के रूप में अपनाया है. 250 से अधिक संघ कार्यकर्ताओं की हत्या पिछले कुछ दशकों में की गई है. अनेकों जीवन की आहुति देकर संघ केरल में मजबूती से खड़ा है. उन्होंने कहा कि हत्या के इस दौर को देश का सभ्य समाज मूकदर्शक बनकर नहीं देखेगा. दूसरे प्रस्ताव में पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जन्मशताब्दी के अवसर पर संघ ने एकात्म मानववाद के प्रतीक पंडित दीनदयाल उपाध्याय के दार्शनिक योगदान को याद किया. संघ के सरकार्यवाह भय्या जी जोशी ने वक्तव्य जारी कर देश में जेहादी तत्वों द्वारा विभिन्न स्थानों पर की जा रही हिंसा का कठोर शब्दों में निंदा की है.

About The Author

Number of Entries : 3679

Leave a Comment

Scroll to top