संघ परिवर्तन शील है, लेकिन लक्ष्य एक ही – मनोज जी Reviewed by Momizat on . इलाहाबाद (विसंकें). विभाग प्रचारक मनोज जी ने कहा कि संघ परिवर्तन शील है, लेकिन लक्ष्य कभी नहीं बदलेगा. समाज में व्याप्त कुरितियों सहित विभिन्न मुद्दों पर समय-सम इलाहाबाद (विसंकें). विभाग प्रचारक मनोज जी ने कहा कि संघ परिवर्तन शील है, लेकिन लक्ष्य कभी नहीं बदलेगा. समाज में व्याप्त कुरितियों सहित विभिन्न मुद्दों पर समय-सम Rating: 0
You Are Here: Home » संघ परिवर्तन शील है, लेकिन लक्ष्य एक ही – मनोज जी

संघ परिवर्तन शील है, लेकिन लक्ष्य एक ही – मनोज जी

इलाहाबाद (विसंकें). विभाग प्रचारक मनोज जी ने कहा कि संघ परिवर्तन शील है, लेकिन लक्ष्य कभी नहीं बदलेगा. समाज में व्याप्त कुरितियों सहित विभिन्न मुद्दों पर समय-समय पर विचार होता रहता है. मनोज जी रविवार को परेड ग्राउंड में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रयाग उत्तर जिले की सभी शाखाओं के स्वयंसेवकों के वृहद एकत्रीकरण कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि यह कार्यक्रम समय-समय पर स्वयंसेवकों के शरीरिक दक्षता को मजबूत एवं गतिशील बनाने के लिए किया जाता है. नये गणवेश को भव्यता के साथ विजयादशमी के अवसर पर समाज के बीच ले जायेंगे. इस माध्यम से हम युवाओं को जोड़ने के लिए अथक प्रयास करेंगे.

कार्यक्रम में बाल, तरूण एवं प्रौढ़ स्वयंसेवकों ने काफी संख्या में भाग लिया. जिसमें कबड्डी, खो-खो, समता, संचलन एवं योग के कार्यक्रम हुए. कार्यक्रम में प्रयाग उत्तर जिले के बारह नगरों ने भाग लिया. जिसमें श्रीकृष्ण नगर, भरद्वाज,त्रिवेणी,विवेकानन्द, आजाद, भगीरथ, विश्वविद्यालय, दयानन्द, गंगा, गोविन्द, शान्तीपुरम, साकेत नगर के स्वयंसेवक शामिल हुए. प्रमुख रूप से प्रान्त संघचालक डॉ. विश्वनाथ लाल निगम, भाग संघ चालक व्यंकटेश्वर, भाग कार्यवाह संजीव, भाग प्रचारक अनुराग जी उपस्थित रहे.

mob-2 mob-3 mob rss-1 rss-4

About The Author

Number of Entries : 3580

Leave a Comment

Scroll to top