संघ समाज को संगठित करने का कार्य कर रहा – शशिकांत दीक्षित Reviewed by Momizat on . मुजफ्फरनगर (विसंकें). राजकीय इण्टर कॉलेज के मैदान में आयोजित उमंगोत्सव कार्यक्रम में मुख्य वक्ता क्षेत्र कार्यवाह शशिकांत दीक्षित ने कहा कि डॉ. हेडगेवार ने 1925 मुजफ्फरनगर (विसंकें). राजकीय इण्टर कॉलेज के मैदान में आयोजित उमंगोत्सव कार्यक्रम में मुख्य वक्ता क्षेत्र कार्यवाह शशिकांत दीक्षित ने कहा कि डॉ. हेडगेवार ने 1925 Rating: 0
You Are Here: Home » संघ समाज को संगठित करने का कार्य कर रहा – शशिकांत दीक्षित

संघ समाज को संगठित करने का कार्य कर रहा – शशिकांत दीक्षित

मुजफ्फरनगर (विसंकें). राजकीय इण्टर कॉलेज के मैदान में आयोजित उमंगोत्सव कार्यक्रम में मुख्य वक्ता क्षेत्र कार्यवाह शशिकांत दीक्षित ने कहा कि डॉ. हेडगेवार ने 1925 में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के रूप में जो समाज जागरण की निरन्तर चलने वाली पद्धति दी थी, आज उसकी 80 हजार शाखाएं पूरे देश में हिन्दू समाज को संगठित करने का कार्य कर रही हैं. डॉ. हेडगेवार ने कहा था कि शाखा के माध्यम से समाज जागरण का रास्ता लम्बा हो सकता है, लेकिन यही एकमात्र साधन है. संघ की शाखाएं यदि ठीक प्रकार से लगेंगी तो समाज में सकारात्मक संदेश जाएगा.

उन्होंने कहा कि संघ समय और परिस्थिति के अनुसार अपनी संरचना में अनेक बदलाव करता रहा है. परन्तु अपने हिन्दू संगठन के मूल उद्देश्य से नहीं डिगा है. हिन्दू संगठन का तंत्र है – नित्य प्रति लगने वाली एक घंटे की शाखा. इस शाखा से ही निर्माण होने वाले स्वयंसेवकों ने राष्ट्र पर आने वाले संकटों में सबसे आगे बढ़कर सहयोग किया है. संघ का स्वयंसेवक वनवासी, पर्वतवासी या पिछड़े क्षेत्र सभी जगह अपने सेवा कार्यों से समाज की उन्नति के लिये कार्य कर रहा है.

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ मेरठ प्रान्त में 27 जनवरी को सभी जिलों एवं महानगरों में शाखा उमंगोत्सव के कार्यक्रम आयोजित किये. जिसमें जिलों एवं महानगरों में एक या दो स्थानों पर सभी शाखाएं लगायी गईं. इस अवसर पर पूरे प्रान्त में 55 स्थानों पर 2102 शाखाएं लगीं, जिनमें 30360 स्वयंसेवकों ने भाग लिया.

About The Author

Number of Entries : 4969

Leave a Comment

Scroll to top