स्वदेशी अपनाकर देश को करें मजबूत: डा. तुंगवीर Reviewed by Momizat on . मेरठ. मेरठ मेडिकल कॉलेज के प्रोफेसर एवं मुख्य वक्ता डॉ. तुंगवीर सिंह आर्य ने कहा कि स्वदेशी की अवधारणा केवल बातों तक सीमित नहीं रहनी चाहिये. हमें अपने जीवन में मेरठ. मेरठ मेडिकल कॉलेज के प्रोफेसर एवं मुख्य वक्ता डॉ. तुंगवीर सिंह आर्य ने कहा कि स्वदेशी की अवधारणा केवल बातों तक सीमित नहीं रहनी चाहिये. हमें अपने जीवन में Rating: 0
You Are Here: Home » स्वदेशी अपनाकर देश को करें मजबूत: डा. तुंगवीर

स्वदेशी अपनाकर देश को करें मजबूत: डा. तुंगवीर

Swadeshi Jagran Manchमेरठ. मेरठ मेडिकल कॉलेज के प्रोफेसर एवं मुख्य वक्ता डॉ. तुंगवीर सिंह आर्य ने कहा कि स्वदेशी की अवधारणा केवल बातों तक सीमित नहीं रहनी चाहिये. हमें अपने जीवन में भी स्वदेशी को अपनाना होगा तभी भारत को मजबूत स्थिति में पहुंचा सकेंगे.

स्वदेशी जागरण मंच मेरठ महानगर द्वारा स्वदेशी आंदोलन के नायक प्रथम बलिदानी बाबू गेनू के बलिदान दिवस पर विश्व संवाद केन्द्र पर विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया. बाबू गेनू ने स्वदेशी के लिये विदेशी वस्तुओं से भरी लारी के सामने लेटकर अपने जीवन का बलिदान दे दिया था. उन्हीं बाबू गेनू के बलिदान दिवस को स्वदेशी जागरण मंच प्रत्येक वर्ष स्वदेशी दिवस के रूप में मनाता है.

गोष्ठी के मुख्य वक्ता डॉ. तुंगवीर आर्य ने कहा कि विदेशी वस्तुओं के आकर्षण में न पड़कर अपने देश की वस्तुओं का प्रयोग करना चाहिये. इससे बेरोजगारी तो खत्म होगी ही और देश भी आर्थिक रूप से मजबूत होगा. आज हम चीन का घटिया माल खरीद कर उसे मजबूत करने में लगे हुए हैं जबकि वह लगातार हमारे देश में घुसपैठ कर रहा है.

कर्यक्रम की अध्यक्षता देवेन्द्र तोमर एवं संचालन अनिल राजकुमार ने किया. गोष्ठी में ब्रजेश ठाकुर, रविन्द्र कुमार, निखिल जैन, प्रशांत कुमार और सुखविन्दर कौर का भी सहयोग रहा.

About The Author

Number of Entries : 3868

Leave a Comment

Scroll to top