You Are Here: Home » समाचार » अवध (Page 3)

अभावग्रस्त लोगों के लिए खड़ा होने वाला समाज कभी पराजित नहीं होता – डॉ. कृष्णगोपाल जी

भाऊराव देवरस सेवा न्यास ने किया दो समाजसेवियों का सम्मान लखनऊ (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डॉ. कृष्णगोपाल जी ने कहा कि अभावग्रस्त लोगों के लिए खड़ा होने वाले समाज को कोई पराजित नहीं कर सकता. उन्होंने आह्वान किया कि समाज के कमजोर वर्ग के सहयोग के लिए सक्षम वर्ग सामने आए. सह सरकार्यवाह जी निरालानगर स्थित माधव सभागार में भाऊराव देवरस सेवा न्यास द्वारा आयोजित ‘22वें सेवा सम्मान समारोह’ में ...

Read more

हमारा जन्म इस धरा पर पवित्र कार्य करने के लिये हुआ है

लखनऊ (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पूर्वी उत्तर प्रदेश क्षेत्र के सह क्षेत्र कार्यवाह डॉ. वीरेंद्र जायसवाल जी ने कहा कि ईश्वर ने हम सबको पृथ्वी पर भेजने से पहले सबकी भूमिका तय की है और इसी भूमिका का निर्वहन करते हुये वापस ईश्वर के पास चले जाते हैं. अपनी भूमिका को जानने के लिये अपने इतिहास को जानना भी जरूरी है. संघ के स्वयंसेवकों ने भी भारत माता की सेवा करने के लिये इस पवित्र भूमि पर जन्म लिया है और हमा ...

Read more

संघ से जुड़ने वाले युवाओं की संख्या निरंतर बढ़ रही – नरेंद्र जी

लखनऊ (विसंकें). 19 मार्च से 21 मार्च 2017 तक कोयम्बटूर, तमिलनाडु में आयोजित राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा की बैठक के विषयों को लेकर प्रान्त संघचालक प्रभुनारायण जी ने शनिवार को विश्व संवाद केन्द्र में पत्रकार वर्ता को संबोधित किया. उन्होंने कहा कि बैठक में प्रस्ताव पारित कर पश्चिम बंगाल में जिहादी तत्वों के निरन्तर बढ़ रहे हिंसाचार, राज्य सरकार द्वारा मुस्लिम वोट-बैंक की राजनीति के चलत ...

Read more

प्रतियोगी परीक्षाओं में अंग्रेजी की अनिवार्यता को समाप्त कर भारतीय भाषाओं को शामिल किया जाए – अतुल कोठारी जी

लखनऊ (विसंकें). शैक्षणिक संस्थानों में पाठ्यक्रम, पुस्तक रचना और शिक्षार्थियों के व्यक्तित्व विकास व चरित्र निर्माण के मुद्दे पर मंथन को लेकर शिक्षा संस्कृति उत्थान न्यास की तीन दिवसीय बैठक रविवार को लखनऊ में संम्पन्न हुई. राजधानी के निराला नगर स्थित सरस्वती शिशु मंदिर परिसर में आयोजित बैठक के दौरान दो प्रस्ताव पारित किये गये. पहले प्रस्ताव के तहत प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा गठित सचिवों की समिति जिसमें छठी ...

Read more

ईश्वर ने हमें श्रेष्ठ कार्य के लिए पृथ्वी पर भेजा है – दीनानाथ बत्रा जी

लखनऊ (विसंकें). शिक्षा संस्कृति उत्थान न्यास के प्रांतीय संयोजकों की राष्ट्रीय कार्यशाला सरस्वती शिशु मंदिर, निराला नगर में प्रारम्भ हुई. मुख्य अतिथि विश्वविद्यालय अनुदान आयोग की अतिरिक्त सचिव सुश्री डॉ. पंकज मित्तल, विशिष्ट अतिथि पद्मश्री ब्रह्मदेव शर्मा 'भाई जी', न्यास के राष्ट्रीय अध्यक्ष दीनानाथ बत्रा जी तथा राष्ट्रीय सचिव अतुल कोठारी जी ने माँ सरस्वती के चित्र के समक्ष दीप प्रज्ज्वलन कर कार्यक्रम का उद ...

Read more

स्वयंसेवकों को आदर्श प्रस्तुत कर संपूर्ण समाज को परिवर्तन के लिये प्रेरित करना है – संजय जी

लखनऊ (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ अवध प्रांत के प्रांत प्रचारक संजय जी ने कहा कि आज देश हर्ष मना रहा है और हम सब इस देश के रणबाँकुरे हैं. हम सब इस देश की जवानी हैं. देश का निर्माण करने वाले हैं. हम जो यहाँ बैठे हैं, हम भी वही काम कर रहे हैं, कोई देश की सीमा पर और कोई देश के अंदर. अंदर की जिम्मेदारी आज हमारी है क्योंकि हम संघ के स्वयंसेवक हैं. स्वयंसेवक की विशेषता क्या है ? स्वयं की प्रेरणा से देश व सम ...

Read more

लखनऊ में संवर्धिनी पुस्तक का विमोचन

लखनऊ. लखनऊ में आयोजित स्तंभ लेखकों की संगोष्ठी के दौरान संवर्धिनी पुस्तक का विमोचन किया गया. "संवर्धिनी" महिला विषयक भारतीय दृष्टिकोण पुस्तक का विमोचन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय कार्यकारिणी के सदस्य मधुभाई कुलकर्णी जी, अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख डॉ. मनमोहन वैद्य जी, सह प्रचार प्रमुख जे नंद कुमार जी ने किया. पुस्तक का संपादन नरेंद्र ठाकुर जी ने किया है और प्रकाशक विचार विनिमय प्रकाशन नई दिल्ली है. ...

Read more

अगर अपने यहां जनमत संग्रह करवाए तो वैश्विक नक्शे से गायब हो जाएगा पाकिस्तान – इंद्रेश कुमार जी

लखनऊ (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय कार्यकारिणी के सदस्य इंद्रेश कुमार जी ने लाल किले की प्राचीर से भारत के प्रधानमन्त्री द्वारा पाकिस्तान की गतिविधियों पर व्यक्त की गई प्रतिक्रिया का समर्थन किया. उन्होंने कहा कि उसका एक हिस्सा जिसे बलूचिस्तान कहते हैं, वहाँ सनातन मत के 52 शक्तिपीठों में से एक हिंगलाज माता शक्तिपीठ स्थित है और आज भी वहाँ पूजा होती है. बलूचिस्तान पाकिस्तान का 44% हिस्सा है ...

Read more

स्वयंसेवक का ‘स्वयंसेवकत्व’ ही संघ के समन्वय का आधार – डॉ. मोहन भागवत जी

लखनऊ (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी ने समन्वय बैठक की अवधारणा रखते हुए कहा कि यह बैठक स्वयंसेवकों की होती है, जो विविध क्षेत्रों में व्यवस्था परिवर्तन में लगे हुए हैं. व्यवस्था परिवर्तन तभी सफल होगा, जब समाज भी उस दिशा में आगे बढ़ेगा. उन्होंने सामाजिक समरसता, कुटुम्ब प्रबोधन, ग्राम विकास जैसे सकारात्मक विषय को लेकर चलने की सलाह दी. उन्होंने कहा कि सभी संगठन स्वतंत्र, स्वाय ...

Read more

हिन्दुत्व की विचारधारा किसी के विरोध में नहीं है – डॉ. मोहन भागवत जी

लखनऊ (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी ने कहा कि हिन्दुत्व की विचारधारा किसी के विरोध में नहीं है. किसी का द्वेष और विरोध हिन्दुत्व नहीं है, बल्कि सबके प्रति प्रेम, सबके प्रति विश्वास और आत्मीयता यही हिन्दुत्व है. हम देश के लिए काम करते हैं. हिन्दुत्व कोई कर्मकांड भी नहीं है. यह अध्यात्म व सत्य पर आधारित दर्शन है. उन्होंने कहा कि भारत की एकता अखण्डता को अक्षुण्ण रखते हुए भारत ...

Read more
Scroll to top