You Are Here: Home » समाचार » उत्तराखंड (Page 4)

केदारनाथ, गंगोत्री व यमुनोत्री के कपाट खुले, बद्रीनाथ के कपाट 11 को खुलेंगे

देहरादून (विसंकें). अक्षय तृतीया के पावन पर्व पर आज पूजा अर्चना और विधि विधान के साथ केदारनाथ, गंगोत्री व यमुनोत्री धाम के कपाट खोल दिए गए. इसके साथ ही चारधाम यात्रा की शुरूआत हो गई है. बद्रीनाथ धाम के कपाट 11 मई को खुलेंगे. बाबा केदार की उत्सव डोली बीती शाम को केदारनाथ पहुंच गई थी. सुबह सात बजे जिलाधिकारी राघव लंघर, रावल भीमाशंकर लिंग, मुख्य पुजारी शंकर लिंग, वेदपाठियों की उपस्थिति में केदारनाथ मंदिर के मु ...

Read more

केदारनाथ बाबा की उत्सव डोली धाम को रवाना, 9 मई सुबह 6 बजे खुलेंगे कपाट

  देहरादून (विसंकें). शीतकाल के छह महीने ऊखीमठ स्थित पंच केदार ओंकारेश्वर मंदिर में विश्राम करने के बाद बाबा की उत्सव डोली वीरवार को केदारनाथ के लिए रवाना हुई. इसी के साथ केदारनाथ धाम के कपाट खुलने की प्रक्रिया विधिवत रूप से आरंभ हो गई. धाम के कपाट नौ मई को सुबह छह बजे भक्तों के लिए खोले जाएंगे. निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार वीरवार सुबह पांच बजे से ओंकारेश्वर मंदिर में विशेष पूजा शुरू हुई. आठ बजे उत्सव ...

Read more

गंगा भारतीय संस्कृति का पुण्य प्रवाह – डॉ. कृष्ण गोपाल जी

हरिद्वार (विसंकें). दिव्य प्रेम सेवा मिशन द्वारा अर्धकुम्भ मंथन के अन्तर्गत आयोजित व्याख्यान माला की चतुर्थ श्रृंखला में भारतीय संस्कृति के विकास में गंगा का महत्व विषय पर चर्चा की गई. कार्यक्रम के मुख्य वक्ता राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डॉ. कृष्ण गोपाल जी ने अपने उद्बोधन में कहा कि गंगा हजारों वर्षों से भारतीय संस्कृति का पुण्य प्रवाह है जो भारत को धार्मिक, सांस्कृतिक, वैचारिक एकता के सूत्र मे ...

Read more

होली समरसता का पर्व – युद्धवीर जी

देहरादून (विसंकें). विश्व संवाद केन्द्र तथा विद्योत्तमा विचार मंच की ओर से होली मिलन कार्यक्रम का अयोजन बुधवार को नारायण मुनि सरस्वती शिशु मंदिर में किया गया. कार्यक्रम का उद्घाटन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संयुक्त क्षेत्र (उत्तर प्रदेश, उत्तराखण्ड) के प्रचार प्रमुख कृपाशंकर जी ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया. कार्यक्रम के मुख्य वक्ता राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ उत्तराखण्ड प्रान्त के प्रान्त प्रचारक युद्धवीर जी ने क ...

Read more

विद्यावान युवा ही समाज को सही राह दिखा सकता है – डॉ. प्रणव पण्ड्या

हरिद्वार (विसंकें). देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के कुलाधिपति डॉ. प्रणव पण्ड्या ने कहा कि प्राचीन तक्षशिला, नालंदा विवि के बाद युवाओं को गढ़ने और उनमें नैतिक मूल्यों के विकास के लिए संकल्पित हैं. देवसंस्कृति विवि में शिक्षा के साथ-साथ विद्या का अध्ययन कराया जाता है. विद्यावान युवा ही समाज को सही राह दिखा सकता है. मकर संक्रांति के अवसर पर हुए देवसंस्कृति विवि के 28वें ज्ञानदीक्षा समारोह की अध्यक्षता करते हुए डॉ ...

Read more

कर्मयोगी डॉ. नित्यानंद जी का देहावसान

देहरादून (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के जीवनव्रती कार्यकर्ता तथा विश्व प्रसिद्ध भूगोलवेत्ता कर्मयोगी डॉ. नित्यानंद जी का शुक्रवार 8 जनवरी को रात्रि 8.30 बजे महंत इंद्रेश अस्पताल में निधन हो गया. महानगर कार्यवाह अनिल नन्दा जी ने बताया कि 15 तिलक रोड स्थित जन कल्याण न्यास परिसर में रविवार को अंतिम दर्शनार्थ रखा गया तथा तदोपरांत हरिद्वार स्थित खड़खड़ी शमशान घाट पर अंतिम संस्कार किया गया. अंतिम यात्रा मे ...

Read more

साध्य के लिए साधन नहीं, बल्कि शुद्ध आचरण महत्वपूर्ण है – सुनील कुलकर्णी

देहरादून (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय शारीरिक शिक्षण प्रमुख सुनील कुलकर्णी जी ने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ कार्यकर्ता आधारित संगठन है. संघ का मानना है कि किसी साध्य के लिए साधन अर्थात उपकरण नहीं, बल्कि शुद्ध आचरण एवं दृढ़ निश्चय महत्वपूर्ण होता है. संघ का स्वयंसेवक सदैव अपने चरित्र से पहचाना जाता है. सुनील कुलकर्णी जी लक्ष्मण चौक स्थित हिन्दू नेशनल इंटर कॉलेज के परिसर में देहरादून ...

Read more

विद्यार्थियों को कैसी शिक्षा मिले, यह चितंन का विषय है – डॉ. ललित बिहारी जी

देहरादून (विसंकें). गोवर्धन सरस्वती विद्या मन्दिर इण्टर कॉलेज धर्मपुर देहरादून में नई शिक्षा नीति पर विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया. इस अवसर पर क्षेत्र के जाने माने शिक्षाविदों ने अपने-अपने विचार रखे. कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि विद्या भारती के राष्ट्रीय महामंत्री डॉ. ललित बिहारी गोस्वामी, मंचासीन अतिथियों द्वारा किया गया. तत्पश्चात मां सरस्वती की वन्दना की गई. अतिथि देवो भवः का परिपालन करते हुए विद्य ...

Read more

स्व. अशोक जी का जीवन संकल्प की दृढ़ता का आदर्श उदाहरण था – दिनेश चंद्र जी

देहरादून (विसंकें). विहिप के केंद्रीय संगठन मंत्री दिनेश चंद्र जी ने कहा कि अशोक सिंहल इस धरती पर महामानव थे. उनका जीवन संकल्प की दृढ़ता का आदर्श उदाहरण था. अशोक जी व्यक्ति नहीं, बल्कि अपने आप में एक संस्था थे. उन्होंने संघ कार्य को जिस संकल्पबद्धता से किया, वह हम सबके लिए पाथेय है. विश्व हिन्दू परिषद के केंद्रीय संगठन मंत्री दिनेश चंद्र जी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के तिलक मार्ग स्थित प्रांत कार्यालय पर आयोज ...

Read more

अंतिम व्यक्ति तक समरसता की अनुभूति के लिए सम्मिलित प्रयास जरूरी – डॉ. मोहन भागवत

हरिद्वार (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन राव भागवत ने कहा कि समाज यदि एकमत होकर चलेगा तो इससे सामाजिक एकता को बल मिलेगा. सबको मंदिर में प्रवेश, पानी का सामूहिक स्रोत, अंतिम संस्कार के लिए समान श्मसान स्थल की व्यवस्था होनी चाहिए. ग्राम विकास के बिना देश का विकास नहीं हो सकता. ग्राम विकास के लिए गौ संवर्धन अनिवार्य है. गांवों को स्वावलंबी बनाने की दिशा में भी योजना बनाकर कार्य करने का ...

Read more
Scroll to top