You Are Here: Home » समाचार » कानपुर

देश का विरोध करने वालों को हीरो नहीं बनाना चाहिए – दत्तात्रेय होसबले जी

कानपुर. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबले जी ने कहा कि केंद्र सरकार आतंकवाद को समाप्त करने के लिए जो भी कदम उठाएगी, संघ उसका समर्थन करेगा. संघ का यह मानना है कि जो कोई देश का विरोध करता है, उसे हीरो नहीं बनाना चाहिए. जम्मू कश्मीर में मुठभेड़ में मारे गये आतंकवादी बुरहान वानी की ओर इशारा था. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रांत प्रचारक वर्ग की वार्षिक बैठक कानपुर शहर से करीब 20 किलोमीटर ...

Read more

संघ के प्रति जनता के विश्वास से बढ़ रहा संघ का कार्य – डॉ. मनमोहन वैद्य जी

कानपुर (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख डॉ. मनमोहन वैद्य जी ने कहा कि पिछले छह सालों से संघ का कार्य क्षेत्र लगातार बढ़ रहा है. यह तभी संभव हो पाया, जब लोगों का संघ के प्रति विश्वास बढ़ा. जिससे अब इसकी शाखाएं 57 हजार के करीब जा पहुंची. इसके साथ ही उन्होंने जाकिर नाईक के बयान पर भी इशारों-इशारों में आपत्ति जता दी. लवकुश नगरी बिठूर में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रांत प्रचारकों क ...

Read more

14, 15 जुलाई को कानपुर में प्रांत प्रचारकों की अखिल भारतीय बैठक

कानपुर (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ कानपुर प्रांत के प्रांत कार्यवाह कांशीराम जी ने बताया कि संघ की अखिल भारतीय प्रांत प्रचारक बैठक कानपुर स्थित महाराणा प्रताप इंजीनियरिंग कॉलेज सिंहपुर बिठूर में 14 व 15 जुलाई को होगी. प्रांत प्रचारकों की यह अखिल भारतीय बैठक हर साल जुलाई माह में होती है, यह नियमित सामान्य बैठक है. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की नीति निर्धारक एवं दिशा दर्शक औपचारिक अखिल भारतीय कार्यकारी मं ...

Read more

सुखमय जीवन के लिये कुटुंब परंपरा को मजबूत करें – राम नाईक जी

कानपुर. राष्ट्रधर्म मासिक पत्रिका द्वारा आयोजित वचनेश त्रिपाठी स्मृति व्याख्यानमाला में शिरकत करने आए राज्यपाल राम नाईक ने कहा कि लोग पेट की भूख मिटाने के लिए शहर जाने को मजबूर हैं. जिससे दिन प्रति दिन भारत की कुटंब परंपरा कमजोर होती जा रही है. अगर यही स्थिति रही तो आने वाले दिनों में शहरों की जनसंख्या बढ़ जाएगी और परिवार के बुजुर्ग लोग तन्हा जीवन व्यतीत करने को मजबूर होंगे. बीएनएसडी शिक्षा निकेतन में रविवा ...

Read more

आज के दिन देश, धर्म, संस्कृति की रक्षा का संकल्प लें – अरुण कुमार जी

कानपुर (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय सह संपर्क प्रमुख अरूण कुमार जी ने स्वयंसेवकों का आह्वान किया कि वे समाज के वंचित एवं पिछड़े लोगों को रक्षा सूत्र बांधकर समाज में सामाजिक समरसता का संचार करें. आज संघ इसी भाव को लेकर रक्षाबंधन का पर्व मनाता है. शनिवार को कानपुर महानगर के बीएनएसडी शिक्षा निकेतन इंटर कॉलेज, बेनाझावर के विशाल मैदान में रक्षाबंधन उत्सव में मुख्य वक्ता के रूप में स्वयंसेवको ...

Read more

स्वतंत्रता पूर्व से आज तक संघ देशहित में हमेशा खड़ा रहा – रामकुमार जी

कानपुर (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पूर्व उत्तर प्रदेश क्षेत्र के क्षेत्र कार्यवाह राम कुमार जी ने कहा कि स्वतंत्रता पूर्व से संघ देशहित में काम करता रहा है. देश की स्वतंत्रता के बाद आज भी जब देश के सामने कोई समस्या खड़ी होती है, तो संघ देशहित में हमेशा सबसे आगे खड़ा रहता है. देश की आजादी से पूर्व संघ के स्वयंसेवक क्रांतिकारियों के साथ खड़े रहे. संघ संस्थापक खुद असहयोग आंदोलन में जेल के अंदर रहे. आजाद ...

Read more

कार्यक्रम का उद्देश्य आत्मदर्शन है, शक्ति प्रदर्शन नहीं – सरसंघचालक मोहन भागवत

कानपुर (विसंके). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, कानपुर प्रान्त द्वारा रेलवे मैदान निराला नगर में आयोजित राष्ट्र रक्षा संगम संघ को सम्बोधित करते राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक पू. मोहन भागवत जी ने कहा कि संघ के विशाल कार्यक्रमों को लोग शक्ति प्रदर्शन का नाम देते हैं, पर जिसके पास शक्ति होती है, उसे उसके प्रदर्शन की आवश्यकता नहीं पड़ती है. संघ के पास अपनी शक्ति है, जिसके द्वारा संघ आगे बढ़ रहा है. ऐसे कार्यक् ...

Read more

एकत्रीकरण कार्यक्रम के लिये भूमि पूजन किया

कानपुर. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, कानपुर प्रान्त में पूज्य सरसंघचालक मोहन जी भागवत दिनांक 15 फरवरी 2015 दिन रविवार, दोपहर 2 बजे गणवेशधारी स्वयंसेवकों को सम्बोधित करेंगे. इस कार्यक्रम में 20 हजार गणवेशधारी स्वयंसेवक उपस्थित रहेंगे. कार्यक्रम में शाखा में प्रतिदिन आने वालों का शारीरिक प्रदर्शन घोष (बैण्ड) के साथ होगा. कानपुर के 41 नगरों की हर बस्ती से स्वयंसेवकों की टोली के साथ सम्पर्क अभियान चल रहा है. प्रभात ...

Read more

भारत की जनशक्ति के सदुपयोग से आयेंगे अच्छे दिन

कानपुर. विश्व संवाद केंद्र में नारद जयन्ती के उपलक्ष्य में बोलते हुये श्री नरेन्द्र जी (उत्तर क्षेत्र प्रचार प्रमुख) ने कहा कि नारद जी अपनी शक्ति सदैव "सर्वोन्नति एवं सर्वजन हिताय" के उच्चतम उद्देश्य की पूर्ति में लगाते थे. उन्होंने देवताओं की सकारात्मक और दानवों की नकारात्मक दोनों शक्तिओं का सदुपयोग कर समुद्र मन्थन जैसे असम्भव कार्य को सम्भव किया, जिससे निकले धनवन्तरि द्वारा आयुर्वेद जैसे रत्न की उत्पत्ति ...

Read more
Scroll to top