You Are Here: Home » समाचार » काशी

सोनभद्र में संघ कार्यकर्ता की गोली मारकर हत्या

काशी. सोनभद्र जिले में शनिवार सुबह राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ता सुरेश यादव की गोली मारकर हत्या कर दी गई. सुरेश यादव सुबह सैर करने के लिए निकले थे. तीन हमलावर बाइक पर सवार होकर आए थे. सुरेश यादव जिला परिवार प्रबोधन प्रमुख और वर्तमान में संगठन में समन्वय का कार्य भी देख रहे थे. घटना की जानकारी मिलने के पश्चात पुलिस जांच में जुट गई है, सीसीटीवी फुटेज के माध्यम से आरोपियों की पहचान का प्रयास किया जा रह ...

Read more

धर्म संसद में श्रीराम जन्मभूमि पर पारित प्रस्ताव

धर्मसंसद दिनांक 01 फरवरी, 2019 सेक्टर-14, ओल्ड जी. टी. रोड, कुम्भ मेला क्षेत्र, प्रयागराज प्रस्ताव - श्रीराम जन्मभूमि श्रीराम जन्मभूमि की मुक्ति का संघर्ष 1528 से ही हिन्दू समाज सन्तों के नेतृत्व में निरन्तर करता रहा है. इसी का परिणाम है कि आज वहां गुलामी का प्रतीक बाबरी ढांचा नहीं रहा. आज वहां श्रीरामलला का मन्दिर है, जिसमें निरन्तर पूजा-अर्चना हो रही है. अब भव्य मन्दिर का निर्माण करना शेष है. इसके लिए सन् ...

Read more

धर्म संसद में पारित प्रस्ताव – हिन्दू समाज के विघटन के षड्यंत्र

धर्मसंसद दिनांक 31 जनवरी, 2019 सेक्टर-14, ओल्ड जी. टी. रोड, कुम्भ मेला क्षेत्र, प्रयागराज प्रस्ताव (2) - हिन्दू समाज के विघटन के षड्यंत्र हिन्दू समाज की एकता को तोड़ने के लिए इस्लामिक, चर्च तथा साम्यवादी संगठन हमेशा से कुचक्र रचते रहे हैं. अब कुछ राजनैतिक दल व अन्य संगठन भी अपने निहित स्वार्थों के कारण लोक लुभावने नारे देकर व हिंसा का सहारा लेकर इन षड्यंत्रों को तेजी से बढ़ा रहे हैं.  इनकी कार्य पद्धति देखकर ...

Read more

धर्म संसद में पारित प्रस्ताव – शबरीमला में परम्परा और आस्था की रक्षा करने का संघर्ष – अयोध्या आन्दोलन के समकक्ष

धर्मसंसद दिनांक 31 जनवरी, 2019 सेक्टर-14, ओल्ड जी. टी. रोड, कुम्भ मेला क्षेत्र, प्रयागराज   प्रस्ताव (1) - शबरीमला में परम्परा और आस्था की रक्षा करने का संघर्ष - अयोध्या आन्दोलन के समकक्ष शबरीमला सहित भारत में स्थित प्रत्येक मन्दिर का अपना इतिहास एवं विशिष्ट परम्परा  रही है, जो भारत के पूज्य ऋषि-मुनियों द्वारा स्थापित है. सदियों से हिन्दू समाज इन परम्पराओं के आधार पर श्रद्धा से पूजन करता आया है. गत कुछ ...

Read more

शबरीमला आंदोलन समाज का संघर्ष है – डॉ. मोहन भागवत

धर्म संसद अधिवेशन, प्रयागराज प्रयागराज. धर्म संसद जगद्गुरू स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती जी महाराज की अध्यक्षता में प्रारंभ हुई, जिसमें देश भर के पूज्य संतों की उपस्थिति में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी ने कहा कि शबरीमाला समाज का संघर्ष है. वामपंथी सरकार न्यायपालिका के आदेशों के परे जा रही है. वे छलपूर्वक कुछ ग़ैर श्रद्धालुओं को मंदिर के अंदर ले गए हैं, जो अय्यप्पा भक्त हैं उनका दमन क ...

Read more

विश्व की सभी चुनौतियों से मुकाबला करने का सूत्र भारतीय संस्कृति में है

सर्वसमावेशी सांस्कृतिक कुम्भ प्रयागराज. विभिन्न मत, पंथ, सम्प्रदाय के विभिन्न प्रान्तों से पधारे भारत के हजारों पूज्य संत गंगा पण्डाल में एकत्रित हुए. जहाँ ‘एक सद्रविप्रा बहुधा वदन्ति’ ध्येय वाक्य पर पूज्य सन्तों ने अपने विचार रखे. कार्यक्रम का शुभारम्भ दीप प्रज्ज्वलन, गणेश वन्दना, हरिभजन से हुआ. सभी मत, पंथ, सम्प्रदाय के पूज्य सन्तों के वचनों की एक सुन्दर प्रदर्शनी लगाई गई थी, जिसका उद्घाटन सुबह 10 बजे हुआ ...

Read more

कुम्भ 2019 – संत दिवाकर भारती हठ व्रत से दे रहे सनातन धर्म का संदेश

कुम्भ मेले में साधु - संतों के शिविर लगभग बन चुके हैं. श्री पंच दशनाम आनन्द अखाड़े में प्रवेश करते ही सभी का ध्यान संत दिवाकर भारती की ओर चला जाता है. संत दिवाकर भारती ने हठ व्रत लिया हुआ है. उनका यह हठ व्रत आजीवन चलेगा. व्रत के तहत दिवाकर भारती जी ने अपना बायां हाथ ऊपर उठा रखा है. करीब 20 वर्ष की आयु में दिवाकर भारती जी, श्री महंत तपन भारती जी महाराज के शिष्य बने और तभी से संन्यास ग्रहण कर लिया. विगत तीन व ...

Read more

कुंभ 2019 – “अपना पूर्वोत्तर” कार्यक्रम का शुभारंभ

प्रयागराज (विसंकें). कुंभ मेले में संस्कार भारती द्वारा आयोजित "अपना पूर्वोत्तर" कार्यक्रम का शुभारंभ 17 जनवरी को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह सुरेश भय्याजी जोशी ने किया. कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में विख्यात लोकगायिका पदमश्री मालिनी अवस्थी एवं संस्थापक संस्कार भारती पद्मश्री विभूषित बाबा योगेंद्र जी उपस्थित रहे. कार्यक्रम मुख्य रूप से पूर्वोत्तर राज्यों की सांझा संस्कृति पर आधारित है. कार ...

Read more

प्रस्ताव – हिन्दू समाज के विघटन के षड्यंत्र

प्रयागराज में कुंभ के अवसर पर आयोजित विश्व हिन्दू परिषद् की प्रबंध समिति एवं प्रन्यासी बैठक में दो प्रस्ताव पारित किए गए. दूसरे प्रस्ताव में हिन्दू समाज की एकता को तोड़ने के लिए इस्लामिक, चर्च तथा साम्यवादी संगठन हमेशा से कुचक्र रचते रहे हैं. अब कुछ राजनैतिक दल व अन्य संगठन भी अपने निहित स्वार्थों के कारण लोक लुभावने नारे देकर व हिंसा का सहारा लेकर इन षड्यंत्रों को तेजी से बढ़ा रहे हैं. प्रस्ताव में इन प्रयास ...

Read more

प्रस्ताव – शबरीमला संघर्ष-अपनी परम्पराओं और आस्था को बचाने का संघर्ष

प्रयागराज में कुंभ के अवसर पर आयोजित विश्व हिन्दू परिषद् की प्रबंध समिति एवं न्यासी बैठक में दो प्रस्ताव पारित किए गए. पहला प्रस्ताव शबरीमला में अपनी परंपराओं तथा आस्था को बचाने का संघर्ष चल रहा है. हिन्दू विरोधियों द्वारा ऐतिहासिक, प्राचीन हिन्दू परम्परा के प्रति अविश्वास व अश्रद्धा का भाव निर्माण कर उन्हें अपमानित किया जा रहा है. प्रस्ताव में इन प्रयासों की निंदा की गई. केन्द्रीय प्रबन्ध समिति एवं प्रन्या ...

Read more
Scroll to top