You Are Here: Home » समाचार » काशी (Page 4)

सभी को एक साथ लेकर चलना ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का मूल मंत्र – इंद्रेश कुमार जी

इलाहाबाद (काशी). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय कार्यकारिणी के सदस्य इंद्रेश कुमार जी ने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने एकता को अपना सूत्र माना है, जिसमें सबसे अहम सभी को एक साथ लेकर चलने का मूल मंत्र है. इंद्रेश जी रविवार को प्रयाग संगीत समिति में आयोजित एक दिवसीय तरूण संगम के उद्घाटन सत्र में सम्बोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि आजकल लोग पश्चिम का कल्चर अपना रहे हैं, जो अनिष्ट करने वाला है. फीयर ...

Read more

भारतीय संस्कृति की अनमोल धरोहर है योग – दत्तात्रेय होसबले जी

वाराणसी (विसंकें). निवेदिता शिक्षा सदन बालिका इण्टर कालेज, तुलसीपुर, महमूरगंज में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर आयोजित योग कार्यक्रम में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन मधुकर भागवत जी की उपस्थिति में स्वयंसेवकों ने सामूहिक रूप से भाग लिया. इस अवसर पर योग कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए संघ के सह सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबले जी ने कहा कि योग भारतीय संस्कृति की अनमोल धरोहर है. योग का तात्पर् ...

Read more

हम अपनी सांस्कृतिक जड़ों से जुड़कर ही चुनौतियों का सामना कर सकते हैं

वाराणसी (विसंकें). विकास के साथ-साथ आज प्रकृति का पूरी तरह दोहन हो रहा है. पृथ्वी पर प्रदूषण प्रसार के लिए मनुष्य ही सबसे ज्यादा जिम्मेदार है. वेदों से संबंधित स्मृति साहित्य और संस्कृति साहित्य में पर्यावरण सम्बन्धी चेतना व अनुशासन की चर्चा है. जब तक मन और विचार के स्तर पर हमारे अन्दर शुचिता नहीं आयेगी, पर्यावरण प्रदूषण कायम रहेगा. यह विचार 31 मई को विश्व संवाद केन्द्र में ‘चेतना प्रवाह’ के पर्यावरण विशेषा ...

Read more

जनसंचार माध्यम राष्ट्रीय चरित्र निर्माण की दिशा में कार्य करें – इंद्रेश कुमार जी

वाराणसी (विसंकें). देश में देवर्षि नारद के दर्शन से सुराज आयेगा. परमज्ञानी महर्षि नारद का दर्शन आज भी सुसंगत है. हमें अपने इतिहास एवं परम्पराओं से प्रेरणा मिलती रहे, यह उपक्रम जनसंचार माध्यमों को राष्ट्रीय चरित्र की रक्षा के लिये करना चाहिए. सामाजिक जागरुकता से ही परिवर्तन की छोटी शुरुआत होगी. जिसका फलक व्यापक होगा. जनसंचार माध्यमों का लक्ष्य इंसानियत की भावना पैदा करना होना चाहिए. महर्षि नारद जयंती पर विश् ...

Read more

बहुआयामी व्यक्तित्व के धनी थे बाबा साहेब आंबेडकर – डॉ कृष्ण गोपाल जी

काशी (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डॉ कृष्ण गोपाल जी ने कहा कि जिस प्रकार किसी मंदिर में जाने से मन व आत्मा प्रफुल्लित होती है, वैसी ही अनुभूति काशी हिन्दू विवि में प्रवेश करने से होती है. बीएचयू के शताब्दी वर्ष का शुभारंभ होते ही महामना को भारत रत्न मिलना, यह सुखद संयोग है, हालांकि भारत रत्न देरी से मिला पर उचित समय पर मिला. बीएचयू महामना का शाश्वत मानसपुत्र व विग्रह है. उनकी कल्पनाएं ...

Read more

वतन के लिये दिये बलिदान से ही तय होता है ईमान – इंद्रेश कुमार जी

वाराणसी. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय कार्यकारिणी के सदस्य एवं मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के मार्गदर्शक इंद्रेश कुमार जी ने कहा कि स्वयं खुश रहना तथा दूसरों को खुशी देना ही इबादत है. दुनिया में संघर्ष नफरत के कारण होता है और जहन साफ हो तो संघर्ष नहीं होगा. अच्छी तहजीब समाज में फैलनी चाहिये, जिससे कल्याण हो. हिंदुस्तानी तहजीब और इस्लाम की रोशनी में देखेंगे तो संघर्ष से छुटकारे का रास्ता मिलेगा. नबी और र ...

Read more

शास्त्री जी ने दिल्ली में यातायात संभालने के लिये स्वयंसेवकों से किया था आग्रह – सुनील शास्त्री

वाराणसी. लाल बहादुर शास्त्री के पुत्र व पूर्व सांसद सुनील शास्त्री ने कहा कि संघ के पूज्य सरसंघचालक मोहन भागवत जी ने मेरे पिता लाल बहादुर शास्त्री के आवास को देखा और आवास को अंतर्राष्ट्रीय धरोहर बनाने को कहा है. मुझे खुशी होगी, जो बाबू जी का घर अंतर्राष्ट्रीय धरोहर बनेगा. पूर्व सांसद व शास्त्री जी के पुत्र सुनील शास्त्री ने कहा कि ऐसा लग रहा है, परिवार के मध्य खड़ा हूं. आप सभी के बीच में खड़े हो कर गौरवान्व ...

Read more

शास्त्री जी के गुण और विचार आज भी विद्यमान हैं – सरसंघचालक मोहन भागवत जी

वाराणसी (विसंके काशी). ‘भारत रत्न लाल बहादुर शास्त्री’ पुस्तक का लोकार्पण मुख्य अतिथि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहनराव भागवत जी के कर कमलों द्वारा राधाकृष्ण वाटिका रामनगर में सम्पन्न हुआ. बाबुल श्रीवास्तव एवं उनके साथियों ने शास्त्री गान प्रस्तुत कर श्रोताओं का मन मोह लिया. उन्होंने कहा कि आज संयोग है कि अंग्रेजी तिथि के अनुसार संघ के द्वितीय सरसंघचालक प.पू. श्रीगुरूजी की जयंती है. भारत रत्न लाल ...

Read more

देश के लिये प्राणों की आहुति देने वालों का सही इतिहास नहीं लिखा गया – अभय कुमार जी

वाराणसी (विसंके), 24 जनवरी. काशी हिन्दू विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवकों ने घोष की थाप पर पथसंचलन किया. स्वयंसेवक जोश से भरे जिस मार्ग से गुजरे वहीं लोग स्वागत के लिये अनायास ही आगे बढ़ आए. विश्वविद्यालय के विभिन्न छात्रावासों से स्वयंसेवकों के ब्रोचा छात्रावास के सामने मैदान में पहुंचने का सिलसिला 2.30 बजे से ही प्रारम्भ हो गया था. प्रातःकाल तक खाली पड़ा यह मैदान दो बजते-बजते सफेद श ...

Read more

स्मृति को नहीं, कृति को महत्व देने की जरूरत : अभय कुमार जी

वाराणसी (विसंके). केशव बाल पुस्तकालय द्वारा प्रतिवर्ष आयोजित होने वाली सामान्य एवं संस्कृति-ज्ञान प्रतियोगिता का प्रतिभा सम्मान एवं पुरस्कार वितरण समारोह निवेदिता शिक्षा सदन के भाउराव देवरस सभागार में संपन्न हुआ. समारोह में 84 प्रतिभाओं को सम्मान फलक पहनाकर तथा शिल्ड एवं पुस्तकें देकर सम्मानित किया गया.कार्यक्रम में मुख्य वक्ता राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रान्त प्रचारक अभय कुमार जी ने कहा कि पुरस्कार प्राप ...

Read more
Scroll to top