You Are Here: Home » समाचार » कोंकण

पत्रकारों को व्यवहार में पारदर्शिता और नैतिकता का मापदंड अपनाना चाहिये – दत्तात्रेय होसबले जी

मुंबई (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबले जी ने कहा कि समाज को शिक्षा व दिशा देने वाले पत्रकारों (मीडिया) को देखने, बोलने और लिखने को लेकर आत्मपरीक्षण करना चाहिए. पत्रकारों को अपने व्यवहार में पारदर्शिता रखनी चाहिए और नैतिकता का मापदंड अपनाना चाहिए. समाज में सकारात्मकता लाने के लिए अपने आसपास जो भी अच्छा हो रहा है, उसे प्रमुखता से स्थान देना चाहिए. हमारा वाचक या दर्शक वर्ग ...

Read more

साधना के बिना प्रतिभा का सामर्थ्य असंभव होता है – डॉ. मोहन भागवत जी

मुंबई (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी ने कहा कि अपनी प्रतिभा के प्रकाश से जगमगाने वाली प्रतिभाओं की नक्षत्र मालिका को अभिवादन करता हूँ. आज सम्मानित हुई प्रतिभाओं का सम्मान मैं करूँ, ऐसा मेरे पास कुछ भी नहीं है. फिर भी इस कार्यक्रम में आया हूँ, उत्कर्ष के नित नए शिखरों को छूने वाली इन प्रतिभाशाली शख्सियतों के कृतित्व के परिचय से, मनोगत से सामने आने वाले भारत के उज्ज्वल भविष् ...

Read more

विश्व को उन्नतावस्था में ले जाने की क्षमता सिर्फ मनुष्य के पास है – डॉ. मोहन भागवत जी

मुंबई (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी ने कहा कि भारत को राष्ट्र के नाते आगे बढ़ने के लिये उसकी भारतीयता भी कायम रखने की आवश्यकता है. भारत एक महान राष्ट्र बनना चाहिये, यह सपना हर किसी भारतीय का होता है. परन्तु समाज के सामने अच्छे उदाहरण प्रस्तुत करने की भी जरूरत होती है. सरसंघचालक जी मुंबई में सुविख्यात चित्रकार वासुदेव कामत जी की षष्टिपूर्ति के अवसर पर आयोजित विशेष कार्यक्र ...

Read more

लोकतंत्र का सार है आम सहमति – दत्तात्रेय होसबले जी

गोवा. 04 से 06 नवंबर 2016 तक “इंडिया फाउंडेशन एट कैनाकोना” द्वारा गोवा में आयोजित विचारक शिखर सम्मेलन (इंडिया आइडियाज़ कन्क्लेव 2016) में एक सत्र को संबोधित करते हुए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबले जी ने कहा कि यह आवश्यक है कि हम मुद्दों पर बातचीत करें. भारत की आजादी के 7 दशक बाद भी हम राष्ट्र, राष्ट्रीयता और धर्म आदि विषयों पर आम सहमति पर नहीं पहुँच पाये हैं. सन् 1997 के एक विज्ञ ...

Read more

विश्व में भारत पहचान उसके विशिष्ट गुणों से है – डॉ. मोहन भागवत जी

मुंबई. 06 अक्तूबर को सारस्वत बँक मुंबई ने अपने पूर्वाध्यक्ष स्व. एकनाथ ठाकुर की स्मृति में व्याख्यान माला का आयोजन स्वातंत्र्यवीर सावरकर राष्ट्रीय स्मारक, दादर के सभागृह में किया. इस अवसर पर मुख्य वक्ता के रूप में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी ने 'एकात्म मानव दर्शन' विषय पर व्याख्यान दिया. मराठी भाषा के ज्येष्ठ साहित्यकार सर्वश्री माधु मंगेश कर्णिक मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रहे ...

Read more

सरस्वती नदी की खोज भारत को समृद्ध करेगी – हरिभाऊ वझे जी

मुंबई (विसंकें). इतिहास संकलन योजना के केंद्रीय मार्गदर्शन हरिभाऊ वझे जी ने कहा कि सरस्वती नदी की खोज भारत को गौरवशाली सांस्कृतिक वैभव तथा जल समृद्धि की ओर ले जाएगी. हरिभाऊ जी श्रीकृष्ण मंदिर हॉल, श्रीकृष्ण नगर बोरीवली पूर्व में सरस्वती – हिन्दू संस्कृति की खोज विषय पर आयोजित व्याख्यान में उपस्थित लोगों को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि हमारा समाज गंगा-जमुना और सरस्वती, इस त्रिवेणी संगम में से सरस्वती न ...

Read more

व्यक्ति को समष्टि से जोड़ना, यही हिन्दू चिंतन का मूल आधार है – गुणवंत सिंह जी

मुंबई (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय सह सेवा प्रमुख गुणवंत सिंह कोठारी जी ने कहा कि प्रकृति को उपभोग की वास्तु समझकर पाश्चात्य विचारों ने मानव की प्रगति के लिए प्रकृति का विनाश किया है. लेकिन मानव भी इसी प्रकृति की कड़ी का हिस्सा है और हमारी जरुरत से ज्यादा प्रकृति से कुछ भी न लेना, यही प्रकृति की सेहत तथा हमारे भविष्य के भी हित में होगा. भारतीय संस्कृति के अभिभावकों ने इसी बात को हजारों स ...

Read more

मानवता की दृष्टि से समाज में सेवा का संस्कार अत्यंत आवश्यक – डॉ. कृष्ण गोपाल जी

मुंबई (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डॉ. कृष्ण गोपाल जी ने कहा कि मानवता की दृष्टी से सेवा का संस्कार अत्यंत आवश्यक है. अभावग्रस्त तथा किसी आपदा में फंसे अपने समाज बांधवों को तत्परता से मदद पहुंचाने का कार्य हिन्दू समाज बड़ी सहजता तथा आत्मीयता के साथ करता रहा है. चाहे वो सुनामी का समय हो, या नेपाल में आया धरणीकंप (भूकंप) हो, अथवा चैन्नई में भारी बारिश के कारण बाढ़ की स्थिति हो. हमारे सम ...

Read more

डॉ. मुंजे ने समाज में वीर रस का जागरण करने के लिए मिलट्री अकादमी की स्थापना की

मुंबई (विसंकें). सेंट्रल हिन्दू मिलट्री एजूकेशन सोसायटी संचालित भोंसला मिलट्री स्कूल के संस्थापक धर्मवीर डॉ. बालकृष्ण शिवराम मुंजे की जयंती पर कार्यक्रम आयोजित किया गया. डॉ. मुंजे की 144वीं जयंती विद्यालय प्रांगण में धूमधाम से मनाई गई. कार्यक्रम में मुख्य अतिथि ब्रिगेडियर प्रदीप कौल ने कहा कि भोंसला मिलट्री स्कूल लड़कियों के सैनिक विद्यालय के रूप में एक वैभव के समान है. सेंट्रल हिन्दू मिलट्री एजूकेशन सोसायट ...

Read more

दामूनगर में अग्निकांड पीड़ितों की मदद को जुटे हैं 250 स्वयंसेवक

मुंबई (विसंकें). पश्चिमी उपनगर के वेस्टर्न एक्सप्रेस हाइवे के समीप कांदिवली के दामू नगर में लगी आग और वहां हुए विस्फोट को सुनकर लोखंडवाला फाउंडेशन विद्यालय में बैठी मंडली आवाज की ओर दौड़ पड़े थे. दामूनगर की चाल से निकलने वाले धुएं को देखकर उसी परिसर के एक निजी अस्पताल के संचालक व राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के शशिभूषण शर्मा अपने कुछ साथियों के साथ मदद के लिए दौड़ पड़े. इस आग ने सैकड़ों लोगों के सपनों को चकनाचू ...

Read more
Scroll to top