You Are Here: Home » समाचार » जयपुर (Page 10)

मां – बेटियों की इज्जत करने से ही देश खुशहाल बन सकता है – इंद्रेश जी

अजमेर. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय कार्यकारिणी के सदस्य एवं मुस्लिम राष्ट्रीय मंच (एमआरएम) के मार्गदर्शक इंद्रेश कुमार जी ने कहा कि बंदूक, खौफ, विवादों और कट्टरता से मुल्क की तरक्की मुश्किल है. बेहतर हिंदुस्तान बनाने के लिए कन्या भ्रूण हत्या, शराब और दूसरी सामाजिक बुराइयों को छोडऩा होगा. तभी परिवार, समाज और भारत खुशहाल बनेगा. इंद्रेश जी मुस्लिम राष्ट्रीय मंच द्वारा अजमेर में आयोजित अखिल भारतीय मु ...

Read more

भारत में विवाह एक संस्कार, जबकि विदेशों में अनुबंध है – सुब्रमण्यम जी

जयपुर (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय कुटुम्ब प्रबोधन प्रमुख सुब्रमण्यम भट्ट ने कहा कि हिन्दू संकल्पना के अनुसार विवाह एक शाश्वत संबंध है. धर्म, प्रजा और रति ये तीनों विवाह के उद्देश्य माने गए हैं. धर्म के आधार पर कुटुम्ब को खड़ा किया गया, जिससे भारत में कुटुम्ब एक सुदृढ़ संस्था बन गई. भारत में विवाह एक संस्कार है, जबकि विदेशों में केवल अनुबंध है. सुब्रमण्यम जी सोमवार को भारती भवन पर आयोजि ...

Read more

अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर पहला हमला नेहरू सरकार ने 1951 में किया था – जे नंदकुमार जी

जयपुर (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय सह प्रचार प्रमुख जे. नंदकुमार जी ने कहा कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर पहला हमला पहले संविधान संशोधन के रूप में नेहरू सरकार ने साप्ताहिक पत्रिका पर प्रतिबंध लगाकर किया था. मद्रास स्टेट से रोमेश थापर की क्रास रोड्स नामक पत्रिका में नेहरू की आर्थिक एवं विदेश नीतियों के खिलाफ एक लेख लिखा गया था, जिसके फलस्वरूप इस पत्रिका को मद्रास सरकार ने प्रतिबंधित कर द ...

Read more

धर्म दिखावे की वस्तु नहीं, धारण करने योग्य – साध्वी ऋतंभरा

जयपुर (विसंकें). ‘छोटी काशी’ जयपुर के सवाई मानसिंह स्टेडियम के इन्वेस्टमेंट ग्राउण्ड में आयोजित चार दिवसीय ‘हिन्दू स्प्रिचुअल एण्ड सर्विस फेयर - 2015′ का रविवार को समापन हो गया. समापन समारोह में साध्वी ऋतम्भरा जी, केन्द्रीय विदेश राज्य मंत्री जनरल वीके सिंह जी सहित दर्जनों जानी-मानी हस्तियों ने हिस्सा लिया. साध्वी ऋतम्भरा जी ने कहा कि धर्म दिखावे की वस्तु नहीं है, वह तो धारण करने योग्य है. कुछ लोग धर्म को व ...

Read more

मनुष्य को कर्म एवं दायित्वों का निरंतर निर्वहन करना चाहिए – अजीत जी

भरतपुर (विसंकें). समिधा भवन जवाहर सिंह नगर भरतपुर में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संपर्क विभाग द्वारा प्रबुद्ध नागरिक सम्मेलन का आयोजन किया गया. 10 अक्तूबर को आयोजित सम्मेलन में अखिल भारतीय सह सेवा प्रमुख अजीत महापात्र जी ने मुख्य वक्ता के रूप में शिरकत की. अजीत जी ने भारतीय संस्कृति में चार आश्रमों का उल्लेख करते हुए कहा कि मनुष्य जो प्रकृति में सर्वाधिक विशिष्ट एवं श्रेष्ठ होता है, उसे कर्म एवं दायित्व का ...

Read more

कन्या को हीरे की तरह सुरक्षित रखने का संकल्प लें – साध्वी विजय

जयपुर (विसंकें). जयपुर स्थित सवाईमानसिंह स्टेडियम के इन्वेस्टमेंट ग्राउंड में जारी हिन्दू स्प्रिच्युअल एंड सर्विस फेयर-2015 में शनिवार को कन्यावंदन कार्यक्रम का आयोजन किया गया. कार्यक्रम को सम्बोद्धित करते हुए मुख्य वक्ता साध्वी विजय उर्मिलिया ने कहा कि केवल माथे पर टीका लगाने से ही कन्या पूजन नहीं होता है. कन्या को हीरे की तरह सुरक्षित रखने का पक्का संकल्प लेना होगा. इतना करेंगे, तब जाकर कन्या पूजन की सही ...

Read more

जन्म से मिले संस्कारों के कारण हिन्दू समाज सभी की सेवा करता है – डॉ. कृष्णगोपाल जी

जयपुर (विसंकें). हिन्दू स्प्रिच्युअल एंड सर्विस फेयर-2015 का 8 अक्तूबर को जयपुर स्थित सवाई मानसिंह स्टेडियम के इन्वेस्टमेंट ग्राउंड में विधिवत आगाज हो गया. इसका शुभारंभ आर्ट ऑफ़ लिविंग के प्रणेता श्रीश्री रविशंकर जी ने वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ किया. इस दौरान राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डॉ. कृष्ण गोपाल जी, व संत समाज उपस्थित था. इससे पूर्व भव्य कलश यात्रा निकली गई, जिसमें सैंकड़ों महिलाओं ने हिस् ...

Read more

हिन्दू जीवन दृष्टि में स्त्री-पुरुष एक ही तत्व के दो प्रकटीकरण – डॉ. मोहनराव भागवत जी

जयपुर (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहनराव भागवत ने कहा कि भारत को परमवैभव संपन्न बनाना है तो भारत की मातृशक्ति का जागरण और सशक्तिकरण करना होगा. भागवत जी ने कहा कि पुरुषों के बराबर उनका योगदान हो ऐसी स्थिति उत्पन्न करना यह आज के समय की आवश्यकता है. यह सशक्तिकरण इस देश के सनातन मूल्यों के आधार पर ही करना पड़ेगा, क्योंकि इन सब विषयों में बाकि दुनिया का जो अनुभव है वह हमारी तुलना में बहुत ...

Read more

महिला विषयक भारतीय दृष्टिकोण विषय पर स्तम्भ लेखक संगोष्ठी का शुभारम्भ

जयपुर (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रचार विभाग की ओर से महिला विषयक भारतीय दृष्टिकोण विषय पर स्तम्भ लेखक संगोष्ठी का शुभारम्भ पूज्य सरसंघचालक मोहन राव भागवत जी के करकमलों द्वारा दीप प्रज्ज्वलन से हुआ. महाराष्ट्र, गोवा, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान, दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तरांचल और पश्चिमी उत्तर प्रदेश से 130 स्तम्भ लेखक संगोष्ठी में भाग ले रहे हैं. भारतीय शिक्षण मं ...

Read more

जयपुर में जनता ने रक्षा सूत्र बांध लिया मंदिरों की पुनर्स्थापना का संकल्प

जयपुर (विसंकें). विश्व हिन्दू परिषद के केन्द्रीय मंत्री कोटेश्वर जी ने कहा कि हाल ही में तोड़े प्राचीन मंदिरों को पुन: बनाने का अपना वायदा राज्य सरकार समय पर पूरा करे, नहीं तो घोर तांडव होगा. कोटेश्वर जी रविवार को जयपुर में मंदिर संरक्षण समिति जयपुर  के विशाल संकल्प कार्यक्रम में हजारों लोगों को संबोधित कर रहे थे. सरकार को अपना वादा याद दिलाने के लिए हिन्दू समाज पुनः छोटी काशी की सड़कों पर एकत्र नजर आया. मं ...

Read more
Scroll to top