You Are Here: Home » समाचार » झारखंड (Page 2)

धर्म का मतलब केवल पूजा नहीं है – डॉ. मोहन भागवत जी

धर्म संपूर्ण सृष्टि को जोड़कर रखता है, जीवन सहित सृष्टि की उन्नति करता है - डॉ. मोहन भागवत जी जमशेदपुर (विसंकें). 68वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर बिष्टुपुर स्थित गुजराती सनातन समाज में राष्ट्रध्वज को सलामी देने के बाद राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी ने कहा कि राष्ट्र ध्वज के बीच में जो नीले रंग का चक्र है, वह धर्म चक्र है. धर्म का मतलब केवल पूजा नहीं है. सारे जीवन की जिससे धारणा होती है ...

Read more

विमुद्रीकरण कड़वी दवा पर दूरगामी परिणाम बेहतर – स्वांत रंजन जी

सरकार के कार्यों का समाज करता है आंकलन रांची (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय बौद्धिक प्रमुख स्वांत रंजन जी ने विमुद्रीकरण पर केंद्र सरकार का समर्थन किया. उन्होंने कहा कि जिस तरह पुरानी बीमारियों से छुटकारा दिलाने के लिए कड़वी दवा देनी पड़ती है, उसी तरह भ्रष्टाचार एवं कालाधन को समाप्त करने के लिए भी यह कड़वी दवा ही है. प्रारंभ में यह कष्टप्रद लग रहा है, लेकिन इसका दूरगामी परिणाम बेहतर होगा. ...

Read more

वैभवशाली, शक्तिशाली, संगठित व स्वाभिमानी भारत बनाना है – दत्तात्रेय होसबले जी

देश हमें देता है सबकुछ, हम भी तो कुछ देना सीखें रांची (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबले जी ने कहा कि हमें वैभवशाली, शक्तिशाली, चरित्रवान एवं संगठित भारत बनाना है. जिस भारत मां ने हमें सब कुछ दिया है, उसके लिए हम भी कुछ करना सीखें. स्वयंसेवक इसी भाव को लेकर काम भी करता है. वह पूरे देश को अपना मानता है. काम करने के दौरान उसके सामने किसी तरह का स्वार्थ नहीं रहता है. सह सरकार ...

Read more

संघ का कार्य व्यक्ति निर्माण, दूसरे धर्मावलंबियों से कोई विद्वेष नहीं – राकेश लाल जी

राँची (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ झारखंड सह प्रांत कार्यवाह राकेश लाल जी ने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ समाज का संगठन है, समाज को संगठित करते हुए राष्ट्रभक्ति की भावना प्रबल करना ही संघ का मुख्य उद्देश्य है. हम अन्य सभी धर्म एवं धर्मावलंबियों का सम्मान करते हैं, उनसे संघ का किसी प्रकार का कोई विद्वेष नहीं है. राकेश जी संघ कार्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता में संबोधित कर रहे थे. उन्होंने अखिल भारतीय ...

Read more

सीएनटी एक्ट संशोधन के विरोध के पीछे चर्च और मिशनरीज़

रांची (विसंकें). सीएनटी एक्ट में संशोधन के खिलाफ सरकार के विरोध में चर्च और मिशनरियों की भूमिका जांच एजेंसियों के सवालों के घेरे में है. विशेष शाखा ने सीएनटी एक्ट में बदलाव को लेकर शुरु हुई कवायद के बाद एक रिपोर्ट सौंपी है. रिपोर्ट में कहा गया है कि 15 सितंबर को आदिवासी बुद्धिजीवी मंच ने रांची में रैली बुलायी थी, जिसमें रांची, गुमला, खूंटी सिमडेगा लोहरदगा के चर्च द्वारा लोगों को शामिल किया गया. आयोजन में एक ...

Read more

जब देश की बात हो, तो सभी का स्वर एक ही होना चाहिए – इंद्रेश कुमार जी

रांची (विसंकें). फोरम फॉर अवेयरनेस ऑफ नेशनल सेक्योरिटी (फैंस) के मुख्य संरक्षक और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ अखिल भारतीय कार्यकारिणी के सदस्य इंद्रेश कुमार जी ने कहा कि देश की एकता और अखंडता के मुद्दों पर राजनीतिक दलों को एक सुर में बात करनी चाहिए. तीन तलाक का विरोध और सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठाने वालों को भटका हुआ बताते हुए कहा कि राष्ट्रीय हितों के मुद्दों पर सांप्रदायिक राजनीति का गंदा खेल देश के भविष्य क ...

Read more

मंच का दूसरा नाम ही आंदोलन और संघर्ष है – कश्मीरी लाल जी

झारखंड (विसंकें). स्वदेशी जागरण मंच के राष्ट्रीय संगठक कश्मीरी लाल जी ने कहा कि मंच का दूसरा नाम ही आंदोलन और संघर्ष है. इसलिए मंच अपनी मांगों को लेकर आंदोलन संघर्ष से पीछे नहीं हटेगा. वे शनिवार को तुलसी भवन में स्वदेशी जागरण मंच संघर्ष वाहिनी की ओर से आयोजित दो दिवसीय सम्मेलन के उद्घाटन सत्र को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि आंदोलन एक कठिन रास्ता है, लेकिन योजनाबद्ध तरीके से की जाए तो सफलता निश्चित है. ...

Read more

देवर्षि नारद पत्रकारिता के आधार स्तम्भ हैं – राम अवतार जी

रांची (विसंकें). राम अवतार नरसरिया जी ने कहा कि “वर्तमान समय में पत्रकारों को आद्य पत्रकार देवर्षि नारद से सीखने की जरूरत है. पत्रकारों का काम खबरों का संग्रहण, सम्पादन और सम्प्रेषण करना है और नारद बखूबी इस काम को करते थे. जनहित के जो मुद्दे होते थे, जितनी स्पष्टता और निर्भीकता से वे सम्बन्धित लोगों तक पहुंचाते थे. वह आज के पत्रकारों के लिए मील का पत्थर है. यदि एक पंक्ति में कहा जाय तो देवर्षि नारद पत्रकारि ...

Read more

झारखंड में 360 स्थानों पर 586 दैनिक शाखाएं लग रहीं – राकेश लाल जी

रांची (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ झारखंड प्रांत द्वारा संघ कार्यालय सभागार में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए प्रांत सह कार्यवाह राकेश लाल जी ने कहा कि “झारखंड सहित देशभर में शाखाओं में वृद्धि हुई है. देशभर में पिछले एक वर्ष में 5524 शाखाएं और 925 साप्ताहिक मिलन बढ़े हैं. झारखंड में संघकार्य की दृष्टि से कुल 24 जिले, 259 खंड, 1276 मंडल, 04 महानगर जो 45 नगर 516 बस्तियों में बंटे हैं. अगर श ...

Read more

प्रतियोगिता के पहले दिन रहा उत्साह, आनंद का वातावरण

रांची (विसंकें). रांची में आयोजित सातवें वनवासी खेल प्रतियोगिता का पहला दिन विजय के आनंद एवं उत्साह से भरपूर रहा. होटवार खेल गांव के एथलेटिक मैदान में विविध प्रकार की दौड़, लम्बी कूद एवं गोला फैंक के परिणाम घोषित हुए. सब जूनियर, जूनियर एवं ओपन आयु वर्ग के बालक एवं बालिकाओं की प्रतियोगिताएं सम्पन्न हुईं. सभी को एक सामूहिक कार्यक्रम में स्वर्ण, रजत एवं कांस्य पदक तथा प्रशस्तिपत्र प्रदान किये गए. वनवासी कल्याण ...

Read more
Scroll to top