You Are Here: Home » समाचार » दक्षिण बिहार (Page 2)

मानसिक व आध्यात्मिक शांति भारतीय चिंतन में ही संभव – सुरेश सोनी जी

पटना (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह सुरेश सोनी जी ने कहा कि आधुनिक तकनीक ने हमारे जीवन को सुविधापूर्ण बना दिया है, लेकिन यह ध्यान रखना जरूरी है कि मानव जीवन के लिए तकनीक ही सब कुछ नहीं है. वह तो एक साधन मात्र है. तकनीक हमें एक - दूसरे से संपर्क करा सकती है, लेकिन संबंध नहीं बना सकती. यही कारण है कि सोशल मीडिया पर हजारों लोगों से जुड़े रहने के बावजूद व्यक्ति अपने को अकेला महसूस करता है. स ...

Read more

स्वयंसेवकों का समर्पण ही संघ के निरंतर विकास का आधार – सह सरकार्यवाह जी

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पांच सरसंघचालकों के व्यक्तित्व एवं कर्तृत्व पर केंद्रित पुस्तकों का लोकार्पण ‘हमारे डॉ. हेडगेवार जी’, ‘हमारे श्रीगुरुजी’, ‘हमारे बालासाहब देवरस’, ‘हमारे रज्जू भैया’ तथा ‘हमारे सुदर्शन जी’ का लोकार्पण पटना. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबले जी ने इंदिरा गांधी तारामंडल स्थित सभागार में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पांच सरसंघचालकों के व्यक्तित्व एवं कर्तृत्व पर ...

Read more

भारत की संस्कृति एकता की विविधता की बात करती है – डॉ. मोहन भागवत जी

पटना (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी ने कहा कि संघ का स्वयंसेवक स्वयं की प्रेरणा से काम करता है. संगठन किसी के भय, प्रतिक्रिया व प्रतिरोध में काम नहीं करता. भारत की संस्कृति विविधता में एकता की बात नहीं, बल्कि एकता की विविधता की बात करती है. वे राजेन्द्र नगर स्थित शाखा मैदान में स्वयंसेवकों को संबोधित कर रहे थे. संघ कार्य का उद्देश्य स्पष्ट करते हुए सरसंघचालक जी ने कहा कि ब ...

Read more

सब लोग तन-मन-धन से देशहित में काम करेंगे, तभी देश आगे बढ़ेगा – डॉ. मोहन भागवत जी

मुजफ्फरपुर (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के उत्तर - पूर्व क्षेत्र (बिहार-झारखंड) के संघ कार्यकर्ताओं की बैठक का समापन सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी के उद्बोधन से हुआ. 08 फरवरी से सदातपुर स्थित सरस्वती विद्या मंदिर के प्रांगण में संघ कार्यकर्ताओं के अलग-अलग समूहों की बैठक हो रही है. अंतिम बैठक के समापन सत्र को संबोधित करते हुए सरसंघचालक जी ने कहा कि पूरे विश्व के बुद्धिजीवियों का एक ही मत है कि सद्गुण संप ...

Read more

भेदभाव मुक्त समाज का निर्माण करना ही संघ का उद्देश्य – डॉ. मोहन भागवत जी

मुजफ्फरपुर (विसंकें). बिहार, झारखण्ड के सभी 24 विभागों के 58 जिलों से चयनित किसान कार्यकर्ताओं की बैठक शहर के सदातपुर स्थित सरस्वती विद्या मंदिर सह भारती शिक्षण संस्थान के प्रांगण में संपन्न हुई. बैठक में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी का जैविक खेती सह ग्राम विकास हेतु प्रेरक मार्गदर्शन प्राप्त हुआ. सरसंघचालक जी ने कहा कि जिन लोगों ने रासायनिक खेती करके अपनी भूमि को मात्र 400 वर्षों ...

Read more

संवाद कार्यशाला का उद्घाटन

मुजफ्फरपुर (विसंकें). मुजफ्फरपुर के एमडीडीएम कॉलेज में तीन दिवसीय संवाद कार्यशाला का उद्घाटन महाविद्यालय की प्राचार्य प्रो. ममता रानी जी ने किया. विश्व संवाद केंद्र द्वारा आयोजित कार्यशाला में ममता रानी जी ने कहा कि संवाद हमारे जीवन के लिए अत्यंत आवश्यक है. सुसंवाद नहीं होने से विवाद उत्पन्न होता है. सही ढंग से संवाद नहीं करने पर कई गुत्थियां अनसुलझी रह जाती हैं. संवाद में सुस्पष्टता होनी चाहिए. अपनी बातों ...

Read more

सरसंघचालक जी ने दरभंगा में किया कैंसर अस्पताल का उद्घाटन

दरभंगा (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी ने अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त कैंसर अस्पताल का उद्घाटन किया. कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि चिकित्सा सबके लिए सुलभ हो, यह आज की आवश्यकता है. दुर्भाग्य से आज चिकित्सा प्रणाली भी व्यवसाय बन गई है. सिर्फ सरकारी स्तर पर ही नहीं, बल्कि सामाजिक स्तर पर भी बदलाव लाने की आवश्यकता है. दरभंगा के इस कैंसर अस्पताल से इस क्षेत्र के ...

Read more

पत्रकारिता के पेशे में सम्मान के साथ-साथ जिम्मेदारी भी – डॉ. संजय जी

पटना. पटना विश्वविद्यालय के प्राध्यापक डॉ. संजय पासवान जी ने कहा कि पत्रकारिता के पेशे में सम्मान के साथ-साथ जिम्मेदारी भी होती है. आज जब देश के राजनीतिक और सामाजिक तानेबाने में जीवन मूल्यों का पतन हो रहा है, ऐसे समय में पत्रकारों की जिम्मेदारी बढ़ जाती है. लेकिन, दुःख की बात है कि बाजार ने देश, समाज और पत्रकार को अपने प्रभाव में ले लिया है. इस संक्रमण से उबरकर लोक कल्याण का दायित्व पत्रकारों पर है. वे विश्व ...

Read more

श्रद्धा कभी खंडित नहीं होनी चाहिए – डॉ. मोहन भागवत जी

आरा (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी ने कहा कि व्यक्ति के विकास के लिए आवश्यक है कि वह अपनी श्रद्धा पर दृढ़ रहे. भक्त प्रह्लाद को विश्वास था कि कण कण में भगवान का निवास है. लाख प्रलोभनों और धमकियों के बावजूद वह अपने विश्वास पर कायम रहे और खंभे से भगवान प्रगटित हुए. सरसंघचालक जी स्वामी रामानुजाचार्य के 1000वीं जयंती के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रम में संबोधित कर रहे थे. आरा क ...

Read more

‘ग्राम्या’ के माध्यम से पंचायत की जमीनी हकीकत सामने आई है – कपिलदेव कामत

पटना (विसंकें). विश्व संवाद केन्द्र द्वारा प्रकाशित मुखिया डायरेक्ट्री ‘ग्राम्या’ का विमोचन करते हुए बिहार सरकार के पंचायती राज मंत्री कपिलदेव कामत ने कहा कि ग्राम्या के माध्यम से पंचायत की जमीनी हकीकत सामने आई है. यह हर्ष का विषय है कि विश्व संवाद केन्द्र पंचायत प्रतिनिधियों के बारे में इतनी जानकारी इकट्ठा कर लोगों तक पहुंचाने का काम कर रहा है. बुधवार को विश्व संवाद केंद्र सभागार में आयोजित विमोचन कार्यक्र ...

Read more
Scroll to top