You Are Here: Home » समाचार » दक्षिण बिहार (Page 5)

इतिहास को आधारयुक्त बनाकर भारतीय संदर्भ में लिखने की आवश्यकता – सतीश चंद्र जी

पटना (विसंकें). कुरुक्षेत्र विवि से सेवानिवृत्त आचार्य (इतिहास) एवं अखिल भारतीय इतिहास संकलन योजना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सतीश चंद्र मित्तल ने कहा कि प्राचीन भारतीय इतिहास का आधार आज भी यहां के पुराणों यथा रामायण -महाभारत तथा वेद-वेदांगों में भरा पड़ा है. जबकि इसके इतर कुछ वामपंथी विचारधारा के इतिहासकार वास्तविकता को झुठलाकर इसे मिटाने की कोशिश में लगे हैं. इस मानसिकता को बदलना पड़ेगा. सतीश जी स्थानीय अरविन्द ...

Read more

हिन्दी साहित्य के इतिहास का पुनर्लेखन आवश्यक – डॉ. अमरनाथ सिन्हा

पटना (विसंकें). बीएन मंडल विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति एवं साहित्यकार डॉ. अमरनाथ सिन्हा ने कहा कि हिन्दी साहित्य के पुनर्लेखन की अत्यंत आवश्यकता है. मध्यकाल के कई साहित्यकारों का उल्लेख प्रचलित इतिहास में नहीं है. भक्ति काल में ज्यादातर वैष्णव मत के साहित्यकारों को स्थान मिला है. सिद्धों, नाथों, जैन और बौद्ध मत के साहित्यकारों का स्थान इतिहास में नहीं है. यह प्रवृति दुर्भाग्यपूर्ण है. वह आचार्य जानकी वल्लभ ...

Read more

प्रो. श्याम शर्मा बने संस्कार भारती के दक्षिण बिहार प्रांत अध्यक्ष

पटना (विसंकें). वरिष्ठ कलाकार एवं पटना आर्ट कॉलेज के पूर्व प्राचार्य प्रो. श्याम शर्मा संस्कार भारती (दक्षिण बिहार) के नये अध्यक्ष बने हैं. प्रो. श्याम शर्मा की पहचान पूरी दुनिया में छापा कला के विशेषज्ञ के रूप में होती है. विश्व के कई स्थानों पर उनके चित्रों की प्रदर्शनी लग चुकी है. राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कई सम्मान प्राप्त हुए हैं. प्रो. शर्मा ने बिहार की कला, पटना कला समेत कई पुस्तकों का लेख ...

Read more

नहीं रहे बाबाराव पुराणिक

पटना (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ प्रचारक और उत्तर पूर्व क्षेत्र (बिहार-झारखंड) के पूर्व प्रचारक प्रमुख आनंद वासुदेव पुराणिक उपाख्य बाबाराव पुराणिक ने आज प्रातः राजनांदगांव में अपनी अंतिम सांस ली. बाबाराव गत दो दशक से बिहार में सक्रिय थे. बाबाराव का जन्म दिसंबर 1931 को वर्धा में हुआ था. उच्च शिक्षित बाबाराव 1965 में पूजनीय मोरोपंत पिंगले के आग्रह पर प्रचारक बने. प्रचारक बनने के पश्चात उन्हों ...

Read more

जम्मू कश्मीर समस्या को राजनैतिक चश्मे से देखना घातक – अरूण कुमार जी

पटना (विसंकें). जम्मू कश्मीर अध्ययन केंद्र दिल्ली के निदेशक एवं राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय सह संपर्क प्रमुख अरुण कुमार जी ने कहा कि जम्मू कश्मीर की समस्या को राजनैतिक चश्मे से देखा जाना घातक है. देश के विभाजन के समय में जम्मू कश्मीर का गठन एक विशेष परिस्थिति में हुआ था. वहां के संवैधानिक एवं विधिक स्थिति पर पारदर्शी तरीके से चिंतन करने की जरूरत है. वह जम्मू कश्मीर अध्ययन केंद्र तथा चाणक्य राष्ट् ...

Read more

लोकमन संस्कार, सतत् लोक प्रशिक्षण से ही लोकतंत्र का आदर्श स्वरूप सामने आएगा – सह सरकार्यवाह जी

पटना (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह दत्तात्रेय जी होसबले ने कहा कि भारतीय चिंतन को ठीक ढंग से दुनिया समझ नहीं पाई है. यहां जनता की इच्छा सर्वोपरि होती थी, बशर्ते वह मर्यादित और तार्किक हो. भारत में हमेशा जनतंत्र रहा है. राजशाही में भी जनतंत्र के बीज देखने को मिलते थे. कहा कि लोकतंत्र के सही विकास के लिए सत्ता में बैठे लोगों के भी प्रशिक्षण की आवश्यकता है. सह सरकार्यवाह पटना के दादीजी से ...

Read more

विधान सभा घेराव करेगी अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद

पटना (विसंके). बिहार में शिक्षा जगत में अराजकता के खिलाफ अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् 26 मार्च को विधानसभा का घेराव करेगी. बिहार में शिक्षा की स्थिति बदतर हो चुकी है. भ्रष्टाचार का बोलबाला है. कुलपति एवं प्राचार्यों की नियुक्ति में राज्य सरकार के इशारे पर जमकर लेन-देन चलता है. भ्रष्टाचार का खामियाजा विद्यार्थियों को भुगतना पड़ता है. बिहार के शिक्षा शून्यता के कारण छात्र बिहार से पलायन को विवश हैं. बिहार मे ...

Read more

मालवीय जी की भूमिका रेखांकित हुई- डॉ. पाण्डेय

पटना (विसंके). भारत सरकार ने प्रखर देशभक्त पंडित मदन मोहन मालवीय को भारतरत्न देकर उनके योगदान को रेखांकित किया है. पंडित मदन मोहन मालवीय अगर नहीं होते तो गांधीजी और अम्बेडकरजी का पूना पैक्ट संभव नहीं हो पाता. मालवीय जी ने भारत की आजादी के लिए अलख जगाने का काम किया जिसे स्वयं नेहरू ने भी स्वीकार किया. उक्त बातें मालवीय जी पर कई पुस्तकों के लेखक डॉ. विश्वनाथ पाण्डेय ने विश्व संवाद केंद्र द्वारा 09 जनवरी को पट ...

Read more

चौंतीस परिवार पुनः हिन्दू बने

पटना (विसंके). व्यापक सुरक्षा बंदोबस्त के बीच मुख्यमंत्री श्री जीतन राम मांझी के गृह जिला में बहुचर्चित धर्मान्तरण को धता बताते हुए 34 परिवारों ने पुनः हिन्दू धर्म अपनाया. बोध गया के डोभी के समीप अतिया गांव में 29 दिसंबर, 2014 को राजेश मांझी, रीतेश मांझी, भरत मांझी, कानू मांझी, संगीत मांझी, रविन्द्र मांझी, मु. गिरिजा मांझी समेत 34 परिवार के लोगों ने ईसाई धर्म छोड़कर हिन्दू धर्म अपनाया. 25 दिसंबर को कुछ परिव ...

Read more

लंबित मामलों का निपटारा शीघ्र होना चाहिये – अधिवक्ता परिषद

पटना (विसंके). अखिल भारतीय अधिवक्ता परिषद् की तीन दिवसीय राष्ट्रीय परिषद् की बैठक अग्रसेन भवन में संपन्न हुई. समापन सत्र को संबोधित करते हुए निवर्तमान अध्यक्ष बलदेव राज महाजन ने कहा कि सरकार को यथाशीघ्र न्यायालय में लंबित मामलों का निपटारा करने की व्यवस्था बनानी चाहिये. अखिल भारतीय अधिवक्ता परिषद की स्पष्ट सोच है कि विलंबित न्याय कई बार अन्याय का पर्याय बन जाता है. अंग्रेजी में कहावत है कि ‘‘Justice delayed ...

Read more
Scroll to top