You Are Here: Home » समाचार » दिल्ली (Page 2)

विश्व को सहकार और सहयोग के साथ चलने की प्रेरणा केवल भारत ही दे सकता है – डॉ. कृष्ण गोपाल जी

नई दिल्ली (इंविसंकें). युवा विमर्श तीन दिवसीय सम्मेलन का शुभारम्भ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डॉ. कृष्ण गोपाल जी ने किया. उन्होंने भारतीय जनसंचार संस्थान के सभागृह में ‘आधुनिक सभ्यता की चुनौतियां’ विषय पर कहा कि विज्ञान की आंख सीमित है. जहां विज्ञान रुकता है, वहां से अध्यात्म शुरु होता है. आधुनिक सिविलाइजेशन में विज्ञान द्वारा अर्जित भौतिक प्रगति की स्पर्धा में अध्यात्म को जीवन से निकाला जा रहा ...

Read more

गुरू गोबिंद सिंह जी के जीवन के स्मरण मात्र से पूरा जीवन प्रकाशमय हो जाएगा – डॉ. मोहन भागवत जी

गुरू गोबिंद सिंह जी का जीवन समाज को जोड़ने की सीख देता है – डॉ. मोहन भागवत जी नई दिल्ली (इंविसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी ने कहा कि देश को आगे बढ़ाने वालों में दशमेश गुरु गोबिंद सिंह जी महाराज एक बड़ा कारण रहे हैं, इसलिए बच्चा- बच्चा उन्हें अपना आदर्श मानता है, उनके जैसा बनना चाहता है. यही कारण है भारत की पहचान विश्व में बताने वाले विवेकानंद जी ने कहा था - भारत के गौरव को पान ...

Read more

वरिष्ठ प्रचारक महावीर जी का हृदयाघात से चंडीगढ़ में निधन

राष्ट्रीय स्वयंसेवक के वरिष्ठ प्रचारक एवं अखिल भारतीय कार्यकारिणी के सदस्य महावीर जी का हृदयाघात के कारण 24 अक्तूबर को पीजीआई चंडीगढ़ में निधन हो गया. स्व. महावीर जी का पार्थिव शरीर अंतिम दर्शन के लिए संघ कार्यालय चंडीगढ़ में रखा गया, जहाँ हजारों स्वयंसेवकों ने उन्हें अश्रुपूरित श्रद्धाँजलि अर्पित की. महावीर जी का जन्म पंजाब के शहर बुढलाड़ा, जिला मानसा में एक सम्पन्न परिवार में 22 नवम्बर 1951 को हुआ था. आपके प ...

Read more

सिक्ख धर्म की विलक्षण पहचान को मानता है राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ – डॉ. बजरंग लाल गुप्त जी

नई दिल्ली (इंविसंकें). राष्ट्रीय सिक्ख संगत द्वारा 25 अक्तूबर को तालकटोरा स्टेडियम में विशेष समागम का आयोजन किया जा रहा है, यह समागम श्री गुरु गोबिंद सिंह जी के 350वें प्रकाश वर्ष के निमित्त किया जा रहा है. कार्यक्रम को लेकर सिक्ख धर्म के प्रति राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के दृष्टिकोण को गलत रूप में रखकर भ्रामक प्रचार किया जा रहा है. संघ की मान्यता है कि सिक्ख धर्म भी जैन और बौद्ध धर्म की भांति ही एक सामाजिक-धा ...

Read more

वरिष्ठ प्रचारक, अभाका सदस्य महावीर जी का हृदयाघात से निधन

नई दिल्ली. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ प्रचारक एवं अखिल भारतीय कार्यकारिणी सदस्य महावीर जी का हृदयाघात से आज पीजीआई चंडीगढ़ में 02.15 बजे निधन हो गया. उनकी पार्थिव देह को शाम 4.00 बजे से 5.30 बजे तक संघ कार्यालय चंडीगढ़ में अंतिम दर्शनों के लिये रखा गया, उनका अंतिम संस्कार कल प्रातः 11.00 बजे मानसा में होगा. महावीर जी का जन्म पंजाब के मानसा में हुआ था. उन्होंने गणित विषय में स्नातकोत्तर की डिग्री हासि ...

Read more

स्वयं सहायता समूहों की कार्यप्रणाली के प्रदर्शन के लिये ग्रामश्री मेला उत्कृष्ट पहल

चित्रकूट. गांव व ग्रामीणों को आत्मनिर्भर बनाने का राष्ट्रऋषि नानाजी देशमुख का सपना ग्रामश्री मेला के रूप में साकार हुआ, जिसमें उनके मार्गदर्शन में चित्रकूट क्षेत्र के गांव व वहां बसने वाले ग्रामीणों को आत्मनिर्भर बनाने के काम के प्रयास में जुटे दीनदयाल शोध संस्थान के विभिन्न प्रकल्पों के प्रयासों की झांकियों को देखकर लोगों ने खूब सराहना की. मेले में गांव के संसाधनों से बनाये गये उत्पाद के स्टाल लगाए गये. मे ...

Read more

देशभर से हज़ारों विद्यार्थी 11 नवम्बर को तिरुवनंतपुरम में वामपंथी हिंसा के विरुद्ध आवाज़ उठाएंगे – अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद

- केरल में कम्युनिस्ट पार्टी द्वारा लगातार एबीवीपी और संघ के कार्यकर्ताओं पर हो रही हिंसा के विरुद्ध एबीवीपी ने 11 नवम्बर को केरल की राजधानी में एक महारैली "चलो केरल" का आह्वान किया है - एबीवीपी अपने शहीद कार्यकर्ताओं के लिए न्याय की मांग करती है और वामपंथी गुंडों द्वारा हो रही हिंसा पर कार्यवाही की मांग करती है नई दिल्ली. दिल्ली स्थित प्रेस क्लब में एबीवीपी द्वारा आयोजित प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए रा ...

Read more

समरस समाज के बिना अन्त्योदय सम्भव नहीं

भारतीय तत्वज्ञान समरसता और एकत्व का प्रथम उद्घोषक रहा है. आदि ग्रंथ ऋग्वेद की ऋचा "संगच्छध्वं संवदध्वं संवो मनांसि जानताम्. देवा भागं यथा पूर्वे संजानाना उपासते.. "(ऋग्वेद 10-191-2) समरसता की समाज की उद्घोषणा ही है. इसी प्रकार कठोपनिषद - कृष्ण यजुर्वेद के मन्त्र .. ॐ सह नाववतु. सह नौ भुनक्तु. सह वीर्यं करवावहै. तेजस्विनावधीतमस्तु मा विद्विषावहै..19.. आगे बढ़ने की अनिवार्य शर्त ही कही गई है. अद्वैत वेदांत एका ...

Read more

आदि कवि महर्षि वाल्मीकि जयंती के अवसर पर मनाया गया शरद काव्योत्सव “काव्य कौमुदी”

नई दिल्ली. संस्कार भारती द्वारा आदि कवि महर्षि बाल्मीकि जयंती के उपलक्ष्य में 07 अक्टूबर को 12वां शरद काव्योत्सव "काव्य कौमुदी" का आयोजन केदारनाथ साहनी सभागार, सिविक सेंटर, नई दिल्ली में किया गया. कार्यक्रम की अध्यक्षता राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अ. भा. प्रचार प्रमुख डॉ. मनमोहन वैद्य जी ने की, मुख्य अतिथि के रूप में केंद्रीय संस्कृति मंत्री डॉ. महेश शर्मा व विशिष्ट अतिथि के रूप में दिल्ली प्रान्त सह संघचालक ...

Read more

संस्कृति, स्वतंत्रता की रक्षा के लिए आत्मगौरव व वीरता भी आवश्यक – डॉ. कृष्ण गोपाल जी

नई दिल्ली. भारत के अंतिम हिन्दू सम्राट हेमचन्द्र विक्रमादित्य के राज्याभिषेक दिवस के अवसर पर नई दिल्ली में समारोह आयोजित किया गया. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डॉ. कृष्ण गोपाल जी कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के रूप में उपस्थित थे. इस अवसर पर इतिहास संकलन समिति के अखिल भारतीय संगठन मंत्री बाल मुकुंद पाण्डेय जी तथा विश्व हिन्दू परिषद् के संयुक्त सह संगठन मंत्री विनायक राव देशपाण्डेय जी मंच पर उपस्थित ...

Read more
Scroll to top