You Are Here: Home » समाचार » दिल्ली (Page 42)

सेवा भारती की वेबसाइट का उद्घाटन

नई दिल्ली के झण्डेवाला स्थित संघ कार्यालय में आयोजित एक कार्यक्रम में सेवा भारती दिल्ली प्रदेश की वेबसाइट www.sewabharti.org का उद्घाटन हुआ. उद्घाटन समारोह के मुख्य अतिथि थे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय सेवा प्रमुख श्री सुहासराव हिरेमठ. वेबसाइट का उद्घाटन करने के बाद उपस्थित कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुये उन्होंने कहा कि समाज के लिए हम क्या कर रहे हैं, इसे नई तकनीक के जरिये हर घर तक पहुंचाना स ...

Read more

पाक के पीड़ित हिन्दुओं ने दिल्ली में शरण ली

नई दिल्ली. पाक में हिन्दुओं पर जुल्म और अत्याचार रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं. दिसंबर 2001 से लेकर अब तक तकरीबन साढ़े आठ सौ पाक हिन्दू शरणार्थी वहां से पलायन कर राजधानी दिल्ली आ चुके हैं. पाक सिंध प्रांत के मटियारी जिले से आये लालचंद, चंदू मल, लक्ष्मण, मुलाराम धौलीराम, चम्बा आदि ने बताया कि पाक मुसलमानों के घोर अत्याचार से वे लोग पाक छोडऩे को विवश हो गये. वहां पर रहने वाले हिन्दुओं के साथ हो रही ज्यादती के ...

Read more

गाय पर वेब पोर्टल का शुभारंभ

गत दिनों प्रेस ट्रस्ट ऑफ गोमाता द्वारा गाय से सम्बन्धित समस्त विषयों पर एक न्यूज एजेन्सी एवं वेब पोर्टल का http://www.gaumatanews.com का शुभारम्भ किया गया. इस अवसर पर न्यास के मुख्य कार्यकारी अधिकारी संजय मौर्य ने कहा कि देश भर में बहुत बड़े स्तर पर गोसंरक्षण, संवर्धन, अनुसंधान व चिकित्सा कार्य हो रहे हैं. इन्हीं बातों को ध्यान में रखते हुए प्रेस ट्रस्ट ऑफ गोमाता की स्थापना की गई है. हमारा उद्देश्य है कि वि ...

Read more

वैष्णो देवी के सिक्कों पर केंद्र को आखिरी मोहलत

नई दिल्ली : पांच रुपये के सिक्कों पर माता वैष्णो देवी की फोटो छापने के विरोध में दायर याचिका पर हाईकोर्ट के निर्देश के बावजूद केंद्र सरकार ने बुधवार को अपनी रिपोर्ट पेश नहीं की. मुख्य न्यायाधीश जी रोहिणी व न्यायमूर्ति प्रदीप नंदराजोग की खंडपीठ ने नाराजगी जताते हुए केंद्र सरकार को कड़ी फटकार लगाई है. अदालत ने केंद्र सरकार व रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया को जवाब दायर करने के लिए आखिरी मौका दिया है. अब इस मामले की सुनव ...

Read more

चौतरफा आक्रमण की चौसर

मीडिया के सहारे भारत में उथल-पुथल फैलाने में जुटी है माओवादी, चर्च और जिहाद की तिकड़ी पिछले 10-15 सालों से देश के हर हिस्से में बहुत बड़े अनुपात में मतान्तरण का काम जारी है. यह मुख्य रूप से हिंदुओं को ईसाई बनाने के लिये किया जा रहा है. वैसे तो तमाम चर्च किसी इमारत के दायरे में रहकर अपने काम से काम रखने वाले हुआ करते थे. लेकिन पिछले 15 साल से वे धीरे-धीरे आक्रामक होते गये हैं. ये लोग अचानक पूरे देश में किस त ...

Read more

बाबासाहब ने अनुच्छेद 370 का किया था विरोध

जिस प्रकार से विश्व की राजनीति में कार्ल मार्क्स ने मजदूरों के पक्ष में अमिट छाप छोड़ी है, उसी प्रकार से आधुनिक भारत के इतिहास में बाबासाहब भीमराव रामजी अंबेडकर ने पूरे राष्ट्र में वंचित समाज के पक्ष में सामाजिक और राजनीतिक चेतना जागृत की है. आज भारत का जन साधारण उनको सिर्फ आरक्षण नीति के प्रवर्तक के तौर पर जानता है. आम आदमी यह भी जानता है कि वह हमारी संविधान सभा की प्रारूप समिति के अध्यक्ष भी थे. इस तरह वह ...

Read more

संकट की घड़ी में सोये हैं सभी

देश-विदेश के अनेक जिम्मेदार लोगों तथा संस्थाओं द्वारा भारत में जिहादियों, चर्च संगठनों एवं माओवादियों की ओर से समेकित उग्रवादी गतिविधियां चलने के संकेत प्रत्यक्ष रूप से देने के बाद भी केंद्र सरकार किसी भी तरह की प्रभावी कार्रवाई करती नहीं दिखती. ये कुछ ऐसे विषय हैं, जो मीडिया का मुद्दा नहीं बनते, लेकिन जिम्मेदार स्तर पर उसका प्रमाण मिलने के कारण उस पर नजर तो डालनी ही पड़ती है. मार्च, 2014 में असम के मुख्यमं ...

Read more

मैंने नहीं दिया कोई आपत्तिजनक बयान: तोगड़िया

नई दिल्ली. विश्व हिन्दू परिषद के अंतरराष्ट्रीय कार्याध्यक्ष श्री प्रवीण तोगड़िया ने अपने बयान को तोड़-मरोड़कर प्रकाशित-प्रसारित करने के आरोप में संबंधित मीडिया संस्थानों को कानूनी नोटिस भेजा है. श्री तोगड़िया के वकील ने टाइम्स ऑफ इण्डिया को भेजे कानूनी नोटिस में आरोप लगाया है कि इस अंग्रेजी दैनिक ने उनके बयानों को पूरे देश के प्राय: समस्त संस्करणों में भ्रामक ढंग से प्रकाशित किया है. इसके अलावा इंडियन एक्सप ...

Read more

भारी पड़ती कर्बला की बला

मुसलमानों का एक वर्ग तथाकथित मजहबी आयोजन की आड़ में इस देश के कानून को आये दिन ठेंगा दिखा रहा है, सड़कों पर उतर कर तोड़-फोड़ कर रहा है, पुलिस उन्हें रोकती है तो उन पर पत्थर बरसाए जाते  है . यह सब राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एन.सी.आर.) और दिल्ली स्थित प्रधानमंत्री निवास से मात्र दो किलो मीटर की दूरी पर  होता है, लेकिन उसकी निन्दा न तो सेकुलर मीडिया करता है और न ही सेकुलर नेता. मानो उनकी जुबान पर ताला लगा हुआ ...

Read more

ऐसी न्याय प्रणाली चाहिये जो ग्रामों को विवादमुक्त बना दे – धर्माधिकारी

नई दिल्ली. भारत में आयातित प्रतिपक्षीय न्यायप्रणाली से उपजे खतरों के प्रति चेताते हुए प्रसिद्ध गांधीवादी चिंतक और न्यायविद - न्यायमूर्ति श्री चंद्रशेखर शंकर धर्माधिकारी ने कहा है कि अंग्रेजों से उधार में ली गयी निर्णय प्रणाली न्याय प्रणाली नहीं कहलायी जा सकती. हमें आजादी के बाद राष्ट्र अध्यक्ष और झण्डे के साथ-साथ न्यायप्रणाली भी बदल देनी चाहिये थी और इस गलती के लिये अगली पीढ़ी हमें माफ नहीं करेगी. श्री धर्मा ...

Read more
Scroll to top