You Are Here: Home » समाचार » पंजाब (Page 5)

यदि कर्ण को सम्भालोगे नहीं तो वो दुर्योधन के साथ मिल कर महाभारत रचेगा – साध्वी ऋतंभरा

जालंधर (विसंकें). अपनों को सम्भालो, वे बिखरने नहीं चाहिए. अगर कर्ण को सम्भालोगे नहीं तो वो दुर्योधन के साथ मिल कर महाभारत रचेगा. हमारी भूमि महान है, लेकिन भूमिका भी महान होनी चाहिये. आपसी बिखराव के कारण ही धर्मांतरण करने वालों को मौका मिल जाता है. साध्वी ऋतंभरा दीदी ने विश्व हिन्दू परिषद की स्थापना के स्वर्ण जयंती वर्ष के उपलक्ष्य में विश्व हिन्दू परिषद-बजरंग दल द्वारा चंडीगढ़ इकाई द्वारा आयोजित विराट हिन्द ...

Read more

हिन्दू समाज धर्म प्रचार के लिये विहिप को दे दशांश : राघव रेड्डी

लुधियाना (विसंके).  मुस्लिम बंदूक की नोक और ईसाई नोटों की ताकत के बल पर भारत में धर्म परिवर्तन करवा कर अपनी-अपनी जनसंख्या बढ़ाकर हिन्दुओं को अपने ही देश में अल्पसंख्यक बनाने के प्रयत्न कर रहे हैं. विश्व हिन्दू परिषद के अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष राघव रेड्डी ने रविवार को विश्व हिन्दू परिषद के स्वर्ण जंयती वर्ष के उपलक्ष्य में चंडीगढ़ रोड स्थित सैक्टर-32-ए के गलाडा ग्राउंड में आयोजित विराट धर्म सम्मेलन में उपस्थि ...

Read more

राष्ट्रवादी चिंतक और स्वदेशी के अग्रदूत लाला लाजपत राय का पुण्य स्मरण

जालंधर (विसंके). पंजाब केसरी के नाम से विख्यात लाला लाजपत राय न केवल एक महान क्रांतिकारी बल्कि परम राष्ट्रवादी चिंतक और स्वदेशी आंदोलन के दूत थे. उनके प्रेरक जीवन से मार्गदर्शन ले हजारों युवा देश के स्वतंत्रता संग्राम से जुड़े और अपना जीवन देश पर न्योछैवर कर दिया. इन्हीं बलिदानों के फलस्वरूप 15 अगस्त, 1947 को देश सदियों की परतंत्रता से मुक्त हो पाया. यह विचार राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के बौद्धिक प्रमुख श्री व ...

Read more

हमारा सांस्कृतिक व धार्मिक साहिˆत्य कपोल कल्पना न होकर वि™ज्ञान से भरपूर है : कुंवर विजय प्रताप सिंह

जालंधर (विसंके). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ द्वारा आयोजित तीन दिवसीय साहिˆत्य दर्शन व पुस्तक मेला पीली कोठी, गोपालनगर जालंधर में समाप्त हो गया. तीन दिन चले साहित्य दर्शन व पुस्तक मेले में लगभग पूरे प्रांत से काफी संख्या में लोग पहुंचे. स्कूल/कालेज विद्यार्थियों व समाज के विभि‹न वर्गों को भारतीय संस्कृति, जीवन पद्धति की विशिष्ट जानकारी देने के उद्देश्य से 16 से 18 जनवरी (शुक्रवार से रविवार) तक विशाल साहिˆय दर्श ...

Read more

अच्छा साहित्य मानव के लिए भोजन व प्राणवायु जितना जरूरी : रामगोपाल

जालंधर. अच्छा साहित्य मानव जीवन के लिये उतना ही जरूरी है- जितना कि भोजन और प्राणवायु, क्योंकि भोजन मानव के शरीर का निर्माण करता है तो सद्साहित्य से विचारों व संस्कार का निर्माण होता है जो जीवन संचालन के लिये अत्यावश्यक है. यह विचार राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पंजाब प्रांत के प्रचार प्रमुख श्री रामगोपाल सरस्वती विस्तार योजना के समापन पर व्यक्त किये. उन्होंने बताया कि इस योजना के तहत पूरे पंजाब में 20 और 21 दि ...

Read more

शहीदों के अंतिम संस्कार पर राष्ट्रीय गर्व के दृश्य

गुरदासपुर (विसंके). मुगल आक्रमण का समय हो, स्वतंत्रता आंदोलन रहा हो या फिर आजादी के बाद देश की रक्षा की बात हो पंजाब के रणबांकुरों ने हमेशा विरोधियों से लोहा लिया और वीरगति को प्राप्त हुये. एक सप्ताह पूर्व 27 नवंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जम्मू दौरे से ठीक एक दिन पहले एक आत्मघाती दस्ते ने अरनिया सेक्टर में बिश्नाह तहसील के कठाड़ गांव में खून की होली खेली, जिसमें पंजाब के तीन सैनिक शहीद हो गये. शुक्र ...

Read more

जातिवाद का विष समाप्त करना ही डा. अंबेडकर को सच्ची श्रद्धांजलि : डा. अग्निहोत्री

जालन्धर (विसंके). भारतीय समाज को जातिमुक्त करना व जातिगत विष को समाप्त करना ही हमारी तरफ से बाबा साहिब भीमराव अम्बेडकर को सच्ची श्रद्धांजलि होगी. यह विचार राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के समरसता विपभाग की ओर से संविधान प्रणेता बाबा साहिब भीमराव अम्बेडकर जी के परिनिर्वाण दिवस पर आयोजित समारोह को संबोधित करते हुए पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड के उप-चेयरमैन डाक्टर कुलदीप चंद अग्निहोत्री ने व्यक्त किये. उन्होंने कहा कि बा ...

Read more

सीमा का सम्मान करना सीख गये हैं पड़ोसी देश : इंद्रेश कुमार

होशियारपुर (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अ.भा. कार्यकारिणी के सदस्य श्री इंद्रेश कुमार ने कहा है कि आज 60 साल बाद देखने को मिल रहा है कि हमारे देश की सीमाओं में घुसपैठ करने वाले हमारे पड़ोसी देश अब अपनी सीमा में रहना सीख रहे हैं. इससे देश का मान बढ़ा है. यह इसलिये संभव हो रहा है क्योंकि देश के आम नागरिक जागरूक हो रहे हैं और देश को एक मजबूत नेतृत्व मिला है. उन्होंने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा क ...

Read more

नशे का प्रसार देश की एकता-अखण्डता के लिये भी घातक : इंद्रेश जी

बटाला (विसंकें). नशे की समस्या केवल समाज के स्वास्थ्य से ही नहीं बल्कि देश की एकता-अखण्डता के साथ भी जुड़ी है. वैसे तो नशा पूरे देश के लिये घातक है परंतु सीमावर्ती राज्यों में इसकी मारक क्षमता और भी घातक हो जाती है. यह विचार राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की कार्यकारिणी के सदस्य श्री इंद्रेश कुमार ने डेरा बाबा नानक के ध्यानपुर गांव में सरहदी लोकसेवा समिति की ओर से कराये गये वालीबॉल टूर्नामेंट के फाइनल के उद्घाटन स ...

Read more

इतिहास पुनर्लेखन और संस्कृत शिक्षण को गति देने का संकल्प

जालंधर (विसंके).. बाबासाहेब आपटे स्मारक समिति ने यहां 16 नवंबर को  भारत के सही इतिहास को प्रकाश में लाने के लिये इतिहास पुनर्लेखन और ज्ञान की समृद्ध परम्परा को पुनर्जीवित करने के संस्कृत भाषा के पठन-पाठन को व्यापक बनाने के शुभ संकल्प को फिर से दोहराया. अखिल भारतीय इतिहास संकलन योजना के राष्ट्रीय अध्यक्ष, विख्यात इतिहासकार और कुरूक्षेत्र विश्वविद्यालय के इतिहास विभाग के पूर्व प्रमुख डा0 सतीशचंद्र मित्तल ने इ ...

Read more
Scroll to top