You Are Here: Home » समाचार » पूर्व उड़ीसा

शक्ति आराधना का पर्व है विजया दशमी – नरेंद्र कुमार जी

भुवनेश्वर. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय सह प्रचार प्रमुख नरेंद्र कुमार जी ने कहा कि आसुरी शक्ति का विनाश करने देवी दुर्गा के अवतरण और आसुरी शक्ति के विनाश का पर्व विजया दशमी शक्ति आराधना का पर्व है. असत्य पर सत्य की विजय का यह पर्व सभी के लिए प्रेरणा का स्रोत बने. नरेंद्र जी रविवार को राजधानी भुवनेश्वर में आयोजित विजया दशमी उत्सव में मुख्य वक्ता के रूप में संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि सज्जन ...

Read more

भारतीय संस्कृति संपूर्ण विश्व को परिवार मानती है – प्रो. राकेश सिन्हा जी

भुवनेश्वर (विसंकें). राजधानी में आयोजित नारद सम्मान समरोह में मुख्य वक्ता के रूप में उपस्थित प्रो. राकेश सिन्हा जी ने कहा कि भारतीय समाज प्रयोगधर्मी समाज रहा है. यहां विभिन्न मतों को सम्मान दिया जाता है. केवल अपना ही मत श्रेष्ठ है, यह भारतीय धारणा नहीं है. पश्चिम के लिए समग्र विश्व एक बाजार है, जबकि भारतीय संस्कृति समग्र विश्व को कुटुंब मानती है. बाजार की भावना और कुटुंब की भावना में सोच का अंतर है. प्रो. स ...

Read more

800 परिवार बंधुओं ने किया माता पिता का पूजन

हिन्दू आध्यात्मिक एवं सेवा मेला - 2016 भुवनेश्वर (विसंकें). परिवार एवं मानवता की रक्षा के लिए माता-पिता का आदर सम्मान और पूजन जरूरी है. हिन्दू शास्त्रों में भी माता-पिता, आचार्य एवं अतिथि को सम्मान देने की कथा वर्णित है. माता-पिता, आचार्य अतिथि देवता की ही तरह पूजनीय हैं. मगर आधुनिकता ने माता-पिता, आचार्य एवं अतिथियों पर रहे विश्वास को नष्ट कर दिया है. इससे पारिवारिक संपर्क भी छिन्न भिन्न होते जा रहे हैं. अ ...

Read more

महिलाएं भारतीय समाज एवं संस्कृति की मुख्य केंद्र हैं – प्रदीप जोशी जी

600 कन्याओं का सामूहिक पूजन, हिन्दू आध्यात्मिक एवं सेवा मेला - 2016 भुवनेश्वर (विसंकें). भारतीय समाज आधुनिकता के नाम पर पाश्चात्य संस्कृति को अपनाने की होड़ में अपनी प्राचीन परंपरा एवं संस्कृति को भूलता जा रहा है. यहां तक कि लोग अपने जन्मदाता को भूल रहे हैं और उन्हें बुढ़ापे में दर दर की ठोकरें खाने को छोड़ दे रहे हैं. जन्म लेने से पहले ही गर्भ में ही कन्याओं की हत्या की जा रही है. पेड़ पौधों की बेरोक टोक कटाई ...

Read more

एकांत में आत्म साधना, लोकान्त में सेवा परोपकार, ऐसा अपना जीवन होना चाहिये – डॉ. मोहन भागवत जी

डेंकानाल, उड़ीसा (विसंकें). माघ मेले की संध्या पर महिमा धर्म पीठ में धर्मसभा का आयोजन किया गया. इस दौरान महिमा समाज से साधु रघुनाथ बाबा, साधु पवित्र बाबा सहित अन्य पूज्य संत उपस्थित थे. सभा के दौरान राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी ने दो पुस्तकों का लोकार्पण भी किया. कार्यक्रम के दौरान सह सरकार्यवाह वी भगैय्या जी, क्षेत्र कार्यवाह गोपाल प्रसाद महापात्र, क्षेत्र प्रचारक प्रदीप जोशी जी उ ...

Read more

नवकलेवर तथा रथयात्रा के लिए पुरी में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सेवा कार्य का शुभारंभ

भुवनेश्वर (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सेवा विभाग उत्कल विपन्न सहायता समिति द्वारा प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी नवकलेवर तथा रथयात्रा के लिए पुरी में नौ प्रकार के सेवा कार्य करने का निर्णय लिया गया है. इसके लिए गुरूवार 16 जुलाई से राजधानी भुवनेश्वर से चार एंबुलेंस गाड़ियों को समिति की तरफ से पुरी भेज दिया गया है, जो रथयात्रा में उमड़ने वाली भारी भीड़ में भक्तों की सेवा के लिए उपलब्ध रहेंगी. सेवा का शु ...

Read more

…तो क्या हिन्दू एक भी हिन्दू राष्ट्र नहीं बना सकते – चारुदत्त पिंगले

भुवनेश्वर (विसंकें). हिन्दूवादी तथा हिन्दू संगठन के प्रतिनिधियों का महाधिवेशन गोवा के पोंडा स्थित रामनाथी में आयोजित किया गया. महाधिवेशन में श्रीलंका, बांग्लादेश के साथ भारत के 21 राज्यों से 200 हिन्दू संगठनों के 390 प्रतिनिधियों ने भाग लेकर विचार वमर्श किया. अधिवेशन में शामिल पदाधिकारियों ने भारत को हिन्दू राष्ट्र घोषित करने पर जोर दिया. हिन्दू जागृत समिति के राष्ट्रीय मार्गदर्शक चारुदत्त पिंगले ने कहा कि ...

Read more

वीर सावरकर को भारतीय इतिहास में उचित स्थान नहीं मिला

भुवनेश्वर. भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में विनायक दामोदर सावरकर का त्याग एवं बलिदान अतुलनीय है. हमारा देश आज हर क्षण जिस स्थिति से गुजर रहा है, बांग्लादेशी घुसपैठियों की संख्या जिस हिसाब से बढ़ रही है, इस तरह की स्थिति में अखण्ड भारत के भूगोल को मजबूत करने के लिए वीर सावरकर के त्याग व बलिदान को याद करने की जरूरत है. भारत रक्षा मंच ओडिशा की तरफ से सावरकर जी की 128वीं जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में वक्ताओं ने सं ...

Read more

दुनिया को दिशा दिखाने के लिए अपना दायित्व निभाएं – मोहिनी मोहन मिश्र

भुवनेश्वर (विसंकें). वरिष्ठ पत्रकार तथा स्तम्भकार अरुण कुमार पंडा को विश्व संवाद केंद्र ओडिशा की तरफ से नारद सम्मान 2015 से सम्मानित किया गया है. पंडा ने ओडिशा तथा राज्य बाहर के कई जगहों का परिदर्शन कर लोक संस्कृति का अनुध्यान किया है. विशेषकर बंडा, जुआंग, कंध, लोधा, कोया, सांथाल, भुया व सउरा आदि के जीवनधारा, उनके अभाव, समस्या को लोगों के सामने रखा. विश्व संवाद केंद्र की तरफ से हर साल महर्षि नारद के पवित्र ...

Read more

विश्व के किसी भी देश में सताये जा रहे हिन्दुओं का अपना घर भारत – रघुनंदन शर्मा जी

भुवनेश्वर (विसंकें). दुनिया भर में रह रहे हिन्दुओं को जब भी सताया गया है, तब हिन्दू सहयोग के लिये भारत की तरफ ही देखते हैं. हमारा देश एवं देश के लोग भी उनके सहयोग को हरदम आगे रहते हैं. विश्व के किसी भी देश में सताये जा रहे हिन्दुओं का अपना घर भारत है. यहां तक कि तिब्बत के बौद्ध लोगों को भी सांस्कृतिक दृष्टिकोण से हम उन्हें शरणार्थी के रूप में स्वीकार कर रहे हैं. बांग्लादेश से प्रताड़ित होकर भारत में शरण लेने ...

Read more
Scroll to top