You Are Here: Home » समाचार » ब्रज

सारे भेदों को भुलाकर संगठित रहेंगे तो ही शक्तिशाली बनेंगे – भय्याजी जोशी

आगरा (विसंकें). आगरा कॉलेज के खेल मैदान में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ आगरा के चयनित स्वयंसेवकों का एकत्रीकरण हुआ. प्रत्येक शाखा से 10 स्वयंसेवक सूचीबद्ध किए गए थे. कार्यक्रम में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह सुरेश भय्याजी जोशी का मार्गदर्शन स्वयंसेवकों को प्राप्त हुआ. उन्होंने कहा कि संघ कार्य की अलग-अलग पहचान है. दैनिक शाखा देखकर स्पोर्ट्स क्लब जैसा, पथ संचलन को देख कर अर्धसैनिक बल जैसा, मैदान के सार ...

Read more

मंदिर कोई पिकनिक स्पॉट नहीं, अपितु आस्था का केंद्र हैं – डॉ. कृष्णगोपाल जी

वृंदावन (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डॉ. कृष्णगोपाल जी ने कहा कि श्रीराम धर्म की धुरी हैं. जनता के मन में राम का आदर्श, उनका दर्शन और चरित्र गहराई से बैठ गया है. राम को लेकर देश प्रेरणा और दिशा पाता है. हमें राम का मंदिर केवल एक भवन के रूप में नहीं बनाना, बल्कि समाज में राम के चरित्र और आदर्शों के प्रतीक के रूप में स्थापित भी करना है. मुगलकाल में बाबा तुलसी ने रामनाम का गान किया और आज ...

Read more

रज्जू भैय्या सैनिक विद्या मंदिर का शिलान्यास समारोह

32 बीघा भूमि पर 40 करोड़ से होगा निर्माण शिकारपुर. राजपाल सिंह जनकल्याण सेवा समिति के तत्वाधान में जनसहयोग से विद्या भारती, अ.भा. शिक्षा संस्थान से सम्बद्ध रज्जू भैय्या सैनिक विद्यालय के निर्माण हेतु खण्डवाया, तहसील शिकारपुर, जनपद बुलन्दशहर (उ.प्र.) में भूमि पूजन एवं शिलान्यास किया गया. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पूर्व सरसंघचालक प्रो. राजेन्द्र सिंह निकटवर्ती गाँव बनैल (बुलन्दशहर) के निवासी थे. उनके नाम पर ब ...

Read more

मानव, संपूर्ण सृष्टि का कल्याण, यही हिन्दुत्व का आधार है – डॉ. कृष्णगोपाल जी

बरेली (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डॉ. कृष्णगोपाल जी ने हिन्दुत्व को समझाते हुए बताया कि "हिन्दुत्व"...इसका कोई खांचा नहीं है, इसकी कोई आउटलाइन बाउंड्री नहीं है, क्योंकि इसमें हर दिन कोई भी व्यक्ति एक नया विचार देता है. इसमें एक नया एडिशन कर देता है. इसलिए सनातन परंपरा का एक प्रवाह है. यह प्रवाह निरंतर चलता है, निरंतर नई-नई बातें जुड़ती हैं, नई-नई खोज होती और ये नई खोजों को प्रोत्साहि ...

Read more

ब्रज प्रांत का संघ शिक्षा वर्ग संपन्न

आगरा (विसंकें). व्यक्ति निर्माण की अभिनव पद्धति संघ की शाखा है. शाखाएं व्यवस्थित हों, इसलिए वर्ष में एक बार प्रशिक्षण वर्गों का आयोजन होता है. जिसमें स्वयंसेवक, शरीरिक, बौद्विक एवं मानसिक विकास हेतु कठोर प्रशिक्षण प्राप्त करते हैं. आगरा और चंद्रनगर विभाग का प्रशिक्षण वर्ग खंदौली में 26 मई से चल रहे वर्ग का शुक्रवार (15 जून) को समापन हो गया. खंदौली के सीवी इंटरनेशनल स्कूल में आयोजित समापन कार्यक्रम में स्वयं ...

Read more

गांव-गांव और घर-घर जाएंगे संत

सामाजिक समरसता एवं सद्भावना के भाव का होगा संचार वृन्दावन (विसंकें). सामाजिक समरसता एवं सद्भाव के लिये नारायण आश्रम वृन्दावन में आगरा, अलीगढ़, बुलन्दशहर, मुज्जफरनगर एवं मथुरा जनपद के संतों ने दो दिन तक चिन्तन किया. सभी संतों ने आगामी योजना बनाई, जिसके अन्तर्गत शहर व गांव की बस्तियों में सामूहिक यात्रा करेंगे. घर-घर जाकर सामाजिक समरसता एवं सद्भाव का भाव जगाएंगे. चिन्तन बैठक के मुख्य अतिथि महामंडलेश्वर संत गोप ...

Read more

सामाजिक समरसता के लिए सभी का एकत्रीकरण जरूरी – डॉ. मोहन भागवत जी

ब्रज (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी ने कहा कि संघ का कार्य ही संपूर्ण समाज में समरसता स्थापित करना है. देश के साथ ही संपूर्ण विश्व में भी समरसता स्थापित करना है. जब हम समूह में खड़े होते हैं, तब एकता की आवश्यकता पड़ती है. व्यक्ति को खड़ा होना है तो सभी अंगों का ठीक होना जरूरी है. इसी प्रकार समरसता के लिए सभी का एकत्रीकरण जरूरी है. सरसंघचालक जी 24 फरवरी को राष्ट्रीय स्वयंसेवक ...

Read more

हम समाज में परिवर्तन और श्रेष्ठ आचरणों के निर्माण का कार्य कर रहे हैं – डॉ. मोहन भागवत जी

आगरा (विसंकें). भारत की संस्कृति परमार्थ, सेवा एवं सद्भाव की संस्कृति रही है. हम सभी आपस में मिलकर एक दूसरे को सहयोग करते हुए भारतीय संस्कृति के अनुसार जीवनयापन करते हुए समन्वय स्थापित करें. इसके लिए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ समाज को सद्भाव के सूत्र में पिरोकर राष्ट्र को परम वैभव के शिखर पर ले जाने की लिए दृढ़ संकल्पित है. इसी सम्यक उद्देश्य की प्राप्ति के लिए शुक्रवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ब्रज प्रांत क ...

Read more

हम सभी अपने आचरण से श्रेष्ठता का उदाहरण प्रस्तुत करें – डॉ. मोहन भागवत जी

आगरा (विसंकें). समरसता संगम में भाग लेने के लिये आगरा पहुंचे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी 22 फरवरी (वीरवार) को बीचपुरी के आरबीएस कॉलेज परिसर में ब्रज प्रांत के संघचालकों की बैठक में उपस्थित हुए. उन्होंने कहा कि संघ समाज के बीच में रहकर कार्य करता है और वास्तव में संघ का कार्य समाज का ही कार्य है. हमारी नियति भी ऐसी ही है. समाज में हमारा क्या योगदान होगा, यह हमें निश्चित करना है. सम ...

Read more

भारतीय साहित्यकार विविधताओं में प्रेम के धागे ढूँढता है – डॉ. कृष्ण गोपाल जी

देशभर से आए साहित्यकारों ने किया राष्ट्र तत्व पर मंथन ब्रज (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डॉ. कृष्ण गोपाल जी ने कहा कि प्रवृत्ति से निवृत्ति भारत के राष्ट्र पुरुष की यात्रा है. विविधताओं में एकत्व का अनुभव भारत का राष्ट्रीय दर्शन है. विविधता में प्रेम के धागे भारतीय साहित्यकार ढूँढता है. सह सरकार्यवाह जी सोमवार को केंद्रीय हिन्दी संस्थान में केंद्रीय हिन्दी संस्थान व संस्कार भारती द्वार ...

Read more
Scroll to top