You Are Here: Home » समाचार » मध्य भारत

राष्ट्र निर्माण के कार्य में समाज के प्रत्येक वर्ग को सहयोग करना चाहिए  – माधव विद्वान्स

बिलासपुर (विसंकें). मध्य क्षेत्र के संघ शिक्षा वर्ग, द्वितीय वर्ष का समापन समारोह, गुरुवार 13 जून 2019 को आयोजित किया गया. मंच पर अतिथि आगमन पर स्वागत प्रणाम के पश्चात ध्वजारोहण, व प्रार्थना हुई. समारोह में प्रदक्षिणा संचलन के पश्चात शिक्षार्थियों द्वारा शारीरिक प्रात्यक्षिक - गण समता, पदविन्यास, दण्ड संचालन, निःयुद्ध, सूर्यनमस्कार, योगासन आदि के कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए. शारीरिक प्रदर्शन के पश्चात सामूहिक ...

Read more

समाजहित में सकारात्मक पत्रकारिता की आवश्यकता – ओमप्रकाश सिसौदिया

ग्वालियर (विसंकें). आद्य पत्रकार देवर्षि नारद जी की जयंती के उपलक्ष्य में रविवार को पत्रकार सम्मान समारोह एवं विचार संगोष्ठी का आयोजन किया गया. "मामा" माणिकचंद वाजपेयी स्मृति सेवा न्यास द्वारा नई सड़क स्थित राष्ट्रोत्थान विवेकानंद सभागार में आयोजित कार्यक्रम में पत्रकारिता क्षेत्र की विभिन्न विधाओं में कार्य करने वाले पत्रकारों का सम्मान किया गया. कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के रूप में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ...

Read more

पर्यावरण संरक्षण व संवर्धन के क्षेत्र में संगठित व योजनाबद्ध रूप से कार्य करेगा संघ – भय्याजी जोशी

निश्चित प्रारूप में और निश्चित स्थान पर ही बनेगा राम मंदिर ग्वालियर। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह भय्याजी जोशी ने ग्वालियर में आयोजित राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की प्रतिनिधि सभा के अंतिम दिन प्रेस वार्ता में कहा कि बैठक में संघ कार्य की समीक्षा और समसामयिक विषयों पर चिंतन किया गया। संघ ने इस बार पर्यावरण संरक्षण एवं संवर्धन की दिशा में कार्य करने का निर्णय लिया है। इसके साथ ही सामाजिक समरसता पर और अधि ...

Read more

सरकार्यवाह जी का वक्तव्य – श्री गुरुनानकदेव जी का 550वां प्रकाश-पर्व

आज से पाँच सौ पचास वर्ष पूर्व संवत् 1526 को श्री गुरुनानकदेव जी का जन्म श्री मेहता कल्याणदास जी के घर, राय भोय की तलवण्डी में माता त्रिपता जी की कोख से हुआ था। उस समय भारतवर्ष की दुर्बल व विघटित अवस्था का लाभ उठाकर विदेशी आक्रांता इस राष्ट्र की धार्मिक व सांस्कृतिक अस्मिता को नष्ट कर रहे थे। श्री गुरु नानकदेव जी महाराज ने सत्य-ज्ञान, भक्ति एवं कर्म का मार्ग दिखाकर अध्यात्म के युगानुकूल आचरण से समाज के उत्था ...

Read more

प्रस्ताव – हिन्दू समाज की परम्पराओं व आस्थाओं के रक्षण की आवश्यकता

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा, ग्वालियर फाल्गुन शु. 2- 4  युगाब्द 5120, 8 -10  मार्च 2019 अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा का यह सुविचारित मत है कि अभारतीय दृष्टिकोण के आधार पर हिन्दू आस्था और परम्पराओं को आहत एवं इनका अनादर करने का एक योजनाबद्ध षड्यंत्र निहित स्वार्थी तत्त्वों द्वारा चलता आ रहा है। शबरीमला मंदिर प्रकरण इसी षड्यंत्र का नवीनतम उदाहरण है। हिंदुत्व ईश्वर के एक ही स्वरूप अथवा पूजा ...

Read more

सरकार्यवाह जी का वक्तव्य – जलियाँवाला बाग के प्रेरणादायी बलिदान की शताब्दी

भारत के स्वाधीनता संघर्ष के इतिहास में वैशाखी के पवित्र दिन 13 अप्रैल 1919 को हुआ अमृतसर का जलियाँवाला बाग हत्याकांड क्रूर, वीभत्स तथा उत्तेजनापूर्ण घटना थी, जिसने न केवल भारत के जनमानस को उद्वेलित, कुपित तथा आंदोलित किया, अपितु ब्रिटिश शासन की नींव हिला दी। भारतीयों के विरोध के बावजूद रोलेट एक्ट का काला कानून पारित कर दिया गया। इस कानून का सर्वदूर विरोध हुआ। अमृतसर के दो बड़े नेताओं डॉ. सैफुद्दीन किचलू और ड ...

Read more

मानवता के लिए अनमोल योगदान है भारतीय परिवार व्यवस्था

ग्वालियर. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा ने भारतीय परिवार व्यवस्था को सुदृढ़ करने का आह्वान करते हुए प्रस्ताव पारित किया, जिसमें कहा गया है कि भारतीय परिवार व्यवस्था हमारे समाज का मानवता के लिए अनमोल योगदान है. प्रतिनिधि सभा में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह श्री भय्याजी जोशी ने वक्तव्य के माध्यम से आजाद हिन्द सरकार के 75 वर्ष पूर्ण होने पर देशभर में विविध कार्यक्रम आयोजित करने ...

Read more

अ.भा.प्र.स. प्रस्ताव – 1, भारतीय परिवार व्यवस्था – मानवता के लिए अनुपम देन

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभाए ग्वालियर फाल्गुन शु. 2 . 4  युगाब्द 5120ए 8 .10  मार्च 2019 प्रस्ताव -1 भारतीय परिवार व्यवस्था - मानवता के लिए अनुपम देन परिवार व्यवस्था हमारे समाज का मानवता को दिया हुआ अनमोल योगदान है. अपनी विशेषताओं के कारण हिन्दू परिवार व्यक्ति को राष्ट्र से जोड़ते हुए वसुधैव-कुटुम्बकम् तक ले जाने वाली यात्रा की आधारभूत इकाई है. परिवार व्यक्ति की आर्थिक व सामाजिक सुरक्षा ...

Read more

सरकार्यवाह सुरेश (भय्या जी) जोशी का वक्तव्य

युवा पीढ़ी तक पहुंचाना है आजाद हिन्द सरकार का इतिहास 21 अक्टूबर 1943 को नेताजी सुभाष चंद्र बोस द्वारा निर्वासन में आज़ाद हिन्द सरकार का गठन किया  था. जिसके 75 वर्ष  पूर्ण हुए हैं.  भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में इस घटना का एक महत्वपूर्ण स्थान रहा है. नेताजी सुभाष चंद्र बोस द्वारा आज़ाद हिन्द सेना का नेतृत्व सम्हालने के पश्चात उसे ब्रिटिशों के विरुद्ध युद्ध में उतारने के पूर्व सिंगापुर में विधिवत सरकार का गठन ...

Read more

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा का शुभारंभ

शबरीमला मंदिर मामला और परिवार व्यवस्था के संरक्षण पर पारित किए जाएंगे प्रस्ताव ग्वालियर। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा की बैठक में शबरीमला देवस्थान मामले में केरल सरकार द्वारा धार्मिक परंपरा और आस्थावान लोगों पर की जा रही ज्यादती एवं आज के भौतिकतावादी दौर में परिवार व्यवस्था को बनाए रखने पर चर्चा होगी और प्रस्ताव पारित किए जायेंगे। यहाँ केदारधाम स्थित सरस्वती शिशु मंदिर के सभागार में ...

Read more

Sign Up for Our Newsletter

Subscribe now to get notified about VSK Bharat Latest News

Scroll to top