You Are Here: Home » समाचार » मध्य भारत (Page 5)

तकनीकी राष्ट्रवाद एवं आर्थिक राष्ट्रनिष्ठा आज की आवश्यकता – प्रो. भगवती प्रसाद शर्मा

भोपाल (विसंकें). अर्थशास्त्री एवं पैसिफिक विश्वविद्यालय उदयपुर के कुलपति प्रो. भगवती प्रसाद शर्मा जी ने कहा कि विश्व में यदि हमें अग्रिम पंक्ति में स्थान पाना है तो ज्ञान आधारित क्षेत्रों में अपना योगदान बढ़ाना होगा. इसके लिए आवश्यक है कि हम अपने खुद के उत्पाद एवं ब्रांड विकसित करें. तकनीकी क्षेत्रों में भारतीय मानव संसाधन दुनिया में पहचाना जाता है, परंतु इनके द्वारा तैयार किए गए तकनीकी उत्पाद का फायदा वैश्व ...

Read more

कारगिल की विजयगाथा अमरगाथा बन चुकी है – अरूण कुमार जी

भोपाल. लेफ्टिनेंट जनरल सैय्यद अता हसनैन ने कहा कि कारगिल की जीत का श्रेय हमारे शहीद जवानों के साथ उनके परिवार, सैन्य और राजनीतिक नेतृत्व एवं देश की सामूहिक एकजुटता को जाता है. इस युद्ध में हमारे देश की मीडिया की भूमिका भी बहुत सशक्त थी, जिसे नकारा नहीं जा सकता है. वह रविंद्र भवन में कारगिल विजय के 17 वर्ष पूर्ण होने पर आयोजित स्मृति दिवस समारोह में संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि हमारी जिस युवा पीढ़ी की ...

Read more

वास्तव में मीडिया प्रजातंत्र के तीनों स्तंभों की आत्मा है – प्रेम शुक्ला जी

भोपाल (विसंकें). सामना के पूर्व संपादक प्रेम शुक्ला जी ने कहा कि मैं मीडिया को प्रजातंत्र का चौथा स्तम्भ नहीं मानता. वस्तुतः मीडिया प्रजातंत्र के तीनों स्तंभ, न्याय पालिका, कार्य पालिका व विधायिका की आत्मा है. जिस प्रकार लोक कल्याण के प्रतीक नारद को कलह प्रिय घोषित कर दिया गया, कुछ कुछ उसी प्रकार का काम आज का अंग्रेजीदां मीडिया करता दिखाई दे रहा है. वह भोपाल विश्व संवाद केंद्र द्वारा आयोजित नारद जयन्ती कार् ...

Read more

प्राचीन एवं वर्तमान में संतुलन बनाकर कार्य करना होगा – सुरेश भय्या जी जोशी

भोपाल (विसंकें). निनौरा-उज्जैन में अंतर्राष्ट्रीय विचार महाकुंभ के दूसरे दिन 'कृषि एवं कुटीर' कुंभ में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह सुरेश भय्या जी जोशी ने कहा कि प्रकृति से अधिक से अधिक लेने की सोच के कारण ही असंतुलन हुआ है. प्राकृतिक संसाधनों पर अधिकार की प्रवृत्ति दानवीय प्रवृत्ति है. हमें अपने मूल की ओर लौटना ही होगा. प्रकृति के साथ मित्रता करनी होगी. उन्होंने कहा कि अन्न देने वाली माता वसुंधरा ...

Read more

समाज में व्यवस्था समतायुक्त और शोषणमुक्त होनी चाहिए – डॉ. मोहन भागवत जी

भोपाल (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी ने कहा कि व्यवस्था समतायुक्त और शोषणमुक्त होनी चाहिये. जब तक सभी को सुख प्राप्त नहीं होता, तब तक शाश्वत सुख दिवास्वप्न है. विज्ञान जितना प्रगट हो रहा है, उतना आध्यात्म के निकट आ रहा है. सरसंघचालक जी उज्जैन के समीप निनौरा में सिंहस्थ का सार्वभौम संदेश देने के लिए तीन दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय विचार महाकुंभ के शुभारंभ सत्र को संबोधित कर रहे थ ...

Read more

संघ का कार्य व्यक्ति निर्माण का कार्य है – अशोक पोरवाल जी

संघ शाखा कवायद करने का स्थान नहीं, संस्कारों का विद्यापीठ है भोपाल (विसंकें). प्रांत प्रचारक अशोक पोरवाल जी ने कहा कि वर्तमान परिवेश में जेएनयू, हैदराबाद एवं कश्मीर एनआईटी की घटनाओं से देश के युवाओं में गलत संदेश जा रहा है. संघ की प्रेरणा से चलने वाला विद्यार्थी संगठन इन चुनौतियों का डटकर सामना कर रहा है. देश को आज ज्यादा खतरा बाहरी शक्तियों से नहीं, देश में छिपे हुये गद्दारों से है. युवाओं को आज देश हित मे ...

Read more

मध्य प्रदेश में बढ़ीं 362 शाखाएं, मध्य भारत में शाखाओं की संख्या बढ़कर 1439 पर पहुंची – यशवंत जी

भोपाल (विसंकें). संघ की अखिल भारतीय बैठक में शिक्षा, स्वास्थ्य और समरसता पर जोर दिया गया है. देश में महंगी होती शिक्षा और स्वास्थ्य सेवाओं पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने गहरी चिंता जताई है. सरकार से शिक्षा के व्यापारीकरण पर अंकुश लगाने के लिए नियामक आयोग को प्रभावी बनाने की भी मांग की है. बैठक में स्वास्थ्य एवं सुदृढ़ भारत के निर्माण की दृष्टि से देश के समक्ष खड़ी तीन महत्वपूर्ण चुनौतियों पर मंथन कर प्रस्ताव ...

Read more

देश की आजादी में प्रत्येक देशवासी के पूर्वजों ने बलिदान दिया – इंद्रेश कुमार जी

भोपाल (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय कार्यकारिणी के सदस्य इंद्रेश कुमार जी ने कहा कि स्वतंत्रता को कुचलने व जीवन मूल्यों को समाप्त करने की कोशिश का नाम आतंकवाद है. हथियारों के उपयोग द्वारा अथवा गुंडागर्दी से भयभीत करने का नाम ही आतंकवाद नहीं है, बल्कि वैचारिक रूप से भ्रमित करना भी आतंकवाद का एक रूप है. शुरूआत दौर में कश्मीर में नारा लगता था – हंस कर लिया है पाकिस्तान, लड़कर लेंगे हिन्दुस्त ...

Read more

जेएनयू घटना के विरोध में भोपाल में हम हिन्दुस्तानी के बैनर तले जनता का मार्च

भोपाल (विसंकें). भोपाल सहित पूरे मध्यप्रदेश में आयोजित प्रदर्शनों में जेएनयू में घटित राष्ट्रविरोधी घटनाओं पर आक्रोश व्यक्त किया. प्रदर्शनों में सबसे चर्चित हम हिन्दुस्तानी के बैनर तले आयोजित प्रदर्शन रहा. भोपाल में चार स्थानों से तिरंगा यात्रा प्रारम्भ होकर भारत माता चौराहे पर एकत्रित होकर एक जनसभा में परिवर्तित हो गई. यात्रा में हजारों की संख्या में दोपहिया व चौपहिया वाहनों ने भाग लिया. जनसभा को मुख्य वक् ...

Read more

आयुर्वेद में शोध, चुनौतियां व भविष्य की संभावनाएं विषय पर राष्ट्रीय कार्यशाला

चित्रकूट (विसंकें). पं. दीनदयाल उपाध्याय जी एवं राष्ट्रऋषि नानाजी देशमुख जन्मशताब्दी वर्ष के उपलक्ष्य में दीनदयाल शोध संस्थान, चित्रकूट के स्वास्थ्य प्रकल्प आरोग्यधाम के आयुर्वेद सदन के तत्वाधान में भारत सरकार के आयुष मंत्रालय के सहयोग से आयुर्वेद के क्षेत्र में शोध, चुनौती एवं भविष्य की सम्भावनाओं विषय पर दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यशाला का आयोजन किया गया. कार्यशाला के द्वितीय दिन डॉ. एमबी शंकर पीएलआईएम गाजिय ...

Read more
Scroll to top