You Are Here: Home » समाचार » महाकौशल

भारत का प्राचीन गौरवशाली इतिहास छात्रों को पढ़ाने की आवश्यकता – जे. नंदकुमार जी

कटनी, महाकौशल (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय सह प्रचार प्रमुख जे. नंदकुमार जी ने कहा कि अक्षरों के माध्यम से पुस्तकों को पढ़ने की रूचि बढ़ाने को छात्रों के लिये तरह-तरह के आयोजन करने चाहिएं. राष्ट्रीय विचारों से भारतीय समाज को एकजुट बनाये रखने का सबसे बेहतर माध्यम पुस्तक है. वर्तमान समय में शिक्षा के क्षेत्र में प्राचीन इतिहास पाठ्यक्रम से नदारद है, जिससे आज के छात्र अनभिज्ञ हैं. इसलिए पाठ ...

Read more

भारत का समाज धर्म, सत्य, न्याय के साथ खड़ा रहता है – सुरेश भय्या जी जोशी

मुरैना (महाकौशल). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह सुरेश भय्या जी जोशी ने कहा कि यह देश हिन्दुओं का है. इसके उत्थान एवं पतन का जिम्मेदार भी हिन्दू ही है. हिन्दू धर्म नहीं, अपितु जीवन पद्धति है. यदि हमें हमारी पहचान सौ करोड़ की रखनी है तो उसे एक रखने के लिए, हमें सब भेद मिटाकर पहचान भी एक रखनी होगी. सरकार्यवाह जी मुरैना स्थित पंचायती धर्मशाला में आयोजित समरसता बैठक को संबोधित कर रहे थे. बैठक में मुरैना, ...

Read more

बैहर में पुलिस कर्मी जियाउल ने की संघ कार्यालय में घुसकर जिला प्रचारक से मारपीट

शिकायत पर एएसपी, टीआई, एएसआई के खिलाफ मामला दर्ज बालाघाट. बालाघाट जिले के बैहर थाना प्रभारी जियाउल हक ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के जिला प्रचारक सुरेश पुत्र भागीरथ यादव के साथ मारपीट की. घटना के बाद से बैहर क्षेत्र में संघ कार्यकर्ताओं में रोष बढ़ गया है. संघ के प्रचारक सुरेश जी की शिकायत पर एएसपी राजेश शर्मा, निरीक्षक जियाउल हक, उपनिरीक्षक अनिल अजमेरिया, सुरेश व अन्य के खिलाफ धारा 294, 323, 506, 147, 392, ...

Read more

पत्रकारों को ईमानदारी व निष्ठा से कार्य करना चाहिए – आनंद जी

जबलपुर (विसंकें). विश्व सम्वाद केंद्र द्वारा नारद जयंती के उपलक्ष्य में पत्रकार सम्मान समारोह का आयोजन किया गया. यह कार्यक्रम का 12वां वर्ष है. कार्यक्रम में मुख्य अतिथि आनंद पाण्डेय जी ने समाज को मीडिया क्षेत्र में जुड़ने का आग्रह किया. उन्होंने कहा कि हिन्दी पत्रकारिता में अच्छे पत्रकारों की कमी है. मैं यानि पत्रकार झूठ बोलूं तो उसका किरदार (व्यक्तित्व या प्रतिष्ठा) गिरता है और सच बोलूं तो परिवार भूखा मरता ...

Read more

साधू संत समाज से अस्पृश्यता दूर करने के लिए प्रायसरत – डॉ. प्रवीण भाई तोगडिया

जबलपुर (विसंकें). विश्व हिन्दू परिषद के अंतर्राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष डॉ. प्रवीण भाई तोगडिया ने जबलपुर में एक पत्रकार वार्ता को संबोधित किया. डॉ. तोगडिया जी ने कहा कि देश में वर्ष 1966 से अस्पृश्यता विरोधी कानून लागू है. राष्ट्र के 20,000 साधू संत समाज में इसे दूर करने हेतु प्रयासरत है. विश्व हिन्दू परिषद ने प्रन्यासी मंडल की बैठक में यह प्रस्ताव पारित किया कि समाज में अस्पृश्यता दूर कर समरस हिन्दू- एक ह ...

Read more

लक्ष्मण राव जी का सड़क दुर्घटना में निधन

जबलपुर (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पूर्व अखिल भारतीय शारीरिक प्रमुख एवं वर्तमान में क्रीड़ा भारती के अखिल भारतीय कार्यकारी अध्यक्ष के बारे में कहा जाता कि वे साधारण-से-साधारण दिखते हैं, परंतु असाधारण कर्तृव के धनी हैं. समय के पाबन्द, अपने ध्येय और अपनी जिम्मेवारी को निरंतर निभाते समय ऊर्जावान और संयमित रहते. चरैवेति-चरैवेति से जीते हुए आज जब हम एक जिम्मेवारी में समय की कमतरता बताते हैं तो वहीं लक् ...

Read more

राष्ट्र की प्रकृति के अनुरूप हों विकास की नीतियां: प्रो. कप्तान सिंह सोलंकी

भोपाल, 30 जनवरी (विसंके). हरियाणा के राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी ने कहा कि प्रत्येक राष्ट्र का अपना स्वभाव और प्रकृति होती है. उसी प्रकृति के अनुरूप नीतियां बनें तो विकास होगा, अन्यथा विकृति आयेगी. मनुष्य का बौद्धिक विकास सबसे पहले घर में होता है और फिर समाज में. अब तो मनुष्य के बौद्धिक विकास में मीडिया की अहम भूमिका हो गई है. इसलिये मीडिया को सांस्कृतिक भारत की प्रकृति को जानकर उसका हस्तातंरण करना चाहिये. ...

Read more

हिंदुत्व में ही समस्त समस्याओं का समाधान : परम पूज्य सरसंघचालक

जबलपुर (विसंके). सागर में आयोजित विशाल एकत्रीकरण में सरसंघचालक परम पूज्य डॉ मोहन भागवत जी ने कहा कि हिन्दुत्व ही एक मात्र रास्ता है जो विविधता में सभी को समभाव से स्वीकार करता है. उन्होंने गुरूदेव रविन्द्रनाथ टैगोर के लेख ”स्वदेशी समाज“ के अंश का हवाला दिया. देश को हिन्दू राष्ट्र बनाने का समर्थन करते हुये कहा कि वे संघ के करीब आयें और संघ को समझने का प्रयास करें. समृद्धि, सुरक्षा एवं विकास के लिये हमें पहले ...

Read more

इंटरनेट की अपेक्षा स्वयं साहित्य पढ़ना अधिक प्रमाणिक – अशोक बेरी जी

 कटनी (विसंके). कटनी में आयोजित पांच दिवसीय राष्ट्रीय साहित्य पुस्तक एवं स्वदेशी मेले के समापन अवसर पर मुख्य वक्ता राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय कार्यकारी मंडल सदस्य अशोक जी बेरी ने कहा कि ‘‘मेला शब्द ही आनंद की अनुभूति देता है. कटनी के स्वदेशी साहित्य मेले में मैं अपने समाज के लिये कुछ कर सकूं, मेरे द्वारा भी समाज का भला हो सके, हम सबको ऐसी अनुभूति होती है. इंटरनेट में जो उपलब्ध साहित्य है, उसकी प ...

Read more

विलुप्त होती बैगानी भाषा को बचाने के प्रयास

जबलपुर. यहां से लगभग 150 किलोमीटर दूर स्थित वनवासी जनपद डिंडौरी के बैगा छात्र अब अपनी ही भाषा बैगानी में अध्ययन करेंगे. बैगाओं की विलुप्त हो रही बैगानी भाषा को संजोने के प्रयास अब तेज हो गये हैं. राज्य शिक्षा केन्द्र ने बैगाचक क्षेत्र में संचालित विद्यालयों में अध्ययनरत बैगा छात्रों को अध्यापन कार्य कराने के लिये उनकी ही बैगानी भाषा में शब्दावली तैयार कराई है. शीघ्र ही विद्यालयों में शिक्षक बैगा छात्र-छात्र ...

Read more
Scroll to top