You Are Here: Home » समाचार » मालवा

कुछ लोग सबूत मांगकर सेना के पराक्रम पर सवाल उठा रहे – मे.जन. जीडी बक्शी

इंदौर (विसंकें). डॉ. हेडगेवार स्मारक समिति द्वारा आयोजित चिंतन यज्ञ में मेजर जनरल (सेनि.) जीडी बक्शी ने कहा कि देश के नागरिकों की सुरक्षा ही सरकार का पहला उत्तरदायित्व है. भारतीय सेना के लिए देश की सुरक्षा और सेवा प्रमुख ध्येय होता है, इसे प्रत्येक सैनिक जीवन पर्यन्त निभाता है. उन्होंने कहा कि समाज को सैनिकों का मनोबल बढ़ाना चाहिए, परन्तु कुछ लोग सबूत मांगकर उनके पराक्रम पर प्रश्नचिन्ह उठा रहे हैं जो बेहद श ...

Read more

स्वयंसेवक के अनुशासित आचरण से अन्य समाज भी प्रेरणा लेता है – डॉ. मोहन भागवत

इंदौर (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी मध्य क्षेत्र के प्रवास पर हैं. 20 फरवरी को सरसंघचालक जी ने इंदौर महानगर की सभी शाखाओं से आए गटनायकों व प्रवासी कार्यकर्ताओं की बैठक में भाग लिया. कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि गटनायक का कार्य हम सभी निभा रहे हैं, यह हमारे तंत्र का एक मुख्य कार्य है. गटनायक स्वयंसेवकों के एक समूह का नायक है. वह स्वयंसेवकों के समूह का स ...

Read more

देवपुत्र गौरव सम्मान समारोह सम्पन्न

दो दिवसीय महिला बाल साहित्यकार सम्मेलन इन्दौर. सरस्वती बाल कल्याण न्यास द्वारा प्रकाशित देवपुत्र बाल मासिक के सप्तम देवपुत्र गौरव सम्मान 2018 का आयोजन देवपुत्र सभागार में सम्पन्न हुआ. पटना के सुप्रसिद्ध बाल साहित्यकार डॉ. भगवती प्रसाद द्विवेदी को विद्याभारती के राष्ट्रीय महामंत्री डॉ. ललित बिहारी गोस्वामी (नई दिल्ली) एवं प्रख्यात साहित्यकार लीला मेंहदले (पुणे) सहित देशभर से उपस्थित महिला बाल साहित्यकारों की ...

Read more

राष्ट्र में बढ़ रहीं देश विरोधी गतिविधियां चिंताजनक – रवि शेखर नारायण सिंह

धार, मालवा (विसंकें). रॉ के पूर्व अधिकारी एवं सुरक्षा मामलों के जानकार रवि शेखर नारायण सिंह ने कहा कि देश को आज आंतरिक व बाहरी दोनों तरह की चुनौतियों से जूझना पड़ रहा है. जिहादी, माओवादी और चर्च नए संदर्भ में देश के राजनीतिक पटल पर घुस गए हैं. आज देश छद्म युद्ध के दौर से गुजर रहा है. बाहरी ताकतें हमारे अपने ही लोगों की वजह से देश की आंतरिक सुरक्षा के लिए चुनौती बनी हुई हैं. छत्तीसगढ में माओवादी गतिविधियां स ...

Read more

कश्मीर जैसे हालात देश के कई हिस्सों में बन रहे हैं – पुष्पेन्द्र कुलश्रेष्ठ

धार, मालवा (विसंकें). राजनीतिक विश्लेषक एवं पाकिस्तानी मामलों के विशेषज्ञ पुष्पेंद्र कुलश्रेष्ठ ने कहा कि हमारे समक्ष जो इतिहास रखा जा रहा है, वह सत्य के निकट नहीं है. शिक्षा पद्धति और इतिहास हमें भ्रम में रखे हुए है. जो हमें आजादी मिली है, वह वास्तव में आजादी न होकर शक्ति-सत्ता का हस्तांतरण मात्र है. सत्ता आएगी-जाएगी, लेकिन समाज स्थिर है. अब समय आ गया है कि समाज उठ खड़ा हो और सत्ता चलाने वालों से प्रश्न कर ...

Read more

हमारी सेना संयमित और सामर्थ्यवान है – मेजर सुरेंद्र पूनिया जी

इंदौर (विसंकें). मेजर सुरेंद्र जी पूनिया ने कहा कि हमारे देश की सेना पर हम सभी को गर्व होना चाहिए. वह बहुत खराब समय होता है, जब हमारे साथ रहने खाने-पीने वाला सीमाओं पर हमारे साथ ड्यूटी करने वाला सैनिक एक ऑपरेशन में शहीद हो जाता है. हम उसे ढंग से अलविदा भी नहीं कर पाते और वह हमारे बीच से चला जाता है, सैनिक देश की सेवा में लगा है. पर, कुछ लोग सेक्युलर शब्द और आंदोलन को अपनी ताकत बना कर देश में अपनी राजनीति चम ...

Read more

संस्कारयुक्त शिक्षा वर्तमान समय की अनिवार्यता – सुरेश सोनी जी

उज्जैन में आयोजित विराट गुरुकुल सम्मलेन का समापन उज्जैन (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह सुरेश सोनी जी ने कहा कि मनुष्य एक जीवमान इकाई है. आप उसे मशीन नहीं बना सकते. अगर वह मशीन बनेगा तो शिक्षा के क्षेत्र में रिक्तता आएगी. इसलिए आज के समय में संस्कार युक्त शिक्षा होनी चाहिए, जो मनुष्य के जीवन को आदर्श बनाए. सह सरकार्यवाह उज्जैन में आयोजित तीन दिवसीय अंतरराष्ट्रीय विराट गुरुकुल सम्मेलन के ...

Read more

शिक्षा से केवल ज्ञान प्राप्त नहीं होता, संस्कारों में भी शुद्धता आती है – सुरेश भय्याजी जोशी

उज्जैन (विसंकें). विराट गुरुकुल सम्मेलन के दूसरे दिन ज्ञानयज्ञ सत्र में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह सुरेश भय्याजी जोशी ने कहा कि शिक्षा से केवल ज्ञान प्राप्त नहीं होता, संस्कारों में भी शुद्धता आती है. भारत की परंपराओं को देखते हैं तो हम पाते हैं कि विकेंद्रित व्यवस्थाओं के तहत प्राचीन काल में गुरुकुलों में शिक्षा प्रदान की जाती थी. गुरुकुल को केवल आवासीय एवं भोजन व्यवस्था के विद्यालय नहीं कह सकते ...

Read more

जीविका के साथ जीवन की भी मिले शिक्षा – डॉ. मोहन भागवत जी

उज्जैन (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी ने कहा कि शिक्षा सिर्फ आजीविका ही नहीं दे, जीवन के लिए भी शिक्षा आवश्यक है. शिक्षा में जीवन के लिए दृष्टिकोण होना चाहिए, जो मूल्य आज हम परिवार में देखते हैं, उनका प्रकटीकरण भी गुरुकुल शिक्षा में होना चाहिए. सरसंघचालक जी महर्षि सांदीपनि वेद विद्या प्रतिष्ठान में आयोजित अंतरराष्ट्रीय विराट गुरुकुल सम्मेलन के शुभारंभ अवसर पर संबोधित कर रह ...

Read more

भारतीयों भाषाओं के सरंक्षण एवं संवर्धन में हो समाज की भूमिका – अशोक सोहनी जी

इंदौर (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के क्षेत्र संघचालक अशोक सोहनी जी ने कहा कि आज विविध भारतीय भाषाओं व बोलियों के चलन तथा उपयोग में आ रही कमी, उनके शब्दों का विलोपन तथा विदेशी भाषाओं से प्रतिस्थापन एक गंभीर चुनौती बनकर उभर रहा है. आज अनेक भाषाएं एवं बोलियां विलुप्त होती जा रही हैं और कई अन्य भाषाओं का अस्तित्व संकट में है. इसलिए हम सभी को समाज को सामूहिक प्रयास करके इन भाषाओं को विलुप्त होने से बचाना ...

Read more

Sign Up for Our Newsletter

Subscribe now to get notified about VSK Bharat Latest News

Scroll to top