You Are Here: Home » समाचार » मालवा

केरल में राष्ट्रपति शासन लागू हो, केंद्र हस्तक्षेप करें – राकेश सिन्हा जी

इंदौर (विसंकें). विचारक एवं दिल्ली विश्वविद्यालय में राजनीति शास्त्र के प्रोफेसर प्रो. राकेश सिन्हा जी ने कहा कि केरल में हो रही राष्ट्रवादियों की हत्या दुर्भाग्यपूर्ण है, इस संहार को रोकना अति आवश्यक है. ये राजनीतिक द्वेष से की गई हत्याएं हैं. देश की राजनीति का पतन हुआ है, इस देश की राजनीति की दिशा हमें तय करनी होगी कि इसमें राष्ट्रवाद है या नहीं. उन्होंने कहा कि केरल में लगातार हो रही हत्याओं से सम्पूर्ण ...

Read more

अगली क्रांति भारत के विचारों, मूल्यों व संस्कारों की होगी – विवेक अग्निहोत्री जी

इंदौर (विसंकें). फिल्म निर्देशक विवेक अग्निहोत्री जी ने कहा कि अब अगर देश में कोई बड़ी क्रांति आएगी तो वह है, भारत के मूल्यों की, भारत के विचारों की, और भारत के संस्कारों की तथा इसका साक्षी होगा हमारे देश का युवा. लेकिन ऐसा देखने में आया है कि कई बार हमारे देश का मीडिया इन मूल्यों को रोकने का प्रयास करता है, जो दुर्भाग्यपूर्ण है. उन्होंने कहा कि भारतीय संस्कृति और भारतीय विचार को दूसरे देश तथा दूसरे देश का ...

Read more

संघ हिंसा को प्रोत्साहन देने वाली सोच के खिलाफ है – डॉ. प्रकाश शास्त्री

इंदौर (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रान्त संघचालक डॉ. प्रकाश शास्त्री जी ने कहा कि केरल में संघ स्वयंसेवक व उनके परिवारजनों पर लगातार हो रहे हिंसात्मक हमलों के विरोध में 01 मार्च को पूरे देश के प्रमुख स्थानों पर नागरिकों द्वारा निषेध सभा का आयोजन किया गया. मालवा प्रान्त मध्यप्रदेश के उज्जैन शहर में जनाधिकार समिति द्वारा आयोजित ऐसी एक निषेध सभा में अनेक नागरिकों ने राज्य के प्रश्रय में हो रही संघ स ...

Read more

पाकिस्तान पहले आतंकवाद बंद करे तभी बात संभव – लेफ्टिनेंट जनरल सैयद अता हसनैन

इंदौर (विसंकें). डॉ. हेडगेवार स्मारक समिति के तत्वाधान में जाग्रत समाज – सुरक्षित राष्ट्र विषय पर व्याख्यान माला का आयोजन रविवार को आनंद मोहन माथुर सभागृह, विजय नगर इंदौर में किया गया. व्याख्यान माला में मुख्य वक्ता के रूप में लेफ्टिनेंट जनरल सैयद अता हसनैन जी (सेवानिवृत्त) उपस्थित रहे. भारतीय सेना के जांबाज योद्धा, विचारक सैयद हसनैन जी ने 40 वर्ष के सैनिक जीवन में अनेक महत्वपूर्ण भूमिकाएं निभायीं. उन्होंने ...

Read more

देश में चरित्र और राष्ट्र मूल्यों पर आधारित शिक्षा आवश्यक – अरुण कुमार जी

इंदौर (विसंकें). इंदौर में राष्ट्र चेतना शिविर के समापन अवसर पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय सह संपर्क प्रमुख अरुण कुमार जी उपस्थित रहे. समापन सत्र में उद्बोधन के पहले व्यक्तिगत गीत “ध्येय  साधना अमर रहे, अखिल जगत को पवन करती“ सोहन जी परमार ने गाया. उन्होंने कहा कि देश में चरित्र और राष्ट्र मूल्यों पर आधारित शिक्षा आवश्यक है. अरुण कुमार जी ने कहा कि किसी भी व्यक्ति का सम्मान तब तक नहीं हो सकता, जब ...

Read more

“राष्ट्र चिंतन को समर्पित हो युवा” – अरुण जी जैन

इंदौर (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ मालवा प्रान्त द्वारा आयोजित “राष्ट्र चेतना शिविर” का शुभारम्भ क्षेत्रीय प्रचारक अरुण जी जैन ने गुरु गोविन्द सिंह पुरम, सुपर कॉरिडोर, इंदौर में किया. श्री गुरु गोबिंद सिंह जी के 350वें प्रकाश पर्व को समर्पित युवा शिविर स्थल का नाम “गुरु गोबिंद सिंह पुरम” रखा गया है. शिविर स्थल पर प्रदर्शनी का उद्घाटन अखिल भारतीय धर्म जागरण प्रमुख शरद जी ढोले ने किया. प्रान्त भर से आये ...

Read more

पाश्चात्य नेशन की कल्पना Exclusiveness, जबकि भारतीय राष्ट्र की कल्पना Inclusivness पर आधारित – डॉ. कृष्ण गोपाल जी

इंदौर (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डॉ. कृष्ण गोपाल जी ने कहा कि भारत के शिक्षक का दायित्व बनता है कि भारतीय आध्यात्मिक दृष्टि से विद्यार्थियों को परिचित करवायें. भारतीयों में अपार प्रतिभा है, जिसका लोहा सारा विश्व मानता है. पाश्चात्य जगत के शिक्षक और भारतीय शिक्षक में ये ही अंतर है कि पाश्चात्य जगत में शिक्षक का विद्यार्थी से व्यावसायिक सम्बन्ध है, भारी शुल्क लेकर शिक्षक ज्ञान प्रदान ...

Read more

इंदौर में नारद जयंती पर कार्यक्रम का आयोजन

इंदौर (विसंकें). आबीएन-7 के सह संपादक सुमित अवस्थी जी ने कहा कि आज के इस वैश्विक युग में जिसमें सोशल मीडिया, इलैक्ट्रानिक मीडिया एवं प्रिंट मीडिया बदलते हुए वातावरण के साथ अपने आप को उस वातावरण के साथ कंधे से कंधा मिलाकर आगे बढ़ना चाहते हैं. श्रोता पक्ष एवं मीडिया के बीच एक बड़ा अंतर हमेशा बना रहता है. जिसमें आम तौर पर मीडिया को गैर जिम्मेदार बताया जाता है या हर खबर को एक एजेंडे के साथ दिखाने का आरोप लगता ह ...

Read more

सामाजिक समरसता आचरण में लाने की आवश्यकता है – पराग अभ्यंकर जी

इंदौर (विसंकें). डॉ. हेडगेवार स्मारक समिति इंदौर द्वारा आयोजित चिंतन यज्ञ के आज दूसरे व अंतिम दिन का विषय था सामाजिक समरसता व पंथ परंपरा. जिसके मुख्य वक्ता थे - मालवा प्रान्त के प्रान्त प्रचारक पराग अभ्यंकर जी. उन्होंने अपने व्याख्यान में कहा कि सामाजिक समरसता को समझना है तो हमको हमारे इतिहास में जाना होगा. हमारे देश में प्रारम्भ से विकास के लिए जो मानव दर्शन था, वह केवल और केवल भारत में था.  मनुष्य का मनुष ...

Read more

फिल्में समाज का आईना होती हैं – मधुर भंडारकर

इंदौर (विसंकें). तीन दिवसीय फिल्मोत्सव के अंतिम दिन में भी दर्शकों, फिल्म स्कूल से जुड़े विद्यार्थियों एवं फिल्मों मे रुचि रखने वालों का तांता लगा रहा. शॉर्ट फिल्मों और डॉक्युमेंट्री फिल्मों के प्रदर्शन के दौरान दर्शकों का उत्साह देखते ही बनता था. अंतिम दिन भी 2 स्क्रीन्स में करीब 24 शॉर्ट फिल्म और 6 डॉक्युमेंट्री फिल्मों का प्रदर्शन किया गया, जिनमें से कुछ फिल्मों ने लोगों को हंसाया तो कुछ ने झकझोरा भी. निर ...

Read more
Scroll to top