You Are Here: Home » समाचार » मेरठ (Page 4)

पत्रकारिता लोकतंत्र को मजबूत करने वाली हो – प्रफुल्ल केतकर

मेरठ (विसंकें). विश्व संवाद केन्द्र द्वारा आयोजित पत्रकारिता प्रशिक्षण वर्ग में साप्ताहिक आर्गनाइजर के सम्पादक प्रफुल्ल केतकर जी ने कहा कि ‘‘पत्रकारिता लोकतंत्र को मजबूत करने वाली होनी चहिये, इसलिये राष्ट्र भाव का जन जागरण ही पत्रकारिता का उद्देश्य है. आज पत्रकारिता के क्षेत्र में चुनौतियां बहुत हैं, लेकिन उससे अधिक अवसर भी हैं. वे दो दिन तक चले पत्रकारिता प्रशिक्षण वर्ग के समापन सत्र में बतौर मुख्य वक्ता ब ...

Read more

आध्यात्मिक एवं सेवा भावी 113 संस्थाओं का गाजियाबाद में संगम

हिन्दू आध्यात्मिक एवं सेवा मेला- 2016 गाजियाबाद. प्राणी मात्र के कल्याण के लिये हिन्दू समाज के अनेक धार्मिक व सामाजिक संगठन सैकड़ों प्रकार के सेवा कार्य चला रहे हैं. ऐसे ही सेवा कार्यों को समाज के सामने प्रस्तुत करने के लिये हिन्दू अध्यात्म एवं सेवा मेला-2016 का आयोजन गाजियाबाद में किया गया. मेले में ऐसे सभी धार्मिक, सामाजिक संगठनों के सेवा कार्यों को प्रदर्शनी के रूप में दर्शाया गया. गायत्री परिवार (हरिद्व ...

Read more

मेरठ प्रांत में खेल संगम का आयोजन

मेरठ (विसंकें). क्रीड़ा भारती मेरठ प्रान्त की ओर से सुभारती विश्वविद्यालय में दो दिवसीय विशाल खेल संगम का आयोजन किया गया. खेल संगम में लखनऊ, कानपुर, बरेली, देहरादून, हापुड़, गाजियाबाद, बुलन्दशहर सम्भल सहित 17 जिलों से 3000 से अधिक खिलाड़ियों ने भाग लिया. खेल संगम का शुभारम्भ क्रीड़ा भारती के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं प्रसिद्ध क्रिकेटर चेतन चौहान, क्षेत्र संघचालक डॉ. दर्शन लाल अरोड़ा जी, मेयर हरिकांत अहलूवालिया ...

Read more

देशभर में एक लाख से अधिक स्थानों पर डेढ़ लाख से अधिक सेवा कार्य

मेरठ (विसंकें). सूरजकुंड रोड स्थित, केशव भवन विश्व संवाद केंद्र पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ मेरठ प्रान्त की ओर से प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया. मेरठ प्रांत संघचालक सूर्यप्रकाश टोंक जी ने हैदराबाद में संपन्न राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय कार्यकारी मण्डल की बैठक से संबंधित जानकारी प्रदान की. उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में संघ कार्य का देशभर में विस्तार हुआ है. जिसमें दैनिक लगने वाली शाखाओं की संख्य ...

Read more

देशभक्ति की भावना अपनत्व से आती है – आलोक कुमार जी

मेरठ (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पश्चिमी उत्तर प्रदेशक क्षेत्र के क्षेत्र प्रचारक आलोक कुमार जी ने कहा कि हमेशा देश-समाज को केन्द्र बिन्दु मान कर युवा अपने देश को योगदान दें. युवाओं को बस मन बदलने की जरुरत है, सारी चीजें आसान हो जाएंगी. वे मेरठ महानगर की ओर से आयोजित युवाओं के एक कार्यक्रम में संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि देशभक्ति की भावना अपनत्व से आती है, जो अपनों का सम्मान नहीं करता, संसार म ...

Read more

दीनदयाल जी ने एकात्म मानव दर्शन समस्त विश्व के सामने रखा – अनिल गुप्ता जी

मेरठ (विसंकें). पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी के 100वें जन्मदिवस पर विश्व संवाद केन्द्र मेरठ ने गोष्ठी का आयोजन किया. सेवानिवृत्त आयकर आयुक्त अनिल गुप्ता जी ने कहा कि अपने जीवन को राष्ट्र की उन्नति के लिए कैसे लगाया जाए ? पंडित दीनदयाल उपाध्याय हमारे सामने एक महान उदाहरण हैं. वे महान पत्रकार, कुशल राजनीतिज्ञ एवं उच्च कोटि के मूर्धन्य विद्वान थे. अनिल जी रविवार को विश्व संवाद केन्द्र मेरठ द्वारा पंडित दीनदयाल जी ...

Read more

नारी को अपने स्वरूप के साथ ही मर्यादा को भी ध्यान में रखना होगा – प्रो. मनोरमा

मेरठ (विसंकें). प्रो. मनोरमा त्रिखा जी ने कहा कि भारतीय नारी स्वयं में सौन्दर्य की प्रतिमूर्ति होने के साथ- साथ प्रेम, बलिदान, साहस एवं विनम्रता की भी प्रतीक मानी गई है. नारी और पुरुष एक दूसरे के पूरक हैं. इतिहास में ऐसे अनेक उदाहरण हैं, जब भारतीय नारी ने समाज को नई दिशा दी है. लेकिन दुर्भाग्य से आज हमारे समाज की नारियां अपने अतीत को भूल कर ग्लैमर और बाजारीकरण की और दौड़ रहीं हैं, जो हमारी संस्कृति और सभ्यत ...

Read more

समाचार को सत्य, मंगलकारी और सकारात्मक होना चाहिए – जे. नंद कुमार जी

नोएडा. प्रेरणा मीडिया नैपुण्य संस्थान द्वारा दो दिवसीय नागरिक पत्रकारिता प्रशिक्षण शिविर संपन्न हुआ. इसमें नोएडा के साथ-साथ वैशाली, गाजियाबाद, फरीदाबाद, ग्रेटर नोएडा और दिल्ली के कुल 58 प्रतिभागियों ने प्रशिक्षण प्राप्त किया. समापन सत्र के मुख्य अतिथि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय सह प्रचार प्रमुख जे. नन्द कुमार जी थे, जबकि कार्यक्रम की अध्यक्षता वरिष्ठ पत्रकार बल्देव भाई शर्मा ने की. शिविर के 23 ज ...

Read more

संस्कृत भाषा को पूरा विश्व स्वीकार कर रहा – जयप्रकाश जी

मेरठ (विसंकें). संस्कृत भारती के क्षेत्र संगठन मंत्री जयप्रकाश जी ने कहा कि यदि हमें अच्छे चिकित्सक बनना है तो चरक से लेकर सुश्रुत को पढ़ना ही होगा. साथ ही अच्छा न्यायविद् बनने के लिये मीमांसा शास्त्र को भी पढ़ना ही होगा, क्योंकि इन शास्त्रों की भाषा संस्कृत है और संस्कृत भाषा वैज्ञानिक भाषा है, इस बात को आज पूरा विश्व स्वीकार करने लगा है. संस्कृत सभी भाषाओं की मातृभाषा है. किन्तु उपेक्षा के कारण संस्कृत भा ...

Read more

भारत आतंकवाद के खिलाफ देशों को एकजुट करने में निभाएगा अहम भूमिका – इंद्रेश कुमार जी

बड़ौत. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय कार्यकारिणी के सदस्य इंद्रेश कुमार जी ने कहा कि भारत आतंकवाद के खिलाफ आवाज बुलंद कर रहा है. उन्होंने विश्वास जताया कि आतंकवादी संगठनों के खिलाफ देश एकजुट होगा और दुनिया के सभी देशों को एकजुट करने में भारत महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा. जल्द ही दुनिया के सभी देश आतंकवाद के खिलाफ एकजुट होकर मुकाबला करेंगे, जिसमें भारत की भूमिका महत्वपूर्ण होगी. इंद्रेश कुमार जी बड़ौत ...

Read more
Scroll to top