You Are Here: Home » समाचार » हिमाचल प्रदेश (Page 5)

वीर बंदा बहादुर भारत की गौरवमयी परम्परा के संवाहक थे – आचार्य देवव्रत

शिमला (विसंकें). विश्व हिन्दू परिषद ने शिमला के ऐतिहासिक गेयटी थियेटर में महायोद्धा वीर बंदा बहादुर के 300वें शहीदी दिवस पर एक राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन को किया. आयोजन में मुख्य अतिथि के रूप में हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल आचार्य देवव्रत तथा बतौर मुख्य वक्ता हिप्र केंद्रीय विवि के वीसी डॉ. कुलदीप चंद अग्निहोत्री जी उपस्थित रहे. राज्यपाल आचार्य देवव्रत जी ने कहा कि वीर बंदा बहादुर भारत की गौरवमयी परम्परा के ...

Read more

जीवन शैली से पैदा हुए रोगों का योग ही एकमात्र निवारण – श्रीनिवास मूर्ती जी

शिमला (विसंकें). मधुमेह मुक्त भारत अभियान के राष्ट्रीय संयोजक श्रीनिवास मूर्ती जी ने कहा कि लोगों ने आधुनिकता की होड़ में ऐसी जीवन शैली अपना ली है, जिससे मनुष्य तन और मन से न केवल दुखी है. बल्कि इससे उसका बहुत सा धन भी रोगों के इलाज में बर्बाद हो रहा है. आज केवल योग ही एकमात्र ऐसा आसान विकल्प है जो जीवन शैली से पैदा होने वाले रोगों का एकमात्र निवारण है. वह शिमला में आरोग्य भारती के योग शिविर में संबोधित कर र ...

Read more

फूड प्रोसेसिंग और फूड मार्केटिंग में विदेशी निवेश की सीमा बढ़ाना किसान विरोधी – सतीश कुमार

शिमला (विसंकें). स्वदेशी जागरण मंच भारतीय खाद्य प्रसंस्करण एवं खाद्य बाजार में सरकार द्वारा विदेशी निर्भरता को बढ़ावा देने वाले विदेशी निवेश एवं जीएम तकनीकयुक्त फसलों का पुरजोर विरोध करेगा. बुधवार को स्वदेशी जागरण मंच के अखिल भारतीय सह विचार प्रमुख सतीश कुमार जी ने शिमला में प्रैसवार्ता में कहा कि सरकार खाद्य-प्रसंस्करण एवं खाद्य बाजार में सौ फीसदी निवेश खोल रही है, जिसका सीधा असर किसानों पर पड़ेगा. इससे बीजो ...

Read more

सामाजिक एकजुटता के लिए समरसता का होना अत्यंत आवश्यक – प्रो. चमनलाल जी

शिमला (विसंकें). रविवार को नाहन में मातृवन्दना संस्थान शिमला द्वारा सामाजिक समरसता विषय पर संगोष्ठी का आयोजन किया गया. संगोष्ठी में मुख्य वक्ता के रूप में हिमाचल विश्वविद्यालय के इक्डोल विभाग के एसोसिएट प्रो. चमनलाल बंगा उपस्थित रहे, जबकि कार्यक्रम की अध्यक्षता पचेरी विवि झुनझुनू राजस्थान के प्रति कुलपति प्रो. शिवराज सिंह ने की. कार्यक्रम की जानकारी एवं मंचस्थ महानुभावों का परिचय मातृवन्दना संस्थान शिमला के ...

Read more

देवर्षि नारद का अनुगमन करते हुए पत्रकारिता का एक ही लक्ष्य होना चाहिए, वह है सेवा – जे. नंदकुमार जी

शिमला (विसंकें). विश्व संवाद केंद्र शिमला ने नारद जयंती के अवसर पर आयोजित सम्मान समारोह में समाज में सकारात्मक प्रयासों के लिए प्रोत्साहन हेतु पत्रकारों को पुरस्कृत किया. पत्रकार सम्मान समारोह में एपीजी विश्वविद्यालय के प्रति कुलपति एवं नागालैंड के पूर्व राज्यपाल, पूर्व सीबीआई निदेशक डॉ. अश्वनी कुमार ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की. कार्यक्रम की अध्यक्षता डेलीपोस्ट की ब्यूरो प्रमुख अर्चना फुल्ल ने की, जबकि मुख् ...

Read more

भारतीय संस्कृति में मनुष्य के उत्थान के लिए मानवता की सेवा, परोपकार अनिवार्य तत्व – आचार्य देवव्रत जी

शिमला  (विसंकें). रविवार को हिमगिरी कल्याण आश्रम द्वारा संचालित छात्रावास में वार्षिकोत्सव हर्षोल्लास से मनाया गया. कार्यक्रम का शुभारंभ हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल आचार्य देवव्रत द्वारा किया गया. कार्यक्रम में आचार्य देवव्रत जी ने कहा कि प्राचीन काल से ही भारतीय भूमि पर विश्व को सुखी करने की भावना रही है. यहां पर पुरातन ऋषि एवं मुनियों का दर्शन ‘सर्वे भवंतु सुखिनः’ का रहा है, जिससे समय-समय पर विश्व ने प्रेरण ...

Read more

जो मां और मातृभूमि को नहीं मानते, वे किसी के सगे नहीं हो सकते – इंद्रेश कुमार जी

शिमला (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय कार्यकारिणी के सदस्य इंद्रेश कुमार जी ने कहा कि जिन लोगों को भारत, भारतीय और भारतीयता से प्रेम नहीं है, वे लोग देश को छोड़कर जा सकते हैं. इंद्रेश जी 25 अप्रैल सोमवार को पालमपुर में त्रिगर्त अभ्युदय परिषद की ओर से अभिव्यक्ति की आजादी विषय पर आयोजित गोष्ठी को मुख्य वक्ता के रूप में संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि जो लोग मां को नहीं मानते और मातृभूमि क ...

Read more

हिन्दू और भारतमाता की जय सबको जोड़ने वाले शब्द – संजीवन कुमार जी

शिमला (विसंकें). हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय के अंतर्राष्ट्रीय दूरवर्ती शिक्षण संस्थान में अभ्युदय स्टडी सर्कल के तत्वाधान में नववर्ष के उपलक्ष्य में एक संगोष्ठि का आयोजन किया गया. कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के रूप में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के हिमाचल प्रांत प्रचारक संजीवन कुमार जी ने भाग लिया. अपने उदबोधन में संजीवन जी ने देश में चल रहे भारतमाता की जय के विवाद को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा कि भारतमाता की ...

Read more

इतिहास की भूलों से सबक सीखने की आवश्यकता – आचार्य देवव्रत

मातृवन्दना के ’’समरसता’’ विशेषांक का राज्यपाल ने किया विमोचन शिमला (विसंकें). राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने शिमला में प्रदेश की सबसे अधिक प्रसार वाली मासिक जागरण पत्रिका मातृवंदना के ’’समरस समाज: सशक्त भारत’’ विषय पर प्रकाशित विशेषांक का  विमोचन किया. राज्यपाल मातृवंदना संस्थान द्वारा वर्ष प्रतिपदा पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रहे, जबकि सेवानिवृत पुलिस महानिरीक्षक प्रदीप कुमार सरपाल न ...

Read more

विश्व हिंदू परिषद् ने 1100 दीप जलाकर किया नववर्ष का स्वागत

शिमला (विसंकें). नववर्ष के अवसर पर विश्व हिंदू परिषद् की ओर से रिज मैदान पर दीपोत्सव कार्यक्रम का आयोजन किया गया. कार्यक्रम में प्रदेश के राज्यपाल आचार्य देवव्रत उपस्थित रहे. कार्यक्रम में विभिन्न संस्थाओं के सहयोग से शिमला के रिज मैदान पर 1100 दीप जलाकर नववर्ष का स्वागत किया गया. राज्यपाल ने प्रदेशवासियों की खुशहाली की कामना करते हुए सबको नववर्ष की शुभकामनाएं दी. इस अवसर पर आचार्य देवव्रत ने कहा कि भारतीय ...

Read more
Scroll to top