You Are Here: Home » समाचार (Page 2)

लक्ष्य पूर्ण करने के लिये सभी स्वयंसेवकों को जुटना होगा – आलोक कुमार जी

मेरठ (विसंकें). 25 फरवरी, 2018 को होने वाले विराट स्वयंसेवक समागम “राष्ट्रोदय” के दृष्टिगत रविवार 03 दिसंबर को मेरठ महानगर स्वयंसेवक एकत्रीकरण कार्यक्रम हुआ. नगर के जागृति विहार एक्सटेंशन स्थित मैदान में राष्ट्रोदय हेतु निर्मित संघस्थान पर प्रातः 7 बजे एकत्रीकरण में सम्मलित होने के लिए महानगर के कोने-कोने से स्वयंसेवकों की टोलियां जुटनें लगीं. एकत्रीकरण में वरिष्ठतम पीढ़ी के स्वयंसेवक पूरे उत्साह में दिखाई ...

Read more

वनवासी समुदाय के लिए काम करने वाली सुनीता गोडबोले जी ‘बाया कर्वे पुरस्कार’ से सम्मानित

पुणे (विसंकें). छत्तीसगढ़ का बस्तर क्षेत्र नक्सली गतिविधियों के लिए जाना जाता है. इसी क्षेत्र के वनवासी समुदाय के लिए पिछले 30 वर्षों से वनवासी कल्याण आश्रम का पूर्णकालिक कार्य करने वाली सुनीता गोडबोले जी को सामाजिक सेवा में उल्लेखनीय कार्य हेतु पुणे स्थित महर्षि कर्वे संस्था की ओर से 'बाया कर्वे पुरस्कार' से सम्मानित किया गया. सुनीता गोडबोले जी मूलतः पुणे की हैं, युवावस्था में स्नातक की शिक्षा के दौरान ही ...

Read more

आज के जीवन में जैसा एक स्वयंसेवक होना चाहिए, ठीक वैसे थे रमेश जी – डॉ. मोहन भागवत जी

दिल्ली प्रांत के पूर्व संघचालक स्व. रमेश प्रकाश जी की याद में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन नई दिल्ली. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, दिल्ली प्रांत के पूर्व संघचालक स्व. रमेश प्रकाश जी की याद में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया. सभा का आयोजन सिविक सेंटर के केदारनाथ साहनी ऑडिटोरियम में किया गया. इस दौरान राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ तथा राष्ट्र सेविका समिति सहित संघ के विविध संगठनों से जुड़े कार्यकर्ताओं ने स्व. रमेश जी को ...

Read more

दो घंटे की फिल्म द्वारा भारतीय संस्कृति को विकृत रूप में दर्शाया जा रहा – डॉ. बाल मुकुंद जी

नई दिल्ली. दिल्ली विश्वविद्याल के दौलत राम कॉलेज में 'संस्कृति' के तत्वाधान में रानी पद्मावती पर व्याख्यान आयोजित किया गया. व्याख्यान में अखिल भारतीय इतिहास संकलन योजना के संगठन सचिव डॉ. बाल मुकुंद जी ने कहा कि आजादी के बाद से ही इतिहास कम्युनिस्टों के हवाले कर दिया गया. तर्क और तथ्य से विहीन रहकर कम्युनिस्टों ने इतिहास लेखन किया है. दो घंटे की फिल्म से हमारी संस्कृति को तोड़ मरोड़ कर पेश करने की कोशिश की जा ...

Read more

अस्पृश्यता किसी भी रूप में शास्त्रसम्मत नहीं है – डॉ. प्रवीण भाई तोगड़िया

विश्व हिन्दू परिषद - धर्म संसद, 24, 25, 26 नवम्बर, 2017 उडुपी. धर्म संसद के दूसरे दिन (25 नवंबर) के अधिवेशन की अध्यक्षता मुम्बई के पूज्य स्वामी विश्वेश्वरानंद जी महाराज ने की. इस सत्र में विश्व हिन्दू परिषद के कार्याध्यक्ष डॉ. प्रवीण भाई तोगड़िया जी ने विश्व हिन्दू परिषद का निवेदन प्रस्तुत करते हुए कहा कि अस्पृश्यता शास्त्रसम्मत नहीं है. वेदों सहित किसी भी धर्मशास्त्र में अस्पृश्यता की मान्यता नहीं है. विश् ...

Read more

सुसंस्कारित एवं संगठित परिवारों से आदर्श समाज का निर्माण होगा – युद्धवीर जी

परिवार प्रबोधन कार्यक्रम पिथौरागढ़ देहारादून (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पिथौरागढ़ द्वारा उत्सव बारातघर में परिवार प्रबोधन कार्यक्रम का आयोजन किया गया. जिसमें पिथौरागढ़ नगर के 186 परिवारों के 654 सदस्यों ने प्रतिभाग किया. कार्यक्रम में विभिन्न प्रतियोगिताएं भी आयोजित की गई. अन्ताक्षरी प्रतियोगिता में बहनों ने बाजी मारी. बाल स्वयंसेवकों द्वारा एकल लोकगीत की प्रस्तुती दी गयी तथा वित्त मंत्री प्रकाश पन् ...

Read more

लोक मंगल की भावना से समाज के सामने सत्य रखना ही सच्ची पत्रकारिता – श्याम किशोर जी

मेरठ (विसंकें). विश्व संवाद केन्द्र मेरठ द्वारा दो दिवसीय पत्रकारिता प्रशिक्षण वर्ग का आयोजन किया गया. जिसमें चौ. चरण सिंह विश्वविद्यालय, आईआईएमटी विश्वविद्यालय, सुभारती विश्वविद्यालय एवं रुद्रा कॉलेज के जनसंचार एवं पत्रकारिता के छात्रों ने भाग लिया. वर्ग के उद्घाटन सत्र पर मुख्य वक्ता लोकसभा टीवी के सम्पादक श्याम किशोर सहाय जी ने कहा कि सत्य का अन्वेषण ही पत्रकार का काम है. लोक मंगल की भावना से समाज के साम ...

Read more

भारत का इतिहास बहुत गरिमापूर्ण रहा है, कुछ फिल्मों से इसे नहीं समझा जा सकता – मोनिका अरोड़ा जी

शिमला (विसंकें). उठो द्रौपदी शस्त्र उठा लो कविता के इस वाक्य को दोहराते हुए गुड़िया कांड पर भावुक होते हुए उच्चतम न्यायालय की अधिवक्ता मोनिका अरोड़ा जी ने कहा कि जब रक्षक ही भक्षक हो जाए तो आत्म सम्मान की रक्षा के लिए महिलाओं को शस्त्र उठाने ही होंगे. मोनिका जी  सोमवार को संविधान दिवस पर हिमाचल प्रदेश उच्च न्यायालय शिमला में अधिवक्ता परिषद् द्वारा आयोजित एक संगोष्ठी में संबोधित कर रही थीं. कार्यक्रम में मुख ...

Read more

डॉ. हेडगेवार जी ने संघ की स्थापना भारत को परम वैभव संपन्न बनाने के लिए की थी – नरेंद्र कुमार जी

रांची (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय सह प्रचार प्रमुख नरेंद्र कुमार जी ने कहा कि पूज्य डॉ. केशव बलिराम हेडगेवार जी ने सन् 1925 में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की स्थापना भारत को परम वैभव सम्पन्न बनाने के लक्ष्य को ध्यान में रख कर की थी. राष्ट्र को परम वैभव सम्पन्न बनाने का अर्थ है - भारत विश्व का सर्वश्रेष्ठ राष्ट्र बने. अपने राष्ट्र को परम वैभव सम्पन्न बनाने के लिए डॉ. हेडगेवार जी ने दो सूत् ...

Read more

कर्त्तव्यनिष्ठा से उत्कृष्ट जीवन जीने की प्रेरणा देती है गीता – डॉ. मोहन भागवत जी

कहा, गीता का अनुसरण करते हुए समाज में लानी होगी एकता एवं आत्मीयता की भावना कुरुक्षेत्र (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी ने कहा कि देश आज जिस परिस्थिति से गुजर रहा है, उसमें गीता का अनुसरण आवश्यक है. समाज में एकता एवं आत्मीयता की भावना लानी होगी. समाज को गीता का संदेश प्रत्यक्ष रूप से जीवन में उतारना होगा. गीता कर्त्तव्य निष्ठा से लेकर उत्कृष्ट जीवन जीने की प्रेरणा देती है. ब ...

Read more
Scroll to top