You Are Here: Home » Posts tagged "भय्याजी जोशी"

पुलवामा हमले के बलिदानियों के परिवार की सहायता हेतु आह्वान

14 फरवरी को कश्मीर घाटी के पुलवामा में सुरक्षा बलों पर हुए आत्मघाती हमले में 45 से अधिक वीर सुरक्षाबलों का बलिदान हुआ है. पूरा देश इससे व्यथित है. वस्तुतः यह अप्रत्यक्ष युद्ध जैसी स्थिति है, जिसमें देश के किसी न किसी भाग में प्रतिदिन सुरक्षा बल बलिदान दे रहे हैं ताकि हम शांति से रह सकें. मातृभूमि की रक्षा में अपने जीवन न्यौछावर करने वाले बलिदानियों के परिजनों की पीड़ा में हम सभी उनके साथ हैं. उन्होंने देश क ...

Read more

वैचारिक कुम्भ हम सब को एकात्मता की ओर ले जाने वाला सिद्ध होगा – भय्याजी जोशी

प्रयागराज. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह भय्याजी जोशी ने कहा कि भारत की विशिष्ट पहचान एवं हिन्दू समाज की जीवन दृष्टि, विभिन्न विचार मत, पंथ, सम्प्रदाय एवं साधना पद्धतियों का ध्येय व सत्य एक है, उसे प्राप्त करने के मार्ग अनेक हैं. सभी सम्प्रदायों का उद्देश्य नर को नारायण बनाना है. संयमित उपभोग, मर्यादाओं का पालन ही संस्कार है. भारतीय संस्कृति सिद्धान्त नहीं आचरण है और विश्व कल्याण की कामना इसी संस्कृ ...

Read more

विश्व कल्याण का मार्ग भारत से होकर ही निकलेगा – भय्याजी जोशी

हिन्दू एक होने की बात करता है, एक जैसा होने की नहीं जयपुर (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह सुरेश (भय्याजी) जोशी ने कहा कि देश के विकास में आज सबसे बड़ी बाधा हीनता का भाव है. लोग दूसरे देशों या संस्कृति से खुद को हीन समझने लगे हैं. भारत को जापान, चीन अमेरिका जैसे दूसरे देशों का अनुकरण करने के बजाय भारत को भारत रहने की आवश्यकता है. देश के युवाओं में हीनता को छोड़कर संस्कृति, भाषा, विचार आदि के ...

Read more

भारत का समाज नैतिक मूल्यों पर चलने वाला है – सुरेश भय्याजी जोशी

नई दिल्ली. राष्ट्रीय सुरक्षा जागरण मंच द्वारा आयोजित संगोष्ठी ‘मंथन’ में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह सुरेश (भय्याजी) जोशी ने कहा कि सेना को सीमान्त क्षेत्र के नागरिकों का सहयोग सीमा की सुरक्षा के लिए आवश्यक है. सीमावर्ती क्षेत्र में रहने वाले ग्राम वासियों का सहयोग जितना सीमावर्ती सेना को मिलता रहेगा, उतना उसका लाभ होगा. पड़ोसी अगर हमको दुश्मन मानता है तो यह चिंता का विषय है. देश के अंदर कई प्रकार ...

Read more

श्री गुरु नानक देव जी महाराज का 550वां प्रकाश वर्ष

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह जी का वक्तव्य हम सभी के लिए परम् सौभाग्य, आनंद व शुभ अवसर का विषय है कि श्री गुरु नानक देव जी महाराज का 550वां प्रकाश वर्ष, जो इस कार्तिक पूर्ण मास को प्रारंभ हो रहा है, हमारे जीवन में आया है। श्री गुरु जी महाराज ने अपने जीवनकाल में लगभग 45 हजार किमी की यात्रा, हिमालय से श्रीलंका तक, मक्का-मदीना, ताशकंद, ईरान, ईराक से लेकर तिब्बत, अरुणाचल प्रदेश की हिमआच्छादित पहाड़ियों ...

Read more

राम मंदिर का मुद्दा करोड़ों हिन्दुओं की आस्था से जुड़ा है – सुरेश भय्याजी जोशी

मुंबई. मुंबई के भायंदर में केशव सृष्टि में तीन दिन तक चली राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय कार्यकारी मंडल की बैठक में विचार किए गए विभिन्न राष्ट्रीय मुद्दों पर सरकार्यवाह सुरेश उपाख्य भय्याजी जोशी ने पत्रकारों से विस्तार से चर्चा की. भय्याजी जोशी ने कहा कि राम मंदिर का मुद्दा करोड़ों हिन्दुओं की भावना से जुड़ा संवेदनशील मुद्दा है और इस पर न्यायालय को शीघ्र विचार करना चाहिए. हिन्दू समाज ने राम मंदिर को ...

Read more

हिन्दू समाज की शक्ति विध्वंसक नहीं, रचनात्मक है – भय्याजी जोशी

इस देश के सभी संतों ने परहित का संदेश दिया है - भय्याजी जोशी पनवेल, मुंबई (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह सुरेश (भय्या जी) जोशी ने कहा कि “खुद को प्रबुद्धजन दर्शाकर समाज में संघर्ष उत्पन्न करने वाली कुछ शक्तियाँ दुर्भाग्य से कार्यरत हैं. अपने स्वार्थ के लिए यह लोग न्याय व्यवस्था, न्यायाधीशों पर आरोप लगाते समय कुछ सोचते नहीं. विश्‍वविद्यालय में लगाए गए भारत तेरे टुकटे होंगे के नारे लगाना, आत ...

Read more

‘अविरत श्रम करना, संघ जीवन जीना’ इस पंक्ति को बालासाहेब ने अर्थ दिया

पुणे (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह सुरेश (भय्याजी) जोशी ने कहा कि संघ के कार्य को केवल उसका व्याकरण अच्छा है, शब्द अच्छे हैं, स्वर अच्छे हैं, इसलिए अर्थ प्राप्त नहीं होता. बल्कि उसका अनुसरण कर जो स्वयंसेवक जीते हैं, उनके कामों के कारण अर्थ प्राप्त होता है. बालासाहेब आहिरे के कार्यों के कारण ‘अविरत श्रम करना, संघ जीवन जीना’ इस पंक्ति को सच्चे मायने में अर्थ प्राप्त हुआ है. इन शब्दों से सरक ...

Read more

सामाजिक कार्य से ही समाज में परिवर्तन होगा – भय्याजी जोशी

मुंबई (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह सुरेश भय्याजी जोशी ने कहा कि सामाजिक क्षेत्र, धार्मिक क्षेत्र, आर्थिक क्षेत्र, शिक्षा और सत्ता, यह पांच बातें जब समाज में एकसाथ चलती हैं, तब ही समाज परिवर्तन होता है. ये पांच बातें, जब ठीक तरह से चलती हैं, तब समाज का उत्थान होता है. समाज में मूल्य, नैतिकता आवश्यक है और यह काम संस्थाओं पर निर्भर है. ऐसा मूल्यवान काम भारत विकास परिषद करती आई है. सामाजिक न ...

Read more

भौतिकता के उत्थान में जीवन उत्थान का स्मरण भी रखना चाहिए – सुरेश भय्याजी जोशी

नई दिल्ली (इंविसंकें). दीनदयाल शोध संस्थान के भवन के नवसृजित मुखारविंद का लोकार्पण राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह सुरेश भय्याजी जोशी के करकमलों द्वारा हुआ. इस अवसर पर उनके साथ भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, केन्द्रीय संस्कृति मंत्री डॉ. महेश शर्मा तथा दिल्ली प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी उपस्थित थे. कार्यक्रम की शुरुआत राष्ट्रीय ध्वज के ध्वजारोहण से हुई. इसके पश्चात दीनदयाल शोध संस्थान के मह ...

Read more
Scroll to top