You Are Here: Home » Posts tagged "राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ"

23 सितम्बर / जन्मदिवस – नवदधीचि अनंत रामचंद्र गोखले जी

नई दिल्ली. अनुशासन के प्रति अत्यन्त कठोर श्री अनंत रामचंद्र गोखले जी का जन्म 23 सितम्बर, 1918 (अनंत चतुर्दशी) को म.प्र. के खंडवा नगर में एक सम्पन्न परिवार में हुआ था. ‘’ संघ के द्वितीय सरसंघचालक श्री गुरुजी के पिता श्री सदाशिव गोलवलकर जब खंडवा में अध्यापक थे, तब वे उनके घर में ही रहते थे. नागपुर से इंटर करते समय गोखले जी धंतोली सायं शाखा में जाने लगे. एक सितम्बर, 1938 को वहीं उन्होंने प्रतिज्ञा ली. इंटर की ...

Read more

हम संघ का वर्चस्व नहीं चाहते – डॉ मोहन भागवत जी

नई दिल्ली. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ.. मोहन भागवत जी ने कहा कि "हम संघ का वर्चस्व नहीं चाहते. हम समाज का वर्चस्व चाहते हैं. समाज में अच्छे कामों के लिए संघ के वर्चस्व की आवश्यकता पड़े संघ इस स्थिति को वांछित नहीं मानता. अपितु समाज के सकारात्मक कार्य समाज के सामान्य लोगों द्वारा ही पूरे किए जा सकें, यही संघ का लक्ष्य है." सरसंघचालक जी 'भविष्य का भारत - राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का दृष्टिकोण' विषय ...

Read more

वे पन्द्रह दिन… / 04 अगस्त, 1947

आज चार अगस्त... सोमवार. दिल्ली में वायसराय लॉर्ड माउंटबेटन की दिनचर्या, रोज के मुकाबले जरा जल्दी प्रारम्भ हुई. दिल्ली का वातावरण उमस भरा था, बादल घिरे हुए थे, लेकिन बारिश नहीं हो रही थी. कुल मिलाकर पूरा वातावरण निराशाजनक और एक बेचैनी से भरा था. वास्तव में देखा जाए तो सारी जिम्मेदारियों से मुक्त होने के लिए माउंटबेटन के सामने अभी ग्यारह रातें और बाकी थीं. हालांकि उसके बाद भी वे भारत में ही रहने वाले थे, भारत ...

Read more

राष्ट्र की रक्षा करना ही पत्रकारिता का धर्म – बल्देव भाई शर्मा

नोएडा. नेशनल बुक ट्रस्ट के अध्यक्ष बल्देव भाई शर्मा ने कहा कि पत्रकारिता का धर्म राष्ट्र की रक्षा करना है. देश में पत्रकारिता का उदय राष्ट्र जागरण के लिए ही हुआ था. आपातकाल के दौरान आम लोगों की आवाज कुचलने की पूरी कोशिश की गई थी. उस समय के अखबारों को लिखने की आजादी नहीं थी. वे 25 जून को प्रेरणा शोध संस्थान, नोएडा में उत्तर प्रदेश भाषा संस्थान लखनऊ के साथ संयुक्त तत्वाधान में आयोजित ‘आपातकाल की साहित्य सर्जन ...

Read more

21 मई / जन्मदिवस – प्रेरणा स्तम्भ राजाभाऊ सावरगांवकर

नई दिल्ली. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ प्रचारक और झारखंड प्रान्त के कार्यकर्ताओं के प्रेरणा स्तम्भ राजाभाऊ का जन्म ग्राम डेहणी (यवतमाल, महाराष्ट्र) में पाण्डुरंग सावरगाँवकर जी के घर में 21 मई, 1920 को हुआ था. उनके जन्म वाले दिन नृसिंह चतुर्दशी थी. इसलिये उनका नाम नरहरि रखा गया. इस प्रकार उनका पूरा नाम हुआ नरहरि पांडुरंग सावरगाँवकर, पर महाराष्ट्र में प्रायः कुछ घरेलू नाम भी प्रचलित हो जाते हैं. वे अपने ...

Read more

14 मई / पुण्यतिथि – उत्कृष्ट लेखक भैया जी सहस्रबुद्धे

नई दिल्ली. प्रभावी वक्ता, उत्कृष्ट लेखक, कुशल संगठक, व्यवहार में विनम्रता व मिठास के धनी प्रभाकर गजानन सहस्रबुद्धे का जन्म खण्डवा (मध्य प्रदेश) में 18 सितम्बर, 1917 को हुआ था. उनके पिताजी वहां अधिवक्ता थे. वैसे यह परिवार मूलतः ग्राम टिटवी (जलगाँव, मध्य प्रदेश) का निवासी था. भैया जी जब नौ वर्ष के ही थे, तब उनकी माताजी का देहान्त हो गया. इस कारण तीनों भाई-बहिनों का पालन बदल-बदलकर किसी सम्बन्धी के यहां होता रह ...

Read more

प्रतिनिधि सभा नागौर – प्रांत कार्यवाह-प्रचारक बैठक में संघ शिक्षा वर्गों पर चर्चा

नागौर, जोधपुर (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा से पूर्व प्रांत कार्यवाह तथा प्रांत प्रचारक बैठक में आगामी संघ शिक्षा वर्गों को लेकर विस्तृत चर्चा हुई. संघ शिक्षा वर्ग स्वयंसेवकों के लिए विशेष प्रशिक्षण वर्ग होता है. इन शिक्षा वर्गों में स्वयंसेवकों के व्यक्तित्व विकास हेतु शारीरिक, बौद्धिक, प्रबन्ध, सेवा, सम्पर्क व प्रचार का प्रशिक्षण दिया जाता है. संघ शिक्षा वर्ग तीन स्तर के ...

Read more

भारत सेवा और समर्पण से सुसज्जित श्रेष्ठ परंपराओं वाला देश है – सुरेश भय्या जी जोशी

नई दिल्ली (इंविसंके). परम पूज्य श्री गुरूजी की जयंती के उपलक्ष्य में समदृष्टि क्षमता विकास एवं अनुसंधान मंडल (सक्षम) के तत्वाधान में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह सुरेश भय्या जी जोशी द्वारा “कॉर्नियल अन्धता मुक्त भारत अभियान” (CAMBA) का शुभारंभ न्यू स्पीकर हॉल, कॉन्स्टीट्यूशन क्लब, नई दिल्ली में किया गया. भय्या जी जोशी ने सक्षम के मानवीय अभियान CAMBA की शुरुआत करने के बाद कहा कि सक्षम ने बहुत बड़ा सं ...

Read more

अपनत्व की भावना से सेवा सर्वोपरि : सरसंघचालक

आगरा. ‘‘देश और समाज के लिये प्रेम, आत्मीयता और अपनेपन की भावना से सेवा कार्य किये जाने चाहिये, न कि किसी तरह का सम्मान पाने की भावना से. स्वाभाविक आत्मीयता से किया गया कठिन कार्य भी सरलता से हो जाता है, हमें हर पल अपने देश के हित तथा उसकी सुरक्षा को देखकर करना चाहिये. आज जिन्हें सम्मानित किया गया है, ये सभी इसी भावना से कार्य कर रहे हैं ”. उक्त उद्गार राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ के परम पूज्य सरसंघचालक मोहन भागव ...

Read more

आगरा में युवा संकल्प शिविर का शुभारम्भ

आगरा. राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ ब्रजप्रान्त के तत्वाधान में आयोजित युवा संकल्प शिविर एक नवंबर को सांयकाल आस्था सिटी स्थित पं दीनदयाल उपाध्याय परिसर में विधिवत प्रारम्भ हो गया. शिविर के प्रशिक्षण वर्ग के उद्घाटन के अवसर पर क्षेत्र प्रचारक श्री आलोक जी ने युवाओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि अब कम्प्यूटर का युग है. हम किसी भी विद्वान के विचार यूट्यूब पर देख सकते हैं, पर सामूहिकता का आनन्द साथ-साथ रहकर और साथ-साथ ...

Read more
Scroll to top