You Are Here: Home » Posts tagged "Dr. hedgewar"

09 मार्च / पुण्यतिथि – नारी संगठन को समर्पित सरस्वती ताई आप्टे

1925 में समाज के संगठन के लिए डॉ. हेडगेवार जी ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का कार्य प्रारम्भ किया। संघ की शाखा में पुरुष ही आते थे। स्वयंसेवक परिवारों की महिलाएँ एवं लड़कियाँ डॉ. हेडगेवार जी से कहती थीं कि हिन्दू संगठन में महिलाओं का भी योगदान होना चाहिए। डॉ. हेडगेवार भी यह चाहते थे; पर शाखा में लड़के एवं लड़कियाँ एक साथ खेलें, यह उन्हें व्यावहारिक नहीं लगता था। इसलिए वे चाहते थे कि कोई महिला आगे बढ़कर महिलाओ ...

Read more

संघ समता युक्त-शोषण मुक्त समाज एवं अहंकार व स्वार्थ मुक्त व्यवस्था बनाने में लगा है – डॉ. मोहन भागवत

देहरादून (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी ने कहा कि संघ संस्थापक डॉ. हेडगेवार जी जन्मजात देशभक्त थे. उनको लगा कि हमारे समाज का परिवर्तन या देश को स्वतन्त्रता सिर्फ सरकारों या नारों के माध्यम से नहीं मिलेगी तथा स्वतन्त्रता का लाभ तभी मिलेगा, जब हमारा समाज एकजुट होगा. इस उद्देश्य को लेकर उन्होंने सन् 1925 में संघ की स्थापना की और शाखा के माध्यम से व्यक्ति निर्माण व समाज सेवा क ...

Read more

संघ समाज को संगठित करने का कार्य कर रहा – शशिकांत दीक्षित

मुजफ्फरनगर (विसंकें). राजकीय इण्टर कॉलेज के मैदान में आयोजित उमंगोत्सव कार्यक्रम में मुख्य वक्ता क्षेत्र कार्यवाह शशिकांत दीक्षित ने कहा कि डॉ. हेडगेवार ने 1925 में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के रूप में जो समाज जागरण की निरन्तर चलने वाली पद्धति दी थी, आज उसकी 80 हजार शाखाएं पूरे देश में हिन्दू समाज को संगठित करने का कार्य कर रही हैं. डॉ. हेडगेवार ने कहा था कि शाखा के माध्यम से समाज जागरण का रास्ता लम्बा हो सकत ...

Read more

पुस्तकों के महाकुंभ में ज्ञान के गोते लगा रहे हैं हम – डॉ. बलदेव भाई शर्मा

नई दिल्ली. प्रगति मैदान में चल रहे विश्व पुस्तक मेले में सुरुचि प्रकाशन एवं नेशनल बुक ट्रस्ट के संयुक्त तत्वाधान में ‘डॉक्टर हेडगेवार, संघ और स्वतंत्रता संग्राम’ तथा मंदिर भव्य बनाएंगे’ पुस्तकों का विमोचन किया गया. सुरुचि प्रकाशन द्वारा प्रकाशित इन पुस्तकों के लेखक नरेन्द्र सहगल ने पाठकों के साथ परिचर्चा की. उन्होंने कहा कि दोनों पुस्तकों का विषय अलग-अलग होने के बावजूद वैचारिक आधार एक है जो स्वतंत्रता से सं ...

Read more

डॉ. हेडगेवार ने संघ से अस्पृश्यता कैसे मिटाई?

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के बारे में पूरी दुनिया जानती है, लेकिन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संस्थापक कौन थे,  भारत के गठन में उनका क्या योगदान था, ऐसे सवाल अगर विद्वानों से पूछे जायें तो उनमें से 90 प्रतिशत लोगों को इस के बारे में कुछ नहीं पता होता है और शेष दस प्रतिशत लोगों को आधी-अधूरी जानकारी होती है. कुछ लोगों को विकृत जानकारी होती है. अचंभे की बात तो यह है कि इन विद्वानों को अपने अज्ञान के बारे में कोई ...

Read more
Scroll to top