करंट टॉपिक्स

अकाल एवं सूखे की स्थिति से कृषि मंत्री को सीमाजन कल्याण समिति ने कराया अवगत

Spread the love

Seemajan Kalyan Samitiजोधपुर. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और उसके अनुशांगिक संगठन सीमाजन कल्याण समिति के पदाधिकारियों ने केन्द्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह को पश्चिमी राजस्थान के सीमावर्ती बाड़मेर और जैसलमेर में व्याप्त अकाल एवं सूखे से उत्पन्न स्थितियों से अवगत करवाया तथा उनसे आग्रह किया कि यहाँ के किसानों और पशुपालकों को शीघ्र राहत पहुंचाये. कृषि मंत्री के 15 अक्टूबर को जोधपुर प्रवास के दौरान समिति के पदाधिकारियों ने शिष्टाचार भेंट में उनसे क्षेत्र के किसानों की यह दशा बताई. संघ के प्रांत प्रचारक मुरलीधर, विभाग प्रचारक बाड़मेर-जैसलमेर बाबूलाल, सीमाजन कल्याण समिति के प्रदेश संगठन मंत्री नीम्बसिंह, समिति के प्रदेश महामंत्री बंशीलाल के साथ जोधपुर सांसद गजेन्द्रसिंह शेखावत ने कृषि मंत्री के साथ विशेष चर्चा के दौरान उन्हें अवगत करवाया कि सीमावर्ती बाड़मेर और जैसलमेर जिले भीषण अकाल और सूखे की चपेट में हैं. यहां पर बारिश के अभाव में 90 प्रतिशत तक खरीफ की फसलें चौपट हो गई हैं. चारे पानी के अभाव में पशु दम तोड़ रहे हैं. बारिश की कमी से पानी का संकट सर्दी में भी विद्यमान होने वाला है. इसी तरह से नहरों में भी पानी की मात्रा कम है. उन्होंने बताया कि आगामी 10 महीने जिले के किसानों और पशुपालकों के लिये संकट से भरे हुये हैं. इसलिये केन्द्र और राज्य सरकार को अविलंब राहत कार्य शुरू करने चाहिये. वरिष्ठ पदाधिकारियों ने केन्द्र सरकार के मंत्री से उक्त दोनों जिलों के बड़े भू-भाग में डीएनपी क्षेत्र होने से लगी रोक से प्रभावित हो रहे विकास कार्यों के संबंध में भी चर्चा की है. केन्द्रीय कृषि मंत्री ने उन्हें आश्वस्त किया है कि सीमावर्ती जिलों में अकाल की स्थिति से निपटने में केन्द्र सरकार हर संभव सहायता करेगी. 

Leave a Reply

Your email address will not be published.