करंट टॉपिक्स

आरएसएस लद्दाख के नाम पर बने फर्जी ट्विटर हैंडल की साइबर सेल में शिकायत

Spread the love

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ लद्दाख के नाम पर कोई अलग से ट्विटर हैंडल नहीं

संघ का केवल एक ही आधिकारिक ट्विटर हैंडल – @RSSOrg

जम्मू. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की जम्मू कश्मीर इकाई ने आरएसएस लद्दाख नाम से बने ट्विटर हैंडल और वायरल ट्वीट को खारिज करते हुए इसे फर्जी करार दिया है. इस संबंघ में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ जम्मू कश्मीर प्रांत की ओर से संबंधित साइबर पुलिस स्टेशन में शिकायत भी कर दी गई है. संघ के जम्मू कश्मीर प्रांत के प्रचार प्रमुख राजन जोशी ने शिकायत दर्ज करवाने की पुष्टि की.

राजन जोशी ने स्पष्ट किया कि देश विरोधी साजिश के अंतर्गत आरएसएस को बदनाम करने का प्रयास किया जा रहा है. कुछ लोगों ने आरएसएस लद्दाख के नाम से फर्जी ट्विटर अकाउंट गत दो जून को बनाया और तीन जून को इससे पहला ट्वीट किया गया. आरएसएस लद्दाख के नाम से संघ का कोई ट्विटर हैंडल नहीं है. संघ का देश में केवल एक ही आधिकारिक ट्विटर हैंडल है – @RSSOrg.

जोशी ने कहा कि गत दिवस इस फर्जी हैंडल से साजिशन एक ट्वीट करके संघ की छवि को खराब करने की नाकाम कोशिश की गई. दो जून को ही यह ट्विटर हैंडल बनाया गया था और तीन जून की शाम छह बजकर आठ मिनट पर पहला ट्वीट किया गया और इस ट्वीट को पहली बार इकबाल अंसारी नाम के शख्स ने अमेरिका से रिट्वीट किया और बाद में इसे आगे बढ़ाया गया.

राजन जोशी का कहना है कि प्रारंभिक रूप से पता चला है इस ट्विटर हैंडल को जिस वीपीएन एड्रेस के जरिए चलाया जा रहा था, वह पाकिस्तान से जुड़ा हुआ था. देश विरोधी ताकतों का यह ताजा प्रयास लद्दाख में हिंदू-बौद्ध एकता को कमजोर करने की नाकाम साजिश है. जबकि संघ मत, पंथ, संप्रदाय और दर्शन को बांटने का काम कभी नहीं करता. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवक अनेक वर्षों से लद्दाख में केवल सामाजिक कार्य कर रहे हैं.

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *