करंट टॉपिक्स

ईश्वरीय कार्य है संघ कार्य: इंद्रेश कुमार

Spread the love

Sangh Karya Nishwarh ka Parmarth ka Karya Hai- Indresh jiरोहतक. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की कार्यकारी मंडल के सदस्य इंद्रेश कुमार  ने संघ कार्य को ईश्वरीय कार्य बताते हुए सलाह दी कि इस विचार में गहन आस्था स्वर्ग और मोक्ष प्रदायक होगी.

माधव चेतना ट्रस्ट के प्रस्तावित भवन के लिये भूमि पूजन करते हुए उन्होंने कहा, “भारत की धरती भगवान की गोद है जहां भगवान ने स्वयं जन्म लिया है. इसलिये इस धरती पर जन्मना हमारे लिये विशेष सौभाग्य की बात है. अतः इस पवित्र धरती पर जन्म लेकर हमारे जीवन की मंजिल क्या है, यह हमारे सोचने की बात है. जीवन में स्वार्थ से काम करेंगे तो परेशानी आयेगी, मार्ग नरक की ओर जायेगा. निःस्वार्थ, परमार्थ के लिये करेंगे तो स्वर्ग मिलेगा, मोक्ष मिलेगा.” माधव चेतना ट्रस्ट की ओर से बनने वाले इस भवन के लिए इस भवन के निर्माण के लिये माता कैलाश देवी ने भूमि दान में दी. मंहत बाबा चांदनाथ जी महाराज ने माता कैलाश देवी को वस्त्र भेंट कर सम्मानित किया.

karyakram photoइंद्रेश जी ने कार्यक्रम में उपस्थितजनों से आह्वान करते हुए कहा – ‘आओ! इस पवित्र अवसर पर हम संकल्प करें और छोटे छोटे संकल्पों के साथ जीवन की यात्रा को आगे बढ़ायें.’ उन्होंने कहा, “प्रत्येक परिवार एक निराश्रित बालक को गोद लेकर उसे अपना बनाये तो अपराध मुक्त भारत बनेगा. वह चोर-उचक्का नहीं बनेगा.” उन्होंने प्रत्येक व्यक्ति को हर वर्ष एक पेड़ लगाने की भी सलाह दी और कहा कि  इससे प्रदूषण मुक्त भारत बनेगा. उन्होंने कहा कि प्रत्येक परिवार को बेटी का जन्म व जन्मदिन धूमधाम से मनाना चाहिए तो भ्रूण हत्या मुक्त भारत बनेगा.

Sangh Karya Nishwarh ka Parmarth ka Karya Hai- Indresh ji--श्री इन्द्रेश जी ने कहा कि रक्षा बन्धन का उत्सव सभी को मनाना चाहिये. महिला को मैडम और लेडीज की दृष्टि से न देखकर उसे बहन और माता की दृष्टि से देखने व सम्मान देने से बलात्कार मुक्त भारत बनेगा. उन्होंने कहा कि यदि एक गरीब के घर को अपनायें. साल में दो बार उसके साथ मिलकर त्योहार मनायें, उसकी पढ़ाई व दवाई की चिंता करें तो देश में धर्मपरिवर्तन नहीं होगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.