करंट टॉपिक्स

एक लड़की बची लव जिहाद के षड्यंत्र से

Spread the love

d4297मैं खुशनसीब हूं कि मेरी बेटी का धर्म बच गया. नही तो वह भी धर्म परिवर्तन का शिकार हो जाती. आंसू भरी आंखों से यह उस पिता का बयान था जिसकी बेटी का बुधवार को सरायकाजी से अपहरण कर लिया गया था और वह उमर नगर से बरामद की गयी थी.

कैसे पहुंची यहां तक

सरायकाजी की रहने वाली किशोरी जो आर.जी. इण्टर कॉलेज में 11वीं कक्षा में पढ़ती है, को एक विषेश सम्प्रदाय का युवक अपहरण कर उमर नगर ले गया. जहां लड़की को देखकर लोगों ने हंगामा किया और किशोरी को बरामद किया.

भगवान ने बचा ली मेरी बेटी

लड़की के पिता देवेन्द्र (काल्पनिक नाम) ने बताया कि उनकी बेटी वर्षा (काल्पनिक नाम) धर्म परिवर्तन होने से बच गई. भगवान का शुक्रिया करता हूं कि मेरी बेटी लव जिहाद के चंगुल से बाहर आ गई. वर्षा के पिता से जब पूछा गया कि अगर बेटी का पता नहीं चल पाता तो क्या करते ? क्योंकि, सिटी में हो रही घटनाओं में पुलिस की भूमिका भी सवाल खड़ा करती है, तो देवेन्द्र ने साफ कहा कि अगर मेरी बेटी के साथ कुछ हो जाता तो वह सच में सल्फास खा लेता, वर्षा के घर के हालात ठीक नहीं है, पिता चिनाई का काम करते हैं तो 2003 में वर्षा की मां की टीबी की बीमारी से डेथ हो गई थी, जिसके बाद देवेन्द्र ने दूसरी शादी कर ली थी, जिससे उन्हें दो लड़के हैं.

d4196सिटी बसों में होती है छेड़छाड़

देवेन्द्र ने कहा कि वे देखते हैं कि सिटी बसों और टैम्पों में सबसे ज्यादा छेड़छाड़ होती है. विषेश सम्प्रदाय के युवक ज्यादातर सिटी बसों में कंडेक्टरी करते हैं. ये लड़के-लड़कियों के साथ छेड़खानी करते हैं, जब लड़कियां चुप रहती हैं तो ये उनके पीछे पड़ जाते हैं.

लव जिहाद का षड्यंत्र

वर्षा ने बताया कि घर से कॉलेज जाते हुए वह मुझे अक्सर बस में मिलता था. शुरू में उसने मुझसे बात करनी चाही, लेकिन मैंने कोई जवाब नहीं दिया. लेकिन वह नहीं माना. इसके बाद उसने मुझसे छेड़छाड़ शुरु कर दी. जब वह ज्यादा बदतमीजी करने लगा तो मैंने दो-तीन बार उसकी पिटाई भी की थी, लेकिन बुधवार को उसने मुझे कुछ खिला दिया था जिसके बाद नहीं पता वह मुझे कहां ले गया.

कलावा और टीका

वर्षा ने बताया कि वह जब मुझे मिलता था उसके हाथ में कलावा बंधा होता था और कभी-कभी माथे पर टीका होता था. इससे मुझे पता ही नहीं चल सका कि वह लड़का एक विषेश समुदाय से ताल्लुक रखता है.

शादी को कहता था

किशोरी ने बताया  कि वह बार-बार  उसे घुमाने ले जाने और शादी करने की बात कहता था. लेकिन उसने उसे कई बार मना कर दिया था. लेकिन फिर भी वह मेरे रास्ते में आकर मुझे से छेड़छाड़ करता था और कभी जोर जबरदस्ती भी करने की कोशिश की थी.

किशोरी ने अन्य लड़कियों को दिया संदेश

किशोरी वर्षा ने ये भी कहा कि किसी भी लड़की को ऐसे बहकावों में नहीं आनी चाहिये. इससे भविष्य खराब हो सकता है. ऐसे लड़कों को सबक सिखाने की जरूरत है, जिससे इन लड़कों की हिम्मत न हो पाये. चाहती हूं कि उस लड़के पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई होनी चाहिये.

Leave a Reply

Your email address will not be published.