करंट टॉपिक्स

कोरोना संक्रमण – तबलीगी जमात बना देश का Epicenter

Spread the love

एक वर्ग का गैर जिम्मेदाराना रवैया पूरे समाज के लिए संकट का सबब बनता जा रहा

भारती सिंह

नई दिल्ली. समाज के एक वर्ग का गैर जिम्मेदाराना रवैया पूरे समाज के लिए संकट का सबब बनता जा रहा है. जहां संपूर्ण देश कोरोना के खिलाफ एकजुट होकर जंग लड़ रहा है, वहीं दूसरी तरफ एक वर्ग बेवकूफी भरी हरकतें कर रहा है. जिस कारण न केवल सरकार, प्रशासन परेशान है, बल्कि सभी लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.

देश में लॉकडाउन व सरकार द्वारा पहले ही उठाए कदमों के कारण स्थिति नियंत्रण में थी. लेकिन कुछ लोगों ने निर्देशों का उल्लंघन करते हुए नमाज पढ़ना जारी रखा, निजामुद्दीन में तबलीगी जमात का आयोजन कोरोना संक्रमण का Epicenter के रूप में सामने आया. जिसके कारण देशभर में कोरोना संक्रमण के अनेक हॉट स्पॉट उभरकर सामने आए. इनमें दिल्ली का निजामुद्दीन, दिलशाद गार्डन, उत्तर प्रदेश में नोएडा और मेरठ, गुजरात में अहमदाबाद, केरल में कासरगोड और पत्तनमतिट्टा, महाराष्ट्र में मुंबई व पुणे शमिल हैं.

अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि 31 मार्च तक देश में 1397 एक्टिव मामले थे और 35 मौतें हुई थीं. वहीं अब, माईगव पर दर्शाए आंकड़ों के अनुसार (10 अप्रैल शाम पांच बजे तक) देश में कोरोना संक्रमण के 6039 एक्टिव मामले थे, 206 की मृत्यु हुई थी और 515 स्वस्थ/देशांतर हो चुके हैं.

दिल्ली – शनिवार तक राजधानी में कोरोना के 864 एक्टिव मामले थे, 14 की मौत हो चुकी है. तेजी से फैल रहे संक्रमण के कारण दिल्ली  में 21 हॉटस्पॉट चिन्हित कर उन्हें पूरी तरह से सील कर दिया गया है. जिनमें मुख्य रूप से मरकज मस्जिद निजामुद्दीन बस्ती व दिलशाह गार्डन है, इसके अलावा मालवीय नगर, संगम विहार, गली नंबर-6, शाहजहांबाद सोसाइटी, प्लॉट नंबर-1, सेक्टर-11, द्वारका, दिनपुर गांव, निजामुद्दीन वेस्ट (G और D ब्लॉक) इलाके, B-ब्लॉक, जहांगीरपुरी, कल्याणपुरी में गली नंबर-14 में मकान नंबर 141 से 180 तक, मंसारा अपार्टमेंट, वसुंधरा एन्क्लेव, दिल्ली, खिचड़ीपुर की 3 गलियां, जिनमें मकान नंबर 5/387 भी शामिल, गली नंबर-9, पांडव नगर, वर्धमान अपार्टमेंट, मयूर विहार, फेज-1 एक्सटेंशन, मयूरध्वज अपार्टमेंट, आईपी एक्सटेंशन, पटपड़गंज, किशनकुंज एक्सटेंशन गली नंबर 4 में (अनवर वाली मस्जित चौक तक), 16-वेस्ट विनोद नगर का गली नंबर 5, A ब्लॉक, दिलशाद गार्डन के J, K, L और H पॉकेट्स, ओल्ड सीमापुरी के G, H और J ब्लॉक्स, दिलशाह कॉलोनी के F-70 से 90 तक, प्रताप खंड, झिलमिल कॉलोनी, बंगाली मार्केट शामिल हैं.

महाराष्ट्र – महाराष्ट्र में कोरोना के सबसे अधिक 1276 एक्टिव केस हैं. महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण से अभी तक 110 लोगों की मौत हो चुकी है. यह सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य है.  मुंबई और पुणे दोनों शहर कोरोना हॉटस्पॉट हैं.
इनके अलावा तमिलनाडु में 859, राजस्थान में 529, तेलंगाना में 452, मध्य प्रदेश में 410, उत्तर प्रदेश में 397 एक्टिव केस हैं. जिसके पश्चात इन राज्यों में हॉट स्पॉट चिह्नित कर सील कर दिया गया है. इन राज्यों सहित अन्य राज्यों में भी कोरोना एक्टिव केस की संख्या में उछाल का कारण तबलीगी जमात में शामिल लोग ही हैं. केंद्र सहित विभिन्न राज्यों द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार सभी जगह 60-70 प्रतिशत से अधिक एक्टिव केस तबलीगी जमात से संबंधित या उनके संपर्कितों के हैं.

सारी स्थिति को जानते हुए भी जमात में शामिल होने वाले अनेक लोग अब भी छिपकर बैठे हुए हैं, अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि हिमाचल प्रदेश और हरियाणा में पुलिस ने अंतिम चेतावनी दी कि यदि अब भी जमातियों ने अपने आप आकर जानकारी नहीं दी तो ऐसे लोगों के खिलाफ धारा 307 (हत्या के प्रयास का) के तहत मामला दर्ज किया जाएगा.

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *