करंट टॉपिक्स

दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष ज़फरुल इस्लाम ख़ान की देश को धमकी

जफरुल ने इस्लामिक कट्टरपंथियों और जाकिर नायक की प्रशंसा की

नई दिल्ली. दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष जफरुल इस्लाम के फेसबुक पोस्ट के विवाद खड़ा हो गया है. जफरुल अपनी पोस्ट में हिन्दुओं को धमका रहे हैं, साथ ही कट्टरपंथियों की प्रशंसा कर रहे हैं. अपनी पोस्ट में उन्होंने भारत के मुसलमानों के साथ खड़े होने पर धन्यवाद किया है तथा भारत के हिन्दुओं को “Hindutva bigots” कहा है. जफरुल ने पोस्ट 28 अप्रैल को फेसबुक और ट्विटर हैंडल पर शेयर की थी.

जफरुल इस्लाम खान लिखते हैं – धन्यवाद कुवैत, भारत के मुसलमानों के साथ खड़े होने के लिए! “Hindutva bigots” हिंदुओं ने सोचा था कि अरब और मुस्लिम देश भारत के साथ अपने बड़े आर्थिक संबंधों के कारण मुसलमानों के उत्पीड़न की परवाह नहीं करेंगे. कट्टरपंथी भूल गए हैं कि भारत के मुसलमानों को अरब और मुस्लिम देशों में जबरदस्त लोकप्रियता प्राप्त है. क्योंकि उन्होंने सदियों से इस्लाम की सेवा की है. शाह वलीउल्लाह देहलवी, इकबाल, अबुल हसन नदवी, वहीदुद्दनी खान, ज़ाकिर नाइक, और कई अन्य नाम अरब व मुस्लिम देशों के घर-घर में प्रसिद्ध हैं. Mind you, Bigots भारत के मुसलमानों ने अब तक मुस्लिम उत्पीड़न की शिकायत अरब और मुस्लिम देशों से नहीं की है, जिस दिन मुसलमानों ने शिकायत कर दी तो Bigots  तुम्हें तूफान (Avalanche), का सामना करना पड़ेगा.

इससे पहले 03 अप्रैल को दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष जफरुल इस्लाम खान ने दिल्ली के हिन्दू विरोधी दंगों में शामिल कुछ लोगों के खिलाफ कार्रवाई पर दिल्ली पुलिस आयुक्त को नोटिस भेज चुके हैं. नोटिस में दिल्ली दंगों के मामलों में पुख्ता सबूत होने पर ही गिरफ्तारी करने के लिए कहा था. नोटिस में यह भी कहा था – लॉकडाउन खुलने के पश्चात तथा स्थितियां सामान्य़ होने पर हम इन गिरफ्तारियों की समीक्षा करेंगे.

विदेश मंत्रालय पहले ही स्पष्ट कर चुका है कि – हमने कुवैत में गैरसरकारी सोशल मीडिया हैंडलों पर भारत के संदर्भ में कुछ चीजें देखी हैं. कुवैत सरकार ने हमें आश्वासन दिया है कि वो भारत के साथ दोस्ताना रिश्तों के लिए प्रतिबद्ध हैं. वे भारत के आंतरिक मामलों में भी किसी तरह की हस्तक्षेप का समर्थन नहीं करते.

अधिवक्ता प्रशांत पटेल उमराव ने ट्वीट कर जानकारी दी कि उन्होंने जफरुल इस्लाम खान की पोस्ट पर दिल्ली पुलिस से शिकायत की है तथा उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आग्रह किया है.

विहिप ने भी जफरुल की टिप्पणी पर निशाना साधा है. विश्व हिन्दू परिषद के संयुक्त महामंत्री डॉ. सुरेंद्र जैन ने अपने ट्वीट में कहा कि – #Zafarulislam जिस देश का खाते हो उसी को तूफान की धमकी देते हो? तुम्हारे आदर्शों में आतंकी #jakirnayak है, देशभक्त #APJ नहीं है! दूसरे #जिन्ना बनना चाहते हो? ग़द्दार #जमातियों के पापों पर पर्दा डालने के लिए हिन्दुओं को गाली देते हो? यह 1947 नहीं है. देश को धमकी देना भारी पड़ेगा.

https://twitter.com/ippatel/status/1255393843383590912

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *