करंट टॉपिक्स

दिव्यांग स्वावलंबी होकर समाज व राष्ट्र की सेवा में संलग्न हों – भय्याजी जोशी

Spread the love

सक्षम की राष्ट्रीय प्रांत सचिव बैठक 14, 15, 16 फरवरी को संपन्न

अमलेश्वर, छत्तीसगढ़ (विसंकें). समदृष्टि क्षमता विकास एवं अनुसंधान मंडल (सक्षम) की राष्ट्रीय कार्यकारिणी व प्रांत सचिवों की अखिल भारतीय बैठक 14 से 16 फरवरी के मध्य संपन्न हुई. बैठक हर्टफुलनेस सेंटर, महादेव घाट, अमलेश्वर में संपन्न हुई. अधिवेशन में विभिन्न प्रांतों के 80 कार्यकर्ताओं ने भाग लिया.

सक्षम, दिव्यांगों के संपूर्ण विकास हेतु समर्पित राष्ट्रीय सामाजिक संगठन है. बैठक के उद्घाटन अवसर पर सक्षम के राष्ट्रीय संगठन सचिव डॉ. सुकुमार जी ने संगठनात्मक विषयों पर चर्चा की. उन्होंने कहा कि सक्षम के कार्य का विस्तार प्रांत स्तर से लेकर खंड स्तर तक ले जाना है. दिव्यांगों को समाज में उचित स्थान प्राप्त हो, इसके लिए हम सभी का योगदान आवश्यक है. समापन सत्र में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह भय्याजी जोशी ने कार्यकर्ताओं का मार्गदर्शन किया. उन्होंने कहा कि समाज में सभी व्यक्ति पूर्ण नहीं है, सभी में कुछ न कुछ कमियां या न्यूनता होती है. प्रकृतिजन्य कारणों से अगर कोई दिव्यांग होता है तो उसमें कुछ विशेष योग्यता, क्षमता अवश्य होती है. दिव्यांगों को समाज में मान, सम्मान, प्रतिष्ठा मिले, वे स्वावलंबी होकर समाज व राष्ट्र की सेवा में संलग्न हों, हमें इसके लिए प्रयास करना चाहिए.

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अ. भारतीय सह सेवा प्रमुख राजकुमार मटाले जी ने भी बैठक में कार्यकर्ताओं का मार्गदर्शन किया.

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *