करंट टॉपिक्स

दो स्वयंसेवक घायल किशोरी की मदद के लिये आगे आये

Spread the love

Do Swayamsevakदेहरादून जुलाई (विसंके). ‘‘आपका बहुत-बहुत धन्यवाद, आओ आपको कुछ खिलाता हूं. भाई जी! अरे रूको, ये आपके लिये पैसे हैं, अरे ले लो जी, आपके फल के लिये हैं. अरे भाई जी आपका तो मेरे साथ खून का रिश्ता हो गया है’’

ये भावुकता से भरे शब्द थे जिला चमोली के पीपलकोटी के रहने वाले उस बेबस पिता के जो अपनी 14 वर्षीय बिटिया तनूजा को कोरोनेशन हॉस्पिटल में भर्ती कराये हुये है. वह अपने दाहिने हाथ की बीच की दो अंगुलियां और पूरा बायां हाथ विद्युत की चपेट में आने से खो चुकी है.

यह बात जब विश्व संवाद केन्द्र देहरादून को पता चली तो यहां के दो स्वयंसेवक नरेश प्रसाद व प्रमोद मिश्रा आज सुबह ही दून अस्पताल पहुंचकर  Kishori ki madad ko aage aayeउस बालिका के पिता देवेन्द्र सिंह से सम्पर्क कर कर 2 यूनिट रक्तदान किया तथा भविष्य में भी सहयोग करने की बात कही और हम सबकी ईश्वर से प्रार्थना है कि वह जल्दी ही स्वस्थ हो कर अपने परिवार के साथ प्रसन्नतापूर्वक जिये.

Leave a Reply

Your email address will not be published.