द्वितीय सरसंघचालक श्री गुरू जी के जन्मदिवस पर रक्तदान शिविर एवं सम्मान समारोह का आयोजन Reviewed by Momizat on . आगरा (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के द्वितीय सरसंघचालक श्री माधवराव सदाशिवराव गोलवलकर, श्री गुरूजी के जन्मदिवस पर रविवार को माधव भवन, जयपुर हाउस में रक्तद आगरा (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के द्वितीय सरसंघचालक श्री माधवराव सदाशिवराव गोलवलकर, श्री गुरूजी के जन्मदिवस पर रविवार को माधव भवन, जयपुर हाउस में रक्तद Rating: 0
    You Are Here: Home » द्वितीय सरसंघचालक श्री गुरू जी के जन्मदिवस पर रक्तदान शिविर एवं सम्मान समारोह का आयोजन

    द्वितीय सरसंघचालक श्री गुरू जी के जन्मदिवस पर रक्तदान शिविर एवं सम्मान समारोह का आयोजन

    Spread the love

    आगरा (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के द्वितीय सरसंघचालक श्री माधवराव सदाशिवराव गोलवलकर, श्री गुरूजी के जन्मदिवस पर रविवार को माधव भवन, जयपुर हाउस में रक्तदान शिविर का  योजन किया गया. श्रीगुरूजी स्मारक समिति के तत्वाधान में आयोजित जन्मदिवस कार्यक्रम का शुभारंभ प्रात:8 बजे हवन के साथ हुआ. इसके बाद रक्तदान शिविर का उद्घाटन कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डॉ. एमसी गुप्ता, कार्यक्रम के अध्यक्ष संस्कार भारती के अखिल भारतीय अध्यक्ष बांकेलाल जी, मार्सन्स ग्रुप के निदेशक विमल जैन, डॉ. अनिल अग्रवाल एवं ​समिति के अध्यक्ष महानगर संघचालक विजय गोयल ने श्रीगुरूजी के चित्र पर माला चढ़ाकर व दीप प्रज्ज्वलन कर किया.

    बांकेलाल जी ने कहा कि संघ को विश्व का सबसे बड़ा संगठन बनाने में गुरू जी ने सबसे अधिक योगदान दिया. गुरूजी के संपर्क में जो भी आता था, वह धन्य हो जाता था. कार्यकर्ता निर्माण करने में गुरूजी की अनुपम कला थी. उन्होंने संगठन को वटवृक्ष बनाया, उनके मिशन को पूरा करने के लिए इदं राष्ट्राया स्वाहा इदं न मम के द्वारा देशयज्ञ की रचना करनी होगी. डॉ. एमसी गुप्ता ने रक्तदान के महत्व पर कहा कि रक्तदान महादान है. सभी को अपने जन्मदिन पर मानव के जीवन की रक्षा करने के लिए रक्तदान अवश्य करना चाहिए.

    सुबह से शुरू होकर शाम तक चले रक्तदान शिविर में 372 यूनिट, रक्तदान हुआ. शिविर में लो​कहितम ब्लक बैंक की टीम का सहयोग रहा. शिविर में छोटे बच्चों से लेकर, नवदंपत्तियों, युवाओं, महिलाओं व बुजुर्गो ने मानवता की सेवा हेतु रक्तदान किया. कार्यक्रम में पांच वर्षों लगातार रक्तदान कर रहे 25 जोड़ों को सम्मानित किया गया. साथ ही गुरूजी के जीवन पर आधारित एक लघु प्रदर्शनी भी माधव भवन में आकर्षण का केंद्र बनी.

    •  
    •  
    •  
    •  
    •  

    About The Author

    Number of Entries : 6857

    Leave a Comment

    हमारे न्यूज़लेटर के लिए साइन अप करें

    VSK Bharat नवीनतम समाचार के बारे में सूचित करने के लिए अभी सदस्यता लें

    Scroll to top