करंट टॉपिक्स

धर्मात्मा थीं डा सुरेन्द्र जैन की माता श्रीमती गोमती देवी जी

Spread the love

नई दिल्ली. विश्व हिंदू परिषद् दिल्ली ने विहिप के केन्द्रीय मंत्री डॉ. सुरेन्द्र जैन की माता श्रीमती गोमती देवी को भाव-भीनी श्रद्धांजलि अर्पित कर दिवंगत आत्मा को शांति की प्रार्थना की. 30 सितम्बर को गाजियाबाद के इंदिरापुरम में हुई उनकी श्रद्धांजलि सभा को सम्बोधित करते हुये विहिप के अंतरराष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री ओम प्रकाश सिंहल ने कहा कि वे सच्चे अर्थों में एक धर्मात्मा महिला थीं.

85 वर्षीय श्रीमती गोमती देवी पिछले कुछ दिनों से अस्वस्थ चल रही थीं. वे अपने पीछे दो पुत्रियां व तीन पुत्र छोड़ गईं हैं. शनिवार दोपहर 1:30 बजे को दिल्ली के गाजी पुर स्थित शमशान घाट में उनके अंतिम संस्कार के समय विहिप के अंतरराष्ट्रीय कार्याध्यक्ष डॉ. प्रवीण भाई तोगड़िया के अलावा श्री अशोक तिवारी, श्री मनोज वर्मा, श्री अशोक कपूर, श्री जगदीश अग्रवाल सहित अनेक संगठनों के पदाधिकारी उपस्थित थे. श्रीमती गोमती देवी को श्रद्धांजलि देने वालों में दिल्ली संत महा मण्डल के महामंत्री महंत नवल किशोर दास, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के श्री बजरंग लाल गुप्त व श्री जैन कुमार जैन, विहिप के केन्द्रीय मंत्री श्री कोटेश्वर शर्मा व श्री वाई राघवेल्लु, दिल्ली प्रान्त अध्यक्ष श्री रिखब चन्द जैन तथा महा मंत्री श्री राम कृष्ण श्रीवास्तव, राष्ट्रवादी शिवसेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री जय भगवान गोयल, भगिनी निवेदिता सेवा न्यास के महा मंत्री श्री महावीर प्रसाद, सहित अनेक धार्मिक, सामाजिक व सांस्कृतिक संगठनों के पदाधिकारी व परिजन उपस्थित थे.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.