करंट टॉपिक्स

नशे का प्रसार देश की एकता-अखण्डता के लिये भी घातक : इंद्रेश जी

Spread the love

Nashe ka prasar desh ki ekta akhandta ke liye bhi ghatak-Indresh jiबटाला (विसंकें). नशे की समस्या केवल समाज के स्वास्थ्य से ही नहीं बल्कि देश की एकता-अखण्डता के साथ भी जुड़ी है. वैसे तो नशा पूरे देश के लिये घातक है परंतु सीमावर्ती राज्यों में इसकी मारक क्षमता और भी घातक हो जाती है.

यह विचार राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की कार्यकारिणी के सदस्य श्री इंद्रेश कुमार ने डेरा बाबा नानक के ध्यानपुर गांव में सरहदी लोकसेवा समिति की ओर से कराये गये वालीबॉल टूर्नामेंट के फाइनल के उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए व्यक्त किये. उन्होंने युवाओं को नशे की लत छोड़ कर राष्ट्रनिर्माण के कार्यों में जुटने का आह्वान किया. उन्होंने सरहदी लोकसेवा समिति द्वारा ‘नशा मुक्त,खेल युक्त’ समाज बनाने के संकल्प की भी सराहना की. समारोह को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री श्री विजय सांपला ने कहा कि केंद्र सरकार सीमा की सुरक्षा के लिये पूरी तरह प्रतिबद्ध है और सीमा पर नशे की तस्करी को रोकने के लिये गंभीर प्रयास किए जा रहे हैं.

1

 

 

 

 

 

 

3

 

 

 

 

2

 

 

 

 

 

 

4

Leave a Reply

Your email address will not be published.