करंट टॉपिक्स

पर्यटक वीजा पर तबलीगी गतिविधि में शामिल होने वाले 960 विदेशी ब्लैकलिस्ट

Spread the love

हरियाणा. देश ही नहीं पूरा विश्व कोरोना जैसी महामारी की चपेट में है. कोरोना जैसी इस महामारी से देश के लोगों को बचाने के लिए पूरे देश में लॉकडाउन है और घरों से बाहर निकलने पर पाबंदी है. ऐसी संकट की घड़ी के दौरान भी कुछ विशेष समुदाय के लोग धर्म की आड़ लेकर सरेआम कानून को ठेंगा दिखाने से बाज नहीं आए. देश को कोरोना रूपी राक्षस के मुंह में धकेलने वाले ‘जमात’ के इन दुश्मनों पर कानून का पंच पड़ा तो इनकी अकल ठिकाने आ गई. पर्यटक वीजा पर तबलीगी गतिविधियों में लिप्त पाए जाने के कारण गृह मंत्रालय ने 960 विदेशियों को ब्लैक लिस्ट कर दिया है और साथ ही उनका भारतीय वीजा भी रद्द कर दिया है.

गृह मंत्रालय द्वारा तबलीगी जमात, निजामुद्दीन के मामले में दिल्ली पुलिस और अन्य सम्बंधित राज्यों के पुलिस महानिदेशकों को विदेशी अधिनियम, 1946 व आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 के प्रावधानों का उल्लंघन करने के लिए 960 विदेशियों के विरुद्ध आवश्यक कानूनी कार्यवाई करने के निर्देश दिए हैं. इसके साथ ही निजामुद्दीन में जमात से हरियाणा में आए 107 विदेशियों के पासपोर्ट जब्त कर इनके खिलाफ एफआईआर भी की गई है. हरियाणा में निजामुद्दीन मरकज से लौटे लोगों ने कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या में इजाफा कर दिया है. इनमें विदेशी भी शामिल हैं, जो अलग-अलग जिलों की मस्जिदों व घरों में मौजूद थे.

हरियाणा में विदेश से 107 लोग आए थे. इनके पासपोर्ट जब्त करके, इनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. वहीं निजामुद्दीन से करीब 1277 लोग हरियाणा लौटे हैं, इनकी पहचान की गई है. इनमें से 725 को क्वारंटाइन कर दिया गया है. निजामुद्दीन मरकज से निकले यह लोग एक तरह से देश में चलते फिरते मानव बम हैं. मरकज से निकल कर देश के अन्य राज्यों में घुसने के बाद से कोरोना के मरीजों की संख्या में भी एक दम से इजाफा होने लगा है. कोरोना वायरस से संक्रमित इन लोगों ने देश की जनता की जान आफत में डाल दी है. शासन व प्रशासन की मुश्किलें भी बढ़ गई हैं.

जनता के सामने उजागर हुआ असली चेहरा
निजामुद्दीन मरकज से निकाले गए इन लोगों ने इनकी सुरक्षा में तैनात पुलिस कर्मियों व चिकित्सकों पर थूक कर अपनी विकृत मानसिकता का परिचय दिया है. जो जवान अपनी जान हथेली पर रखकर इनकी सुरक्षा में तैनात थे, उनको सम्मान देने के स्थान पर, उनके ऊपर थूक कर उनका अपमान करने का काम किया. पुलिस के जवानों पर थूकने की इस घटना ने इनका असली चेहरा देश के सामने उजागर कर दिया.

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *